रांची : चंदा मांगने के विवाद में असिस्टेंट प्रोफेसर पर गर्म तेल उड़ेला, उनकी पत्नी का गला दबाया

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
दुकानदार से सरस्वती पूजा का चंदा वसूल रहे रांची कॉलेज पीजी हॉस्टल के छात्रों का दुस्साहस
रांची : सरस्वती पूजा का चंदा मांग रहे रांची काॅलेज के पीजी हॉस्टल के छात्रों ने गुरुवार को कॉलेज के ही पीजी इतिहास विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर आमिय आनंद और उनकी पत्नी पूनम कुमारी आनंद पर जानलेवा हमला कर दिया. आरोप है कि छात्रों ने प्रोफेसर और उनकी पत्नी पर गर्म तेल उड़ेल दिया. जब श्रीमती आनंद ने पुलिस को बुलाने की कोशिश की, तो आरोपियों ने उनका गला दबाकर मारने का प्रयास किया. लालपुर थाने में इस घटना की प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है, जिसमें सुजीत कुमार साही उर्फ रिंकू साही समेत दर्जन भर छात्रों को आरोपी बनाया गया है.
घटना शाम 4:30 बजे रांची कॉलेज रोड में स्टेट गेस्ट हाउस के सामने स्थित एक चाय-पकौड़ी की दुकान के सामने हुई है. घटना की सूचना लालपुर थाने को दी गयी. तुरंत मौके पर पीसीआर वैन पहुंचा और सीबीआइ मोड़ के पास पुलिस ने छात्रों को पकड़ने का प्रयास किया.
इस पर आरोपी छात्र पुलिस से ही उलझ गये और उनके साथ भी मारपीट की. इधर, गर्म तेल से झुलसे प्रो आमिय आनंद जमीन पर पड़े तड़पते रहे. बाद में पुलिस की मदद से प्रोफेसर को तुरंत सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है. जानकारी मिलने पर सीनियर प्रोफेसर राजकुमार, असिस्टेंट प्रोफेसर असीत, विशाल, दिग्विजय सिंह सहित अन्य लोग प्रोफेसर दंपती का हालचाल जानने के लिए सदर अस्पताल पहुंचे़
यह है मामला
वर्द्धमान कंपाउंड निवासी असिस्टेंट प्रो आमिय आनंद ने बताया कि वह अपनी पत्नी प्रो पूनम कुमारी आनंद के साथ कॉलेज से घर लौट रहे थे. स्टेट गेस्ट हाउस के पास लगी दुकान पर वे पकौड़े खाने के लिए रुके थे. इसी बीच एक स्कार्पियो और एक एक्सयूवी पर सुजीत कुमार साही सहित दर्जन भर छात्र वहां पहुंचे और पकौड़े बेच रहे आदिवासी दंपति से 1001 रुपये सरस्वती पूजा का चंदा मांगने लगे. दुकानदार 250 रुपये देने का तैयार था.
इस पर चंदा मांग रहे युवक गुस्सा हो गये और चूल्हे पर रखी कड़ाही उठाकर फेंक दी. कड़ाही का खौलता हुआ तेल, प्रो आमिय आनंद पर जा गिरा. जब उन्होंने इसका विरोध किया, तो छात्र गुस्सा हो गये और उनके साथ मारपीट करने लगे. जब उनकी पत्नी पुलिस को फोन करने लगी, तो छात्रों ने उन्हें पकड़ लिया और गंदी-गंदी गालियां देते हुए गर्दन पकड़ कर घसीटने लगे.
पूनम कुमारी ने बताया कि ऐसा लगा कि वे लोग घसीट कर मुझे ले जायेंगे. उन लोगों ने कहा कि फोन करो, एसपी क्या सीएम भी हमारा कुछ नहीं बिगाड़ सकता. बाद में लालपुर थाना प्रभारी रमोद कुमार सिंह भी पहुंचे और मामले की जांच की.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें