1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. kodarma
  5. protest against construction of transmission tower in nawadih of koderma a ryot attempted suicide smj

कोडरमा के नावाडीह में ट्रांसमिशन टावर निर्माण का विरोध तेज, एक रैयत ने किया आत्मदाह का प्रयास

कोडरमा जिला के नावाडीह में ट्रांसमिशन टावर निर्माण को लेकर रैयतों का विरोध तेज हाे गया है. इसके विरोध में सोमवार को एक रैयत ने आत्मदाह का प्रयास किया, लेकिन पुलिस प्रशासन की तत्परता से उसे बचा लिया गया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: ट्रांसमिशन टावर के विरोध में रैयत ने आत्मदाह का किया प्रयास. पुलिस ने उसे बचाया.
Jharkhand news: ट्रांसमिशन टावर के विरोध में रैयत ने आत्मदाह का किया प्रयास. पुलिस ने उसे बचाया.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: कोडरमा जिला अंतर्गत बांझेडीह से नावाडीह रेलवे स्टेशन तक होने वाले 132 केबीए के ट्रांसमिशन विद्युतीकरण कार्य का विरोध तेज हो गया है. इसके तहत नावाडीह में बनाये जाने वाले ट्रांसमिशन टावर निर्माण को लेकर अधिकारियों को सोमवार को रैयतों के काफी विरोध का सामना करना पड़ा. इस दौरान एक रैयत द्वारा आत्मदाह की कोशिश की गयी, लेकिन समय रहते पुलिस ने उसे बचा लिया.

क्या है पूरा मामला

रैयत विकास कुमार सुमन, छोटेलाल साव, पिंटू कुमार साव और हीरालाल गुप्ता उक्त जगह पर टॉवर ना लगाकर दूसरी जगह लगाने की मांग कर रहे हैं. टॉवर निर्माण कार्य के लिए जैसे ही कंपनी के साथ प्रसासन के लोग स्थल पर पहुंचे और निर्माण कार्य शुरू किया. इसी दौरान रैयतों ने प्रशासन से टॉवर का निर्माण वी आकार में ना कर सीधा करने की बात की. इसके बावजूद सीनियर अधिकारियों के आदेश का पालन करते हुए कार्य को जारी रखा गया. इसी दौरान रैयत की ओर से विकास कुमार सुमन ने अचानक बाइक की डिक्की से भरा हुआ पेट्रोल का बोतल निकाल लिया और अपने शरीर पर गिराते हुए आत्मदाह की कोशिश की. हालांकि, पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए आत्मदाह करने से रैयत को रोका.

मौके पर पहुंचे सीओ

इस घटना की जानकारी तत्काल सीनियर अधिकारियों को दी गयी. सीओ रामसुमन प्रसाद भी घटनास्थल पर पहुंचे और रैयतों को समझा-बुझा कर दोबारा कार्य को शुरू कराया. बता दें कि इस टावर निर्माण को लेकर जिला प्रशासन की ओर से कार्य कराने के लिए मजिस्ट्रेट के रूप में जूनियर इंजीनियर जागेश्वर उरांव और पुलिस बल को लगाया गया था़

कार्य रोके जाने को लेकर कंपनी ने की थी शिकायत

बताया जाता है कि निर्माण कार्य करा रही मेसर्स शिव शक्ति इंटरप्राइजेज द्वारा कार्य रोके जाने को लेकर डीसी को लिखित सूचना दी थी. डीसी के निर्देश पर एसडीओ ने कार्यस्थल पर मजिस्ट्रेट नियुक्त कर नवलशाही और मराकच्चो के अलावा जिला पुलिस बल के जवानों के सहयोग से कार्य शुरू कराने का निर्देश दिया था.

रैयतों का विरोध

कंपनी के सुपरवाइजर अमरजीत सिंह ने बताया कि उक्त स्थल पर निर्माण कार्य शुरू करने से पहले भूमि मालिक को मुआवजे के लिए जमीन के दस्तावेज की मांग की गई थी, लेकिन वे टॉवर प्वाइंट का वी आकार के बजाय सीधे रूप से निर्माण की जिद पर अड़े थे. इसी बात को लेकर रैयत काम नहीं होने दे रहे थे. मौके पर मरकच्चो थाना प्रभारी सुमित कुमार साव, नवलशाही थाना प्रभारी पंचम तिग्गा, रेलवे विभाग से राजीव कुमार, मुकेश कुमार, शम्भू सिंह, चितरंजन कुमार, एसआई कुंदन कुमार आदि मौजूद थे.

Posted By: Samir Ranjan.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें