1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. kodarma
  5. number of corona infected increased in chechai village of koderma curfew was declared by containment zone

कोडरमा के चेचाई गांव में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ी, कंटेनमेंट जोन घोषित कर लगा कर्फ्यू

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
चेचाई गांव को सैनिटाइज करते कर्मी.
चेचाई गांव को सैनिटाइज करते कर्मी.
फोटो : प्रभात खबर.

कोडरमा : जिले में कोरोना संक्रमितों की लगातार बढ़ रही संख्या के साथ ही जिला पुलिस प्रशासन व स्वास्थ्य महकमे की चिंता भी बढ़ रही है. यही नहीं, कोरेंटिन किये गये लोगों की लापरवाही की वजह से अन्य के संक्रमित होने का खतरा भी उत्पन्न हो रहा है. 4 जून की देर रात सामने आये कोरोना पॉजिटिव के कुल 13 मामले में से 9 लोग सिर्फ चेचाई छतरबर के रहने वाले हैं. ये लोग स्थानीय स्टार स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान के बने भवन में कोरेंटिन किये गये थे, पर इसमें से एक संक्रमित बच्ची के अपने घर जाने व एक अन्य संदिग्ध के झुमरी तिलैया बाजार में जाकर खरीदारी करने की बात सामने आने से प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया है.

प्रशासन ने एहतियात के तौर पर जहां चेचाई गांव को कंटेनमेंट जोन घोषित करते हुए कर्फ्यू लगा दिया है, वहीं इन लोगों के सीधे संपर्क में आये परिजनों व अन्य को कोरेंटिन करते हुए सैंपल लेने की तैयारी में जुट गयी है. यही नहीं, चेचाई गांव में शुक्रवार को सीओ अशोक राम, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डाॅ रंजीत कुमार व अन्य की अगुआई में सैनेटाइजेशन का कार्य किया गया.

पूरे गांव में माइक के जरिये प्रचार किया गया है कि किसी को भी इमरजेंसी स्थिति को छोड़कर बाहर निकलना मना है. इसके अलावा बाहरी व्यक्ति गांव में प्रवेश नहीं कर सकता है. इधर, एक संदिग्ध के द्वारा झुमरी तिलैया के झंडा चौक के पास ओवरब्रिज वाली गली में संचालित एक घड़ी दुकान में मोबाइल खरीदने की बात सामने आने पर प्रशासन ने इस दुकान के संचालक व तीन कर्मियों को होम कोरेंटिन कर दिया है. दुकान को भी एहतियात के तौर पर बंद करा दिया गया है.

एक किलोमीटर क्षेत्र बना कंटेनमेंट जोन

प्रशासन ने आरसेटी भवन को सेंटर मानते हुए चेचाई गांव के एक किलोमीटर क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है. लोगों की आवाजाही पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के लिए गांव के अलग-अलग छोर पर 7-8 जगह बैरेकेडिंग की गयी है. साथ ही जेजे कॉलेज के पास मुख्य बैरियर लगाया गया है. वहीं 3 किलोमीटर क्षेत्र को बफर जोन बनाया गया है. इस जोन में फरेंदा, छतरबर, कानूनगो बिगहा, जेजे कालेज क्षेत्र को शामिल किया गया है. गांव में दंडाधिकारी व पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गयी है.

अधिकारियों ने बताया कि गांव के लोगों को खाने-पीने के सामान व अन्य किसी भी तरह की परेशानी न हो, इसके लिए दुकान चिह्नित किये गये हैं. सामान की होम डिलीवरी करायी जाएगी. वहीं, चिकित्सा पदाधिकारी ने बताया कि चेचाई में अब एक्टिव सर्विलांस होगा. घर- घर जाकर स्वास्थ्य कर्मी लोगों के स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी लेंगे. किसी में भी कोरोना का लक्षण मिलने पर उसे आइसोलेट किया जायेगा. गांव में रैपिड रिस्पांस टीम को भी तैनात किया गया है.

सेंटर में रहे 11 लोगों का दोबारा लिया जायेगा सैंपल

जानकारी सामने आयी है कि आरसेटी के कोरेंटिन सेंटर में दूसरे प्रदेश से आये करीब 20 लोगों को रखा गया था, जिनका सैंपल 2 जून को लेते हुए 3 जून को जांच के लिए रिम्स भेजा गया था. 4 जून की देर रात आयी रिपोर्ट में 20 में से 9 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी. इसमें तीन नाबालिग भी शामिल हैं. कोरोना संक्रमण से जुड़ी हर Hindi News से अपडेट रहने के लिए बने रहें हमारे साथ.

पॉजिटिव मिले 8 लोगों की ट्रेवल हिस्ट्री मुंबई की है, जबकि एक युवक तेलांगना से आया है. सेंटर में रह रहे 11 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आयी है, पर अब बदली हुई स्थिति में इनका दोबारा सैंपल लिया जायेगा. इसके लिए इन्हें इस सेंटर से आइसोलेशन में रखा गया है. वहीं दूसरी ओर, सेंटर से घर जाने वाली बच्ची के पॉजिटिव आने के बाद उसके परिवार के 12 सदस्यों को आइसोलेट किया गया है.

Posted By : Samir ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें