कोडरमा-हजारीबाग-रांची रेलवे परियोजना के लिए पैसे की कमी, 800 करोड़ की जरूरत

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रेलवे को 400 करोड़ और राज्य सरकार को 400 करोड़ देना हैकेंद्रीय रेलवे बजट में मात्र 60 करोड़ का प्रावधानहजारीबाग. कोडरमा-हजारीबाग-रांची रेलवे लाइन परियोजना को अब पूरा करने में राशि की दिक्कत आ रही है. परियोजना को पूरा होने में दो वर्ष और लगेंगे. परियोजना पर कार्य कराने के लिए पैसा खत्म हो गया है. कोडरमा से हजारीबाग के बीच कार्य करनेवाले ठेकेदारों का 12 करोड़ रुपये, हजारीबाग से चरही के बीच काम करनेवाले ठेकेदारों के पांच करोड़ रुपये और चरही से बरकाकाना रांची के बीच काम करनेवाले ठेकेदारों के 20 करोड़ से अधिक रुपये बकाये हैं. पिछले तीन माह से रेलवे विभाग ठेकेदारों को पैसा भुगतान नहीं कर पा रहा है. मात्र 60 करोड़ रुपये केंद्र से उपलब्ध हुआ है. यह काफी नहीं है. इस परियोजना को पूरा करने के लिए अभी 800 करोड़ की आवश्यकता है, जिसमें चार सौ करोड़ रेलवे विभाग और चार सौ करोड़ राज्य सरकार देगी. मोदी सरकार मंत्रिमंडल के रेलवे बजट में इस परियोजना के लिए मात्र 60 करोड़ रुपये ही स्वीकृत हुए हंै. राज्य सरकार से भी इस वर्ष 66 करोड़ रुपये मिलने हंै. शेष राशि इस परियोजना को पूरा करने के लिए रेलवे व राज्य सरकार से कब मिलेगी, यह स्पष्ट नहीं है. फिलहाल पैसा के अभाव में रेलवे परियोजना का काम ठप होने की स्थिति में पहुंच गया है. वर्ष 2000 में शुरू हुई इस परियोजना का 14 वर्ष हो गया है. परियोजना 1022 करोड़ में पूरा होनी थी, जो बढ़ कर 3200 करोड़ रुपया हो गया है. केंद्रीय रेलवे मंत्रिमंडल से 400 करोड़ रुपये का अनुमोदन रेलवे बजट में नहीं हुआ है. इस पर केंद्र सरकार को ध्यान देना होगा, ताकि रेलवे बजट में मात्र 60 करोड़ रुपये के बदले और राशि उपलब्ध कराने का प्रावधान हो सके. तभी रेलवे का काम समय पर पूरा हो पायेगा. कोडरमा से हजारीबाग के बीच रेलवे का काम पूरा हो गया है. सीआरएस अगस्त माह में पूरा हो जायेगा. लेकिन हजारीबाग से चरही और चरही-बरकाकाना-रांची तक रेलवे का काम पूरा होने पर संशय बरकरार है. राशि रेलवे परियोजना को उपलब्ध नहीं हुई, तो दो साल से भी अधिक का समय इसे पूरा होने में लग सकता है. नोट : बॉक्स में लेना है* कोडरमा-हजारीबाग- रांची रेलवे लाइन का काम वर्ष 2000 मेें शुरू हुआ. * कोडरमा-हजारीबाग-रांची रेलवे लाइन 204.79 किमी. * कोडरमा से हजारीबाग 79.79 किमी रेलवे लाइन.* हजारीबाग से चरही 31 किमी.* चरही-बरकाकाना-हजारीबाग 94 किमी. * वर्ष 1998-99 में कोडरमा से रांची तक परियोजना लागत 1022 करोड़ थी, अब बढ़ कर 3200 करोड़ हो गयी है. * हजारीबाग से कोडरमा के बीच रेलवे पटरी, ब्रिज और स्टेशन बन कर तैयार है. * हजारीबाग- चरही के बीच 31 किमी में से 11 किमी पटरी बिछना बाकी है.* चरही-बरकाकाना-रांची के बीच 16 बड़ा पुल और 133 छोटा पुल का काम पूरा होना है. * चरही से रांची के बीच लगभग 45 किमी पटरी बिछना बाकी है. .
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें