1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. birsa munda birth anniversary pm modi laid the foundation stone of 2 eklavya model school buildings in gumla online said tribal community has important contribution in india smj

PM मोदी ने गुमला के 2 एकलव्य मॉडल स्कूल भवन का किया ऑनलाइन शिलान्यास, बोले- जनजातीय समुदाय का है अहम योगदान

बिरसा मुंडा की जयंती पर पीएम मोदी ने गुमला के भरनो व सिसई में एकलव्य मॉडल आवासीय स्कूल भवन का ऑनलाइन शिलान्यास किया. इस मौके पर उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति को मजबूत करने में जनजातीय समाज का महत्वपूर्ण योगदान है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
गुमला के 2 एकलव्य मॉडल आवासीय स्कूल भवन का पीएम मोदी ने किया ऑनलाइन शिलान्यास.
गुमला के 2 एकलव्य मॉडल आवासीय स्कूल भवन का पीएम मोदी ने किया ऑनलाइन शिलान्यास.
ट्विटर.

Birsa Munda Birth Anniversary (सुनील/प्रफुल, भरनो/सिसई, गुमला) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने सोमवार को भरनो व सिसई प्रखंड में 2 एकलव्य मॉडल आवासीय स्कूल भवन का ऑनलाइन शिलान्यास किया. भरनो के सुकुरहुटु गांव व सिसई के कुलकुपी महुआटोली गांव में स्कूल का निर्माण हो रहा है.

गुमला के 2 एकलव्य मॉडल आवासीय स्कूल भवन शिलान्यास कार्यक्रम में सिसई विधायक जिग्गा सुसारन होरो व अन्य.
गुमला के 2 एकलव्य मॉडल आवासीय स्कूल भवन शिलान्यास कार्यक्रम में सिसई विधायक जिग्गा सुसारन होरो व अन्य.
प्रभात खबर.

सिसई : 10 एकड़ भूखंड में बनेगा स्कूल का भवन

सिसई प्रखंड के पुसो पंचायत स्थित कुलकुपी महुआटोली गांव में सोमवार को जनजातीय गौरव दिवस के अवसर पर 10 एकड़ के क्षेत्रफल में 20 करोड़ 10 लाख की लागत से बनने वाले एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय भवन का पीएम नरेंद्र मोदी ने ऑनलाइन शिलान्यास किया. ऑनलाइन भाषण में पीएम ने कहा कि आज पूरे देश के जनजातीय समाज के लिए बड़ा दिन है. आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर जनजातीय गौरव दिवस मनाकर पहली बार स्वतंत्रता आंदोलन एवं राष्ट्र निर्माण में योगदान देने वाले महापुरुषों की गाथा को गौरव के साथ याद कर सम्मान दिया जा रहा है.

पीएम मोदी ने कहा कि भारतीय संस्कृति को मजबूत करने में जनजातीय समाज का महत्वपूर्ण योगदान है. लेकिन, आजादी के बाद दशकों तक देश में शासन करने वाले राजनीतिक पार्टियों के लोग आदिवासियों का दोहन कर आर्थिक, शैक्षणिक विकास एवं हितों को नजरअंदाज कर असहाय छोड़ने का काम किया.

उन्होंने कहा कि गरीब आदिवासियों के विकास के नाम पर केवल वोट मांगने का काम किया है. जब से केंद्र में भाजपा एवं सहयोगी की सरकार बनी है, तब से देश के आदिवासियों के विकास के लिए लगातार काम किया जा रहा हैं. जनजातीय हितों को प्राथमिकी देते हुए पक्का आवास, मुफ्त राशन, बिजली, पानी, शौचालय, आयुष्मान कार्ड, शिक्षा सहित सभी क्षेत्रों में तेजी से कार्य किया जा रहा है. पूरे देश में आदिवासियों को उच्च शिक्षा एवं रिसर्च से जोड़ने के लिए 750 एकलव्य आवासीय विद्यालय खोलने का लक्ष्य है. आज 50 विद्यालय का शिलान्यास किया.

पीएम मोदी ने अपने 7 साल के कार्यकाल की उपलब्धियों को गिनाते हुए विपक्षियों पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि आदिवासियो की हो रही विकास से कुछ लोगों चिंतित हैं और भोले- भाले आदिवासी समाज के लोगों को दिग्भ्रमित करने का काम कर रहा है. भगवान राम के बिना आदिवासियों का विकास व उत्थान की कल्पना नहीं की जा सकती है. प्रभु राम के वनवास कालखंड में जनजातीय वनवासियो ने ही सहयोग किया और प्रभु राम के सानिध्य में रहें.

वहीं, विधायक जिग्गा सुसारन होरो ने कहा कि गुमला व लोहरदगा के सुदूरवर्ती गांव कुलकुपी महुआटोली जैसा जगह में आदिवासी बच्चों के नि:शुल्क उच्च शिक्षा देने के लिए आवासीय विद्यालय का खुलना गौरव की बात है. समाज का विकास व उत्थान शिक्षा से ही संभव है.

मौके पर निदेशक इंदू गुप्ता, जिप अध्यक्ष किरण बाड़ा, मुख्य अभियंता आनंद कुमार केशरी, जीएम रमेश शर्मा, सीओ अरुणिमा एक्का, जिप सदस्य सोमा उरांव, जेइ अनिल कुमार, रामप्रकाश भगत, मुखिया सुफल उरांव, लक्ष्मी नारायण यादव, सुमित कुमार महली, प्रवीण ओहदार, सुखलाल राय, सतीश मिश्रा, देवमोहन साहू, बालचरंण साहू, सेन्हा व पुसो थाना के अधिकारी व सशस्त्र बल के जवान मौजूद थे.

भरनो : 15 एकड़ जमीन जमीन पर बन रहा स्कूल

भरनो प्रखंड के सुकुरहुटु गांव में सोमवार को एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय भवन का शिलान्यास हुआ. मुख्य अतिथि विधायक जिग्गा सुसारन होरो की उपस्थिति में पीएम नरेंद्र मोदी व विशिष्ट अतिथि जनजातीय मामले के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने वर्चुअल शिलान्यास किया. विद्यालय का निर्माण 15 एकड़ जमीन पर 20 करोड़ की लागत से ब्रीज एवं रूफ कंपनी द्वारा कराया जा रहा है.

इस मौके पर मुख्य अभियंता आनदेव केशरी ने कहा कि जनजातीय समाज को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से केंद्र सरकार द्वारा यहां एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय बनाया जा रहा है. विद्यालय के साथ साथ छात्रावास, अलग- अलग खेल मैदान बनाया जायेगा. इस विद्यालय में 240-240 जनजातीय समाज के छात्र- छात्राएं रहकर 12वीं तक नि:शुल्क शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे. भगवान बिरसा मुंडा का सपना था कि समाज के लोगों को उच्च शिक्षा प्राप्त हो. आज उनका सपना पूरा होने जा रहा है. केंद्र सरकार व राज्य सरकार के प्रयास से झारखंड में ऐसे 69 स्कूल बनाये जा रहे हैं. इस विद्यालय के लिए राज्य सरकार ने जमीन उपलब्ध कराया है.

विधायक जिग्गा सुसारण होरो ने कहा कि शिक्षा से ही समाज का विकास संभव है. आदिवासी समाज के लिए आज का दिन महत्वपूर्ण है. एकलव्य विद्यालय बनने से क्षेत्र के आदिवासी समाज के गरीब बच्चे नि:शुल्क शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे. शिक्षा के साथ- साथ खेल में भी आगे बढ़ेंगे. उन्होंने लोगो से अपील करते हुए कहा कि नशापान से दूर रहें और अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा प्रदान करें. सरकार ने आपके बच्चों के लिए तरक्की के द्वार खोल दिया है. यह विद्यालय जनजातीय समाज के विकास के लिए बनाया जा रहा है. निश्चित रूप से यहां के लोग लाभान्वित होंगे.

कार्यक्रम में गांव के पहान, ग्राम प्रदान एवं टाना भगतो को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया. मौके पर कंपनी के जीएम आरके शर्मा, डीजीएम भूपेन कुमार सिंह, जिला कल्याण पदाधिकारी अजय जेराल्ड मिंज, बीडीओ तेज कुमार हस्सा, सीओ संजीव कुमार सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि, टाना भगत एवं ग्रामीण मौजूद थे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें