1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. garhwa
  5. garhwa news poor aanti devi forced to take refuge in school with her nine daughters dewar has damaged the house and made her homeless husband has gone out to earn srn

अपनी नौ बेटियों के साथ स्कूल में शरण लेने को मजबूर हुई गरीब आंति देवी, देवर ने घर क्षतिग्रस्त कर बेघर कर दिया है

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
अपनी नौ बेटियों के साथ स्कूल में शरण लेने को मजबूर हुई गरीब आंति देवी
अपनी नौ बेटियों के साथ स्कूल में शरण लेने को मजबूर हुई गरीब आंति देवी
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Jharkhand News, Garhwa News गढ़वा : बरडीहा थाना क्षेत्र के नावाडीह गांव में मानवीय संवेदना को तार-तार करने वाली घटना सामने आयी है. जहां नौ बच्चियों की मां अपने ही देवर द्वारा आशियाना उजाड़े दिये जाने से बेघर होकर अपनी अल्पव्यस्क नन्हीं बच्चियों के साथ गांव के विद्यालय में शरण लेने को मजबूर है. उक्त महिला पुलिस-प्रशासन के समक्ष भी न्याय की गुहार लगा चुकी है. लेकिन अब तक उसकी सुध किसी ने नहीं ली है. विदित हो कि बिशुनपुरा प्रखंड की सीमा से सटे बरडीहा थाना क्षेत्र के नवाडीह गांव निवासी संजय सिंह के पत्नी आंति देवी गत 18 मई से अपने नौ बेटियों को लेकर दर-दर भटक रही है.

आंति देवी का देवर अजय सिंह ने उसे यह कहते हुए घर से निकाल दिया कि वह उसका घर है़ यही नहीं आंति के हिस्से की कच्चे मकान को पूरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया. जबकि इसका पति संजय सिंह बाहर कमाने गया है. देवर द्वारा कच्चा मकान क्षतिग्रस्त कर दिये जाने के बाद आंति को प्रकृति का प्रकोप भी झेलना पड़ा. पिछले दिनों हुई बारिश के बाद पानी मकान में घुस गया, जिससे घर मे रखी खाद्य सामग्री व अन्य सामान बरबाद हो गये. आंति देवी ने प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसका देवर पूर्व में ही शराब पीकर गाली गलौज करने और घर में आग लगाने की धमकी देता था. जिसे लेकर बरडीहा थाना को सूचना भी दी गयी थी. पर प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की.

शराब भट्ठी में काम करता है देवर :

प्रशासन के चुप रहने सेे उसके देवर अजय सिंह का मनोबल बढ़ता चला गया. अजय सिंह ने 18 मई को मकान क्षतिग्रस्त करते हुए महिला को घर से बाहर निकाल दिया. पीड़ित महिला ने कहा कि आज मैं अपने बेटियों के साथ दर-दर की ठोकर खा रही हूं और विद्यालय में शरण लेने को मजबूर हूं. उसने कहा कि उसकी बड़ी बेटी लगभग 17 वर्ष की है.

उसे लेकर उसे खुले विद्यालय में रहना पड़ रहा है. किसी अनहोनी को लेकर डर सताता रहता है. उसने बताया कि उसका देवर अजय सिंह गांव में ही एक शराब भट्ठी में काम करता है. वह रोज शाम को पीकर आता है तथा गाली गलौज करने लगता है. आंति ने कहा कि उसने सेमरी गांव के चौकीदार सिसुल पासवान को सारी बात बतायी और क्षतिग्रस्त मकान भी दिखाया लेकिन प्रशासन की ओर से कोई सहयोग नहीं किया जा रहा है. उधर हमारा पूरा परिवार डर व भय के साथ रात गुजारने को मजबूर है. मौके पर मालती देवी, रेहाना वीवी, सिमा देवी, निर्गुण सिंह, वालेश्वर साह, लियाकत अंसारी, उदय सिंह, प्रताप सिंह, अशोक सिंह व सतेंद्र सिंह सहित कई लोग मौजूद थे. इन्होंने पीड़ित महिला की बात का समर्थन किया है.

पहले जानकारी नहीं थी, अब मिली है, कार्रवाई होगी : थाना प्रभारी

इस बारे में पूछे जाने पर बरडीहा के थाना प्रभारी पंकज कुमार ने बताया कि इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं मिली है. अभी जानकारी हुई है, तत्काल कार्रवाई की जा रही है. उन्होंने कहा कि पूर्व में महिला ने उसे धमकाने को लेकर आवेदन दिया था, जिस पर निरोधात्मक कार्यवायी की गयी है.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें