1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. jharkhand crime news in dhanbad at the point of pistol the couple was held hostage robbery threats to kill grj

Jharkhand Crime News : धनबाद में पिस्तौल की नोंक पर दंपती को बंधक बनाकर डकैती, जान से मारने की धमकी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand Crime News : पिस्तौल की नोंक पर दंपती को बंधक बनाकर डकैती
Jharkhand Crime News : पिस्तौल की नोंक पर दंपती को बंधक बनाकर डकैती
प्रभात खबर

Jharkhand Crime News, Dhanbad News, गोमो न्यूज : झारखंड के धनबाद जिले के तोपचांची थाना क्षेत्र के खेसमी गांव में अजीत मंडल के घर रविवार की रात हथियार से लैस डकैतों ने एक घंटे तक तांडव मचाया. पिस्तौल की नोंक पर पति-पत्नी को बंधक बनाकर करीब दो रुपये के जेवरात समेत नकद लूट लिए. इस दौरान इसकी जानकारी देने पर जान से मारने की भी धमकी दी. अजीत मंडल ने इस संबंध में स्थानीय थाना में लिखित शिकायत की है.

पीड़ित अजीत मंडल ने बताया कि वे अपनी पत्नी सुचित्रा मंडल के साथ रविवार की रात दस बजे खाना खाने के बाद अपने कमरे में सोने चले गए. डकैतों ने रविवार की रात करीब दो बजे मेन गेट का दरवाजा धक्का मारकर तोड़ दिया. चैनल गेट में ताला नहीं लगा था. जिससे डकैत आसानी से घर में घुस गये. डकैतों ने सबसे पहले अजीत मंडल को पिस्तौल तथा छुरे की नोंक पर बंधक बना लिया.

अजीत का दोनों हाथ पीछे कर बांध दिया और रजाई के कवर से ढंक दिया. अजीत की गर्दन पर एक डकैत पिस्तौल तथा दूसरा पीठ पर छुरा सटाए था. डकैतों ने अजीत को बंधक बनाने के बाद पत्नी सुचित्रा मंडल के हाथ को पीछे बांधकर अपने कब्जे में ले लिया. जब वह बिना चश्मा के कुछ देखने में असमर्थता जतायी, तो डकैतों ने उसे चश्मा खोज कर दिया.

घर में रखे दो अलमीरा बक्सा तथा अन्य सामानों को तितर-बितर कर दिया. डकैत जेवरात, तीस हजार रुपये नगद तथा इंडक्शन चूल्हा अपने साथ लेकर चले गये. सभी सामानों का अनुमानित मूल्य करीब दो लाख रुपये बताया जा रहा है. जेवरात सुचित्रा मंडल तथा उनकी दोनों बेटियों के भी थे. सुचित्रा मंडल ने बताया कि 10 से 12 की संख्या में डकैत थे. सभी के पास हथियार था. हिन्दी तथा बंगला भाषा बोल रहे थे.

डकैतों ने घर में घुसते ही मोबाइल अपने कब्जे में ले लिया तथा जाने के दौरान मोबाइल को घर के परिसर में फेंक कर चले गये. कुछ डकैत आपस में गाली गलौज भी कर रहे थे. डकैतों ने भागने के दौरान अजीत मंडल को धमकी दी कि अगर किसी को तुरंत सूचना दी तो गोली मार देंगे. भय से अजीत तथा उनकी पत्नी घर में चुपचाप बैठे रहे. वह सुबह चार बजे अपने भाई और पुलिस को घटना की जानकारी दी. अजीत टावर लाइन में टेक्नीशियन का कार्य करते हैं.

अजीत के पड़ोसी सेवानिवृत्त रेलकर्मी ध्रुव चंद्र मंडल ने बताया कि 14 अगस्त 2017 को उनके घर में डकैती हुई थी. मेरे घर तथा अजीत के घर में एक ही अंदाज में डकैती की घटना को अंजाम दिया गया है. तोपचांची थाना में मामला दर्ज हुआ. खोजी कुत्ता मंगवाया गया, लेकिन आज तक कोई सकारात्मक परिणाम नहीं निकला.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें