1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. police searched more than 100 cctv cameras wires related to muzaffarpur and chhapra rdy

पुलिस ने 100 से अधिक सीसीटीवी कैमरों को खंगाला, मुजफ्फरपुर व छपरा से जुड़े तार, चार को पुलिस ने उठाया

Bihar News अपराधियों को सुनसान जगह की तलाश थी और वह उदय चौक पर मिला, इसी के बाद पीछे से दो बाइक को भी इशारा कर बुला लिया गया और पूर्व मंत्री वीणा शाही के स्टाफ से 41.41 लाख कैश लूट फरार हो गये. पुलिस ने छपरा से चार लोगों को हिरासत में लिया है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
पुलिस ने 100 से अधिक सीसीटीवी कैमरों को खंगाला
पुलिस ने 100 से अधिक सीसीटीवी कैमरों को खंगाला
Symbolic Pic

Bihar News: पटना के पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र स्थित अटल पथ पर सोमवार को दिनदहाड़े 41.41 लाख कैश लूट मामले में पटना पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में अपराधियों की सारी गतिविधि दिख गयी है. जानकारी के अनुसार तीन बाइक पर सवार छह अपराधी पूर्व मंत्री वीणा शाही के घर के पास से ही रेकी कर रहे थे. सीसीटीवी फुटेज में दिखा है कि दो बाइक कार के निकलते ही सर्विसलेन के पास आकर खड़ी हो गयी और एक बाइक कार के पीछे जाने लगी.

अपराधियों को सुनसान जगह की तलाश थी और वह उदय चौक पर मिला, इसी के बाद पीछे से दो बाइक को भी इशारा कर बुला लिया गया और पूर्व मंत्री वीणा शाही के स्टाफ से 41.41 लाख कैश लूट फरार हो गये. पुलिस ने छपरा से चार लोगों को हिरासत में लिया है. पुलिस को दो जगहों पर पल्सर बाइक पर दो और अपाचे पर चार संदिग्ध बैग लेकर जाते दिखे है. पुनाइचक के पास से अलग हो गये है. पुलिस की दो टीम मुजफ्फरपुर और वैशाली भी पहुंची है.

पुलिस की दो टीमें मुजफ्फरपुर और वैशाली भी पहुंचीं

मंगलवार को एफएसएल की टीम पाटलिपुत्र थाना फिंगरप्रिंट लेने पहुंची. एफएसएल उस कार से फिंगर प्रिंट का नमूना लिया, जिसमें सवार स्टाफ से लूट हुई थी. इस मामले में पुलिस तीन स्टाफ सहित चार से लगातार पूछताछ कर रही है. हालांकि, कुछ खास क्लू नहीं मिला है. मंगलवार को पाटलिपुत्र थाने में सिटी एसपी सेंट्रल अम्बरीष राहुल, कोतवाली डीएसपी, बुद्धा कॉलोनी थानाध्यक्ष ने छानबीन की. पुलिस शास्त्रीनगर के पुनाईचक, राजीव नगर, पाटलिपुत्र, दानापुर, खगौल, फुलवारीशरीफ तक 100 से अधिक कैमरे को खंगाल चुकी है.

एक स्टाफ आर्म्स एक्ट में जा चुका है जेल

मंगलवार की देर शाम तक स्टाफ को पाटलिपुत्र थाने में बैठाया गया था. पूरी रात तीनों से पूछताछ की गयी. तीनों के मोबाइल को पुलिस ने जब्त कर लिया है. हिरासत में लिये गये स्टाफ का आपराधिक इतिहास मिला है, जो जक्कनपुर थाने से 2018 में आर्म्स एक्ट में जेल जा चुका है. उसके पास से नागालैंड का हथियार मिला था. सभी के मोबाइल के कॉल डिटेल पुलिस खंगाल रही है.

सूत्रों के अनुसार यह पूरी प्लानिंग दीपावली या छठ के दौरान रची गयी और इसके बाद घटना को अंजाम दिया गया है. पुलिस को यह शक है कि किसी अपने लोगों ने ही इस घटना में लाइनर का काम किया है. 41.41 लाख रुपये में ट्रांसपोर्ट, एजेंसी और हाजीपुर स्थिति पेट्रोल पंप का कलेक्शन था. ऐसे में पुलिस की एक टीम हाजीपुर भी गयी है.

छपरा व मुजफ्फरपुर की ओर भाग गये अपराधी, सेल की टीम कर रही छापेमारी

पुलिस सूत्रों के अनुसार लूट की वारदात को अंजाम देने वाले अपराधी छपरा और मुजफ्फरपुर के रहने वाले हैं. इस पूरी घटना की प्लानिंग बनाने के बाद कई दिनों से पटना में रह रहे थे और मौके पर पाते ही वह छपरा व मुजफ्फरपुर के लिए फरार हो गये. सोमवार को पूरी रात सेल की टीम छापेमारी करती रही. पुलिस सूत्रों की मानें तो गिरोह पटना से बाहर निकला होगा तो वह किसी दूसरे वाहन का इस्तेमाल किये होंगे.

पटना के कई इलाकों में चेकिंग अभियान चला

लूट की इस बड़ी वारदात के बाद हड़कत में आयी पुलिस ने मंगलवार को पूरे पटना में जगह-जगह चेकिंग अभियान चलाया. कार, बैग व हथियार की चेकिंग की गयी. अनिसाबाद, फुलवारी, दानापुर, खगौल और शास्त्रीनगर के साथ ही जेपी सेतु पर पुलिस बाइक सवार संदिग्ध के बैग की तलाशी लेते रही.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें