1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar police crime data know number of arrest and more than thousand weapons recovered by bihar police during coronavirus pandemic news skt

बिहार पुलिस: तीन माह में 50 हजार गिरफ्तारी, एक हजार से अधिक हथियार किए बरामद, डेटा जारी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
PTI

अनिकेत त्रिवेदी ,पटना : बिहार पुलिस ने वर्ष के शुरुआती तीन माह में 49638 यानी लगभग 50 हजार आरोपितों व अपराधियों की गिरफ्तारी की है. इसके अलावा इतने दिनों में 998 देशी हथियार व सात रेगुलर असलहा के साथ करीब 3506 गोलियों की बरामदगी की गयी है. इस दौरान राज्य में अवैध हथियार बनाने वाली 15 मिनी गन फैक्टरियों का भी खुलासा बिहार पुलिस की ओर से किया गया है. दरअसल, बिहार पुलिस की ओर से जारी होने वाले हर माह क्राइम रिकॉर्ड के तहत पुलिस ने बीते मार्च माह तक का डेटा जारी किया है. उसी के अनुसार राज्य में हुए अपराधों व उसके प्रकार की रिपोर्ट सामने आयी है.गौरतलब है कि बिहार पुलिस की ओर से वर्तमान से एक माह पीछे तक का डेटा अपडेट किया जाता है.

हथियारों की तस्करी बीते कुछ दिनों में बढ़ी

राज्य में हथियारों की तस्करी बीते कुछ दिनों में बढ़ी है. कोरोना को लेकर लॉकडाउन से पहले विशेष रूप से एसटीएफ की ओर से छापेमारी के दौरान कई जगहों पर छापेमारी कर हथियार तस्करों को पकड़ा गया है और हथियार की जब्ती की गयी है. पुलिस रिपोर्ट के अनुसार मुंगेर जिले में बीते वर्षों में हुई छापेमारी, भारी मात्रा में हथियार बरामदगी, गिरफ्तारी के बाद उस जिले में परंपरागत रूप से चलने वाले अवैध हथियार निर्माण गिरोह में कमी आयी है. इसके बाद वहां के अवैध हथियार निर्माताओं ने अन्य जिलों में छोटे-छोटे तौर पर अवैध हथियार का निर्माण शुरू किया है. इसके बाद एसटीएफ ने कार्रवाई करते हुए अप्रैल में आधा दर्जन के लगभग हथियार तस्करों को पकड़ा है, जबकि मई में पांच हथियार तस्करों और दो दर्जन अवैध हथियार पकड़े गये हैं.

प्रत्येक माह 18 हजार गिरफ्तारी का औसत

पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार वर्ष 2016 से लेकर वर्ष 2020 तक दस लाख 87 हजार चार सौ 84 की गिरफ्तारी की गयी है. इसमें पेशेवर अपराधी के अलावा विभिन्न मामलों के आरोपित हैं. इस हिसाब से देखा जाये तो प्रत्येक वर्ष दो लाख 17 हजार चार सौ 96 के औसत से गिरफ्तारियां हुई हैं. यानी प्रत्येक माह में करीब 18 हजार एक सौ 24 की औसत से अपराधी गिरफ्तार होते रहे हैं.

इस वर्ष गिरफ्तारी के मामले में थोड़ी कमी

हालांकि, इस वर्ष गिरफ्तारी के मामले में थोड़ी कमी आयी है. बीते तीन माह में औसत रूप से 16 हजार पांच सौ 46 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है. रिपोर्ट के अनुसार इस वर्ष मार्च तक राज्य के विभिन्न थानों में 69342 संज्ञेय अपराध दर्ज किये गये हैं. इसमें मार्च माह के संज्ञेय 25517 मामले हैं.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें