1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar news iit student started blackmailing to become millionaire used to use app to avoid police rdy

करोड़पति बनने के लिए आइआइटी का छात्र करने लगा था ब्लैकमेलिंग, पुलिस से बचने को करता था इन चीजों का इस्तेमाल

दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़े साइबर अपराधी व आइआइटी खड़गपुर के छात्र महावीर ने कम समय में करोड़पति बनने और ऐयाशी के लिए मोटी रकम जमा करने को लेकर ब्लैकमेलिंग का धंधा शुरू किया था.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
करोड़पति बनने के लिए आइआइटी का छात्र करने लगा था ब्लैकमेलिंग
करोड़पति बनने के लिए आइआइटी का छात्र करने लगा था ब्लैकमेलिंग
प्रतीकात्मक तस्वीर

Bihar News: दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़े साइबर अपराधी व आइआइटी खड़गपुर के छात्र महावीर ने कम समय में करोड़पति बनने और ऐयाशी के लिए मोटी रकम जमा करने को लेकर ब्लैकमेलिंग का धंधा शुरू किया था. उसने छात्राओं की फर्जी अश्लील तस्वीरें बनायीं और उसे वाट्सएप पर भेज दिया. साथ ही उन तस्वीरों को वायरल करने की धमकी देकर छात्रा व उनके अभिभावकों से रकम ऐंठने की कोशिश की. कुछ ने इज्जत खराब होने के डर से उसे रुपये भी दे दिये, जिसके कारण उसका मन लगातार बढ़ता गया. अगर किसी ने रुपये नहीं दिये, तो फिर उसकी अश्लील फोटो डाल कर सोशल मीडिया पर एकाउंट खोल देता था.

फोन में कई अश्लील तस्वीरें

महावीर के पास से जो लैपटॉप व मोबाइल फोन बरामद किया गया है, उसमें कई लड़कियों की अश्लील तस्वीर है. यह मूल तस्वीर से छेड़छाड़ कर बनायी गयी है. अश्लील फोटो को सोशल मीडिया पर कई लोगों के एकाउंट से टैग भी कर देता था, जिसके कारण नाबालिग छात्राओं की काफी फजीहत हो रही थी. इस खेल में उसने कई एप का इस्तेमाल किया, ताकि उसकी पहचान उजागर नहीं हो सके. लेकिन दिल्ली के सिविल लाइंस थाने की पुलिस ने उसकी सारी योजना पर पानी फेर दिया और पटना के खाजेकलां के गुजरी बाजार इलाके से गिरफ्तार कर लिया.

एप से रंगदारी मांगने का भी है मामला

कई ऐसे एप हैं, जिनसे इंटरनेट के माध्यम से किसी को भी कॉल किया जा सकता है. इन कॉलों को ट्रेस करना काफी मुश्किल होता है. इसके साथ ही कॉल करने वालों को खोजना भी मुश्किल होता है, क्योंकि सिम कार्ड अक्सर फर्जी नाम व पते के एड्रेस प्रुफ देकर ही लिये जाते हैं. पटना के बिक्रम व बिहटा इलाके का कुख्यात अपराधी मनोज सिंह इसी तरह के एप के माध्यम से लोगों से रंगदारी मांगता था.

कई तरह के वॉयस चेंजिंग एप भी उपलब्ध

कई तरह के वॉयस चेंजिंग एप भी उपलब्ध हैं, जो लड़के की आवाज को लड़की में और लड़की की आवाज को लड़के में बदल देते हैं. इन एप के माध्यम से साइबर जालसाज किसी भी लड़के से लड़की की आवाज में बात कर दोस्त बना लेते हैं और फिर ठगी का गोरखधंधा शुरू कर देते हैं. आइआइटी खड़गपुर के बीटेक के छात्र महावीर कुमार को उत्तरी दिल्ली की पुलिस ने पटना के के गुजरी बाजार इलाके से गिरफ्तार कर लिया था.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें