डीएम का निर्देश, पुरानी तकनीक से चल रहे 10 ईंट-भट्ठे कराएं बंद

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पटना : डीएम कुमार रवि ने स्वच्छतर तकनीक (क्लीनर टेक्नोलॉजी) में परिवर्तित किये बगैर पुरानी तकनीक से चल रहे 10 ईंट-भट्ठों को बंद करने का निर्देश दिया है. उन्होंने जिला खनन कार्यालय के सहायक निदेशक, संबंधित अंचलाधिकारी व थानाध्यक्षों से कहा है कि चिह्नित ईंट-भट्ठे का संचालन तत्काल प्रभाव से बंद कराते हुए यह सुनिश्चित करें कि भविष्य में भी इनका संचालन न हो. डीएम ने बताया कि बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद द्वारा राज्य में मौजूद सभी ईंट भट्ठों को नयी तकनीक में परिवर्तित करने का निर्देश दिया गया था.

पर्षद के स्तर पर उन्हें सूचित किया गया है कि पुरानी तकनीक पर आधारित ईंट-भट्ठों की वैधता 31 अगस्त, 2019 को स्वत: ही समाप्त हो गयी है. 01 सितंबर, 2019 से पर्षद द्वारा वैसे किसी ईंट-भट्ठे के संचालन की न तो सहमति दी गयी है और न ही उनके लाइसेंस का रिन्यूअल किया गया है.
हाइकोर्ट का भी है आदेश
नये ईंट-भट्ठों की स्थापना के लिए सहमति भी इसी शर्त पर दी जायेगी कि वे स्वच्छतर तकनीक से संचालित होंगे. इस संबंध में हाइकोर्ट का भी आदेश है. डीएम ने जिला खनन कार्यालय के सहायक निदेशक को निर्देश दिया कि पटना जिले में संचालित सभी ईंट-भट्ठों का निरीक्षण करें. इस दौरान बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद से अनापत्ति प्रमाणपत्र या परमिट बगैर चल रहे अवैध ईंट भट्ठा स्वामियों के व्यवसाय को बंद कराते हुए उनके खिलाफ विधि-सम्मत कार्रवाई की जाये.
इन ईंट-भट्ठों को किया जाये बंद
मेसर्स निर्मल ब्रिक्स, लखीपुर, डोमा, थाना–सालिमपुर
मेसर्स राधा ब्रिक्स, बैकटपुर, थाना–खुसरूपुर
मेसर्स बाबा ब्रिक्स, मोसीमपुर, थाना–खुसरूपुर
मेसर्स राधा ब्रिक्स कंपनी लि, बिधिपुर, करौटा, थाना–सालिमपुर
मेसर्स जुली ब्रिक्स, लखीपुर, डोमा, थाना–सालिमपुर
मेसर्स राधा ब्रिक्स, लखीपुर करौटा, डोमा, थाना–सालिमपुर
मेसर्स राधा ब्रिक्स, लखनपुरा, थाना–बख्तियारपुर
मेसर्स राना ब्रिक्स, घोसवरी, बख्तियारपुर
मेसर्स राधा ब्रिक्स, सम्पापुर, घोसवरी, थाना–बख्तियारपुर
मेसर्स राधा ब्रिक्स, देदौर, थाना–बख्तियारपुर
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें