बिहार : विशेष राज्य के दर्जे पर शृंखला बनती तो राजद भी होता शामिल

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मानव शृंखला पर युवा राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष बोले
पटना : युवा राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद बुलो मंडल ने कहा कि विशेष राज्य के दर्जे की मांग के लिए मानव शृंखला बनायी जाती तो राजद निश्चित रूप से इसमें शामिल होता. केंद्र सरकार अगर विशेष राज्य का दर्जा नहीं देती है तो इसके खिलाफ मानव शृंखला होनी चाहिए. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस मुद्दे को लेकर केंद्र सरकार से मांग कर रहे थे. ऐसा अब क्या हो गया कि अपने ही मुद्दे से वे पलट गये.
राजद कार्यालय में गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत में बुलो मंडल ने कहा कि 21 जनवरी को मानव शृंखला का कोई मतलब नहीं है. जिस मुद्दे को लेकर मानव शृंखला आयोजित है, उन कुरीतियों के खिलाफ बहुत पहले से नियम-कानून बन चुके हैं. शराबबंदी के खिलाफ बनी मानव शृंखला में पिछले साल राजद ने साथ दिया था. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री हर साल जिलों में जाकर किस बात की समीक्षा करते हैं, यह पता नहीं चल रहा है. समीक्षा के बाद भी घोटाले पर घोटाले हो रहे हैं.
बेगूसराय में पुलिस वाले की मदद से दारु माफिया कारोबार चला रहे हैं. उन्होंने कहा कि राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद को जेल में डाल देने से राजद के प्रति लोगों का स्नेह और बढ़ा है. रालोसपा व हम का राजद के प्रति झुकाव पर बुलो मंडल ने कहा कि शीर्ष नेतृत्व इस पर निर्णय लेंगे.
प्रेस काॅन्फ्रेंस में राजद के प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामचंद्र पूर्वे ने कहा कि मानव शृंखला जनभावना से जुड़ा नहीं है. राज्य में अपराध, हत्या, लूट, दुष्कर्म में बढ़ोतरी हुई है. जनादेश का अपमान करनेवाले के साथ राजद परहेज रखता है. इस मौके पर राजद अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष रामबलि सिंह भी उपस्थित थे.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें