1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. madhepura
  5. bihar news in hindi finance company robbery in madhepura bihar loot news today police investigation starts skt

बिहार: मधेपुरा में हथियार से लैश अपराधियों ने फाइनेंस कंपनी पर बोला धावा, लाखों लूटकर हुए फरार, CCTV में कैद हुई पूरी वारदात

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
CCTV में कैद हुई पूरी वारदात
CCTV में कैद हुई पूरी वारदात
प्रभात खबर

जिला मुख्यालय के पूर्वी बायपास रोड में शुक्रवार को एक फाइनेंस कंपनी को अपराधियों ने अपने निशाने पर लिया और वहां से छह लाख 78 हजार नौ सौ 89 रूपये की लूट कर लिये और आसानी से फरार हो गया. घटना स्थल पर एसपी योगेंद्र कुमार पहुंच कर जांच कर रही है. जिला पुलिस को लगातार अपराधियों द्वारा खुली चुनौती दी जा रही है और पुलिस उसपर शिकंजा कसने में नाकाम भी साबित हो रही है.

जिले में अपराध का कहर

बीते कुछ दिनो से अपराधियों द्वारा जिले में अपराध का कहर बरपाया जा रहा है और पुलिस चैन की बंशी बजा रही है. जिले में लगातार लूट व हत्या को अंजाम दिया जा रहा है. पहले अपराधियों द्वारा शहर से हटकर सुदूर गांव, सुनसान इलाका में एवं रात के अंधेरे में लूट की घटना को अंजाम दिया जाता था. जिसके लिये लोगों ने एक मात्र रास्ता अपनाया कि देर शाम व सुनसान जगहों पर पैसा लेकर आवाजाही न करें.

दिन के उजाले में अपराधियों का तांडव, फाइनेंस कंपनी से लगभग सात लाख की लूट

अब तो अपराधियों का मनोबल इतना बढ़ चुका है कि दिन के उजाले व भीड़ भाड़ इलाके में लूट की घटना को अंजाम दे रहे है. वह भी थाना से महज पांच सौ मीटर की दूरी पर, लेकिन पुलिस मुकदर्शक बनकर तमाशा देख रहीं है. शुक्रवार को जिला मुख्यालय के पूर्वी बायपास रोड स्थित तीन मंजिले मकान में एक फाइनेंस कंपनी को अपराधियों ने अपने निशाने पर लिया और वहां से छह लाख 78 हजार नौ सौ 89 रूपये की लूट कर ली. भारत फाइनान्शियल इन्क्लूजन लिमिडेट के केशियर उदय कुमार ने बताया कि हर दिन की भांति वे अपने कार्यालय में कार्य कर रहे थे और एक काम वाली बाई खाना बना रही थी. इस बीच पांच अपराधी कार्यालय में घुस गये. उन्होंने बताया कि पांच में से तीन अपराधी कार्यालय के अंधर घुसे और दो कार्यालय के बाहर से लोगों के आने जाने की सूचना दे रहे थे. सभी अपराधी हथियार से लैस थे.

कैशियर को किया बाथरूम में बंद, किया फायरिंग -

कार्यालय में घुसने के साथ ही हथियार तान दिया और उन्हें कार्यालय के बाथरूम में बंद कर दिया. जिसके बाद अपराधियों ने बाथरूम के बाहर से दो तीन फायर भी किया और कार्यालय के कैश रूम से लोगों द्वारा जमा किये गये छह लाख 78 हजार नौ सौ 89 रूपये लूट कर बड़े आसानी से फरार हो गये. अपराधियों के जाने के बाद कार्यालय के पड़ोसियों द्वारा घटना की सूचना पुलिस को दी गयी. सूचना मिलने पर सदर थाना की पुलिस ने मामले की जानकारी ली तथा घटना में प्रयुक्त होने वाले खोखा एवं सीसीटीवी फुटेज अपने साथ ले गये.

बिल्डिंग के अन्य लोगों को भी बनाया निशाना -

सीसीटीवी फुटेज को देखने से मालूम चलता है कि पांचों अपराधी दो मोटरसाइकिल पर सवार होकर पहुंचे थे. जिनमें से तीन फाइनेंस कंपनी के कार्यालय के अंदर घुसे और दो सीढ़ियों पर लोगों के आने जाने पर नजर बनाये हुये थे. इसी बीच कंपनी बिलडिंग के अन्य कमरे पर अंबिका उपेंद्र महाविद्यालय मुरलीगंज के प्राध्यापक प्रो निर्मल कुमार दास को सिढियों से गुजरता देख एक अपराधी उनके सिर पर बंदुक तान कर उन्हें उनके कमरे में ले जाकर उनकी पत्नी के साथ बैठा दिया और घटना होने तक वहां खड़ा रहा. मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक योगेंद्र कुमार घटना स्थल पर पहुंच जांच कर रही है.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें