26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

पंचदेवरी के तेतरिया में लगी भीषण आग, सौ से अधिक घर जलकर हुए राख, तीन झुलसे

प्रखंड के तेतरिया में गुरुवार की दोपहर आग ने तबाही मचा दी. आग का कहर इस कदर टूटा कि पल भर में सैकड़ों परिवारों के अरमान खाक में मिल गये. भीषण अगलगी की घटना में सौ से अधिक घर जलकर राख हो गये. वहीं तीन लोग गंभीर रूप से झुलस गये.

पंचदेवरी. प्रखंड के तेतरिया में गुरुवार की दोपहर आग ने तबाही मचा दी. आग का कहर इस कदर टूटा कि पल भर में सैकड़ों परिवारों के अरमान खाक में मिल गये. भीषण अगलगी की घटना में सौ से अधिक घर जलकर राख हो गये. वहीं तीन लोग गंभीर रूप से झुलस गये. पांच बाइकें, पांच गायें व 20 से अधिक बकरियां भी जल गयीं. झुलसे हुए लोगों को तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया. पूरे गांव में अफरातफरी मच गयी. कई गांवों से हजारों की संख्या में लोग घटनास्थल पर पहुंच गये. इस घटना में करीब 80 लाख से अधिक की क्षति का अनुमान लगाया जा रहा है. अगलगी के कारणों का पता नहीं चल सका है. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि गुरुवार की दोपहर काफी तेज हवा चल रही थी. इसी बीच तेतरिया बोध रावत दलित बस्ती में अचानक आग लग गयी. अभी लोग कुछ समझ पाते, तब तक आग ने विकराल रूप ले लिया. कुछ ही देर में आग की लपटें आसमान छूने लगीं. पूरे गांव में आग फैल गयी. घरों में रखे सिलिंडर एक-एक कर ब्लास्ट करने लगे. लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे. कुछ ही पलों में बगल की बस्ती तेतरिया रिखई में भी आग पहुंच गयी. इस बस्ती में रहने वाले जितेंद्र साह, बुची देवी व तेतरिया बोध रावत के बुनीलाल राम गंभीर रूप से झुलस गये. परिजनों व ग्रामीणों की मदद से तुरंत इन्हें अस्पताल पहुंचाया गया. घटनास्थल पर पहुंचे ग्रामीणों ने काफी कोशिश की, लेकिन न तो आग पर काबू पाया जा सका और न ही किसी भी घर में रखा सामान निकाला जा सका. सैकड़ों घरों में रखे अनाज, कपड़ा, गहना सहित सभी सामान जलकर राख हो गये. कई घरों में नकद भी रखे गये थे. सब जलकर राख हो गये. हवा व आग की लपटें इतनी तेज थीं कि सभी लोग विवश दिखे. सभी घरों को जलाकर स्याही नदी की ओर जाने के बाद आग शांत हुई. घटनास्थल पर ग्रामीणों में काफी आक्रोश दिखा. आग लगते ही ग्रामीणों ने स्थानीय प्रशासन को सूचना दी. फिर भी समय पर दमकल की गाड़ी नहीं पहुंच सकी. दमकल कर्मियों का कहना था कि कई जगहों पर आग लगी हुई है. सभी गाड़ियां आग बुझाने चली गयी हैं. पूरी बस्ती जल जाने के बाद दमकल घटनास्थल पर पहुंची. इसके बाद ग्रामीणों व दमकल की मदद से देर रात तक आग बुझाने की कोशिश की जाती रही. आक्रोशित लोग स्थानीय सीओ पर भी आपातकालीन स्थिति में फोन रिसीव नहीं करने का आरोप लगा रहे थे. लोग पंचदेवरी में दमकल रखने की मांग प्रशासन से कर रहे थे. इधर, सीओ तरुण कुमार रंजन ने बताया कि अगलगी की सूचना मिलते ही दमकल को भी सूचित कर दिया गया था. राजस्व कर्मचारी को घटनास्थल पर भेज दिया गया है. जांच करायी जा रही है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें