मैट्रिक परीक्षा के पहले दिन 579 ने छोड़ी परीक्षा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बक्सर : कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मैट्रिक परीक्षा जिले के 29 परीक्षा केंद्रों पर सोमवार को शुरू हो गयी. पहले दिन दोनों पालियों की परीक्षा में 31 हजार 354 परीक्षार्थियो को परीक्षा में शामिल होना था, जिसमें 30 हजार 775 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए.

वहीं 579 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे. पहले दिन पेपर लीक वायरल होने का मामला भी अफवाह निकला. पहले दिन काफी निर्धारित समय से पहले ही जिले के सभी परीक्षा केंद्र पहले ही गुलजार हो गया. बोर्ड के निर्देशानुसार परीक्षा की निर्धारित समय से 10 मिनट पहले तक ही प्रवेश का असर भी परीक्षार्थियों पर दिखा. वहीं कदाचार मुक्त परीक्षा कराने को लेकर प्रशासनिक गतिविधियां स्पष्ट रूप से परीक्षा केंद्रों पर दिखी.
सभी परीक्षा केंद्रों पर लगातार अधिकारियों की गाड़ियां दौड़ती रही. जिसका खौफ परीक्षार्थियों के ऊपर दिखा. कदाचार मुक्त व शांति व्यवस्था के बीच कराने को लेकर सभी परीक्षा केंद्रों के 250 गज की परिधि में निषेधाज्ञा लागू रहा. परीक्षा केंद्रों के आसपास निषेधाज्ञा का पूरी तरह असर कायम रहा. परीक्षा केंद्रो के आस पास शांति पूर्ण रूप से बनी रही तथा अघोषित कर्फ्यू का माहौल कायम रहा. पहले दिन दोनों पालियों में विज्ञान विषय की परीक्षा शांतिपूर्ण माहौल में हुई. वहीं मॉडल परीक्षा केंद्रो पर उत्सवी माहौल कायम रहा.
बजकर 45 मिनट से 5 बजे संध्या तक आयोजित होगी
मैट्रिक परीक्षा को तनावमुक्त बनाने को लेकर विभागीय स्तर से जिले में बनाये गये चार मॉडल परीक्षा केंद्रों को काफी आकर्षक ढंग से सजाया गया था. जिसका आकर्षण देखने लायक तथा परीक्षार्थियों के लिए सुख की अनुभूति करने वाला था. जिला मुख्यालय स्थित बने दो मॉडल केंद्र नेहरू स्मारक उच्च विद्यालय एवं केके मंडल महिला कॉलेज नया बाजार बक्सर को जिला मुख्यालय बक्सर तथा दो केंद्र सुमित्रा महिला कॉलेज डुमरांव एवं सीपीएसएस उच्च विद्यालय डुमरांव को अनुमंडल मुख्यालय डुमरांव में सजाया गया है.
इसके साथ ही बैलून एवं फूलों से तोरण द्वार के साथ ही विद्यालय परिसर को सजाया गया है. जहां परीक्षार्थियों को विद्यालय में प्रवेश के लिए लाल कारपेट लगाया गया है. नेहरू स्मारक पर मॉडल केंद्र पर तैनात मजिस्ट्रेट द्वारा फीता काटकर पहले उद्घाटन किया गया. प्रवेश के दौरान परीक्षार्थियों के ऊपर पुष्प वर्षा की गयी. इसके साथ ही सभी परीक्षार्थियों को तिलक लगाकर एवं टॉफी प्रदान कर स्वागत किया गया. जिससे परीक्षा में शामिल हो रहे परीक्षार्थियों के ऊपर परीक्षा का तनाव न रहे.
जिले में कुल 29 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थी हुए शामिल
मैट्रिक परीक्षा को लेकर जिले में कुल 29 परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं. जहां जिसमें बक्सर अनुमंडल में 16 एवं डुमरांव अनुमंडल डुमरांव में 13 परीक्षा केंद्रो पर परीक्षा आयोजित हुई. दोनों पालियों में विज्ञान विषय की परीक्षा हुई. जिसमे कुल 31 हजार 354 परीक्षार्थियों में 30 हजार 775 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल रहे. जिसमें प्रथम पाली में 15 हजार 341 परीक्षार्थियों में 15 हजार 50 उपस्थित एवं 291 अनुपस्थित तथा दूसरी पाली में 16 हजार 13 परीक्षार्थियो में 15 हजार 725 उपस्थित एवं 288 अनुपस्थित रहे.
डुमरांव अनुमंडल में 294 परीक्षार्थी रहे अनुपस्थित
डुमरांव. मैट्रिक परीक्षा के पहले दिन दोनों पालियों में 294 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे. वहीं हाइस्कूल चिलहरी, प्लस टू राज हाइस्कूल डुमरांव, डीके कॉलेज और सुमित्रा महिला कॉलेज में डीएम राघवेंद्र सिंह व पुलिस अधीक्षक उपेंद्रनाथ वर्मा पहुंचे, जिसे लेकर परीक्षा केंद्र पर अफरातफरी मच गयी. पहले दिन विज्ञान विषय की परीक्षा थी. बतादें कि अनुमंडल मुख्यालय में 15 हजार 543 परीक्षार्थी के लिए 13 परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं. जिसमें सात परीक्षा केंद्र छात्राओं के लिए और छह परीक्षा केंद्र छात्रों के लिए बनाये गये हैं.
अहले सुबह हर परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र पर पहुंचने के लिए बेताब दिखे. कई परीक्षार्थी गुगल मैप से परीक्षा केंद्र एक दिन पहले और सोमवार को भी अहले सुबह जो अपने रिश्तेदार के यहां रह कर परीक्षा दे रहे हैं, वो गुगुल के सहारे परीक्षा केंद्र देख पुनः लौट गये और समयानुसार परीक्षा केंद्र पर पहुंचे. सभी परीक्षा केंद्रों पर जांच के बाद परीक्षा केंद्र में प्रवेश कराया जा रहा था. छात्रा के लिए महिला व छात्रों के लिए पुरूष पुलिस बल तैनात रहे.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें