1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. four year btech course on silk in bhagalpur bihar shahnawaz hussain to take on the land connected with the industries department biada land allotment skt

बिहार में अब शुरू होगा रेशम पर चार वर्षीय बीटेक कोर्स, जानें उद्योग विभाग से जुड़ी जमीनों पर क्या एक्शन लेंगे शाहनवाज

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
शाहनवाज हुसैन
शाहनवाज हुसैन
file

प्रदेश के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने समाहरणालय परिसर स्थित समीक्षा भवन में शनिवार को उद्योग विभाग की ओर से संचालित योजनाओं की समीक्षा की. उन्होंने कहा कि बिहार रेशम एवं वस्त्र संस्थान, नाथनगर के टेक्सटाइल सेंटर में रेशम पर चारवर्षीय बी-टेक कोर्स शुरू होगा. इसे लेकर डीएम की अध्यक्षता में कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिया.

बैठक में ये हुए शामिल 

समीक्षा बैठक में उद्योग विभाग के अपर सचिव प्रदीप कुमार, डीएम सुब्रत कुमार सेन, उद्योग विभाग की अपर निदेशक सरिता चौधरी, सांसद प्रतिनिधि प्रो देवज्योति मुखर्जी, विधानसभा सदस्य, उप विकास आयुक्त, जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक रामशरण राम, जिला परिषद अध्यक्ष आदि शामिल हुए.

उद्योग विभाग से संबंधित खाली जमीन की होगी मापी

बैठक में उद्योग मंत्री ने हस्तकरघा एवं विद्युतकरघा बुनकरों के लिए संचालित योजनाओं की विस्तृत समीक्षा की. भागलपुर के उद्योग विभाग से संबंधित खाली पड़ी सरकारी जमीन का मैपिंग करने की बात कही गयी. डीएम को जीविका के माध्यम से बुनियादी रिलिंग मशीन उपलब्ध कराने के लिए सर्वे करा लेने का निर्देश दिया.

अति पिछड़ा समुदाय में सम्मिलित किया जायेगा बुनकर को

बुनकर समुदाय को अति पिछड़ा वर्ग में जोड़ा जायेगा, ताकि उद्योग विभाग द्वारा संचालित मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति-जनजाति एवं अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना के तहत उन्हें योजना का लाभ मिल सके. जिला उद्योग केंद्र के जीएम रामशरण राम ने कोकून बैंक निर्माण कराने का अनुरोध किया. मंत्री ने कोकून बैंक निर्माण कराने का आश्वासन दिया.

रेशम भवन बन कर तैयार, बुनकरों को मिलेगा इम्पोरियम के लिए 72 स्टॉल

जीएम रामशरण राम ने बताया कि जीरोमाइल, बरारी में हस्तकरघा एवं रेशम भवन बनकर तैयार है. इसमें बुनकरों के लिए 72 स्टॉल, इम्पोरियम है. इसे बुनकरों के लिए आवंटित किया जायेगा. मंत्री ने बताया कि 300 यूआइडी उत्कीर्ण हस्तकरघा बुनकरों को कार्यशील पूंजी के रुप में 10 हजार प्रति बुनकर की दर से राशि उपलब्ध कराने के लिए योजना को स्वीकृति प्रदान की जा चुकी है. डीएम ने धन्यवाद ज्ञापन किया.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें