1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. aakashwani will start many new programs on bhagalpur from october 4 will also be able to enjoy on mobile bihar asj

चार अक्तूबर से शुरू होंगे आकाशवाणी भागलपुर पर कई नये कार्यक्रम, मोबाइल पर भी ले सकेंगे आनंद

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
मोबाइल
मोबाइल
Pic Source - Twitter

सुगम, भागलपुर : लॉकडाउन के दौरान आकाशवाणी भागलपुर से दिन का प्रसारण सुन रहे श्रोता अब सोमवार यानी सात सितंबर से सभी सभाअों के कार्यक्रम पूर्ववत सुन सकेंगे. कार्यक्रम के सुचारु संचालन की प्रक्रिया शुरू हो जायेगी. वहीं चार अक्तूबर से नये रूप-रंग व नये कार्यक्रमों के साथ आकाशवाणी भागलपुर के प्रसारण का आनंद लेंगे.

कोरोना काल में कर्मियों की कमी की वजह से जुलाई से ही आकाशवाणी से सिर्फ दिन में कार्यक्रमों का प्रसारण हो रहा है. सुबह व शाम में आकाशवाणी पटना के कार्यक्रमों को रिले किया जा रहा है. इस दौरान कार्यक्रम अनुभाग के कर्मी प्रसारण बूथ का संचालन कर रहे हैं. कोरोना से बचाव को लेकर आकाशवाणी परिसर में बाहरी वार्ताकारों व अन्य लोगों का आना निषेध है.

सैनिटाइजेशन के साथ सोशल डिस्टैंसिंग का पालन किया जा रहा है. दिन की सभा में समसामयिक मुद्दे पर जिला प्रशासन के अधिकारियों, सामाजिक कार्यकर्ता, डॉक्टरों आदि से फोन से बात कर कार्यक्रम पेश किया जा रहा है. लोगों को जागरूक किया जा रहा है. इन दिनों पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर राष्ट्रीय शोक की वजह से कार्यक्रमों को सौम्य तरीके से प्रस्तुत किया जा रहा है.

सोशल मीडिया के जरिये जुड़ें आकाशवाणी भागलपुर से : कार्यक्रम प्रमुख ने कहा कि अब आकाशवाणी से जुड़ने के लिए रेडियो आवश्यक नहीं है. आप अपने एंड्रायड मोबाइल के जरिये भी हमारे कार्यक्रम का आनंद ले सकते हैं. प्ले स्टोर या आइअोएस प्लेटफॉर्म से न्यूज अॉन एआइआर एप डाउनलोड कर सकते हैं. अॉल इंडिया रेडियो भागलपुर यूट्यूब चैनल पर हमारे कार्यक्रमों को देख-सुन सकते हैं. फेसबुक पेज akashwanibhagalpurMW1458KHz, इंस्टाग्राम akashwanibhagalpur, ट्विटर पर @airbhagalpur पर हमें फॉलो कर सकते हैं.

ई-मेल से भेजें अपनी फरमाइश व सुझाव: डॉ झा ने कहा, हमारे ई-मेल phairbhagalpur@gmail.com पर आप अपनी फरमाइश व सुझाव भेज सकते हैं. यूं तो आकाशवाणी भागलपुर के कार्यक्रम रेडियो पर बिहार-झारखंड के कई जिलों में सुना जा सकता है, लेकिन सोशल मीडिया ने इसका दायरा अौर बढ़ा दिया है. अब अन्य राज्यों या देशों में रहनेवाले लोग भी हमें देख-सुन सकते हैं. बातचीत के दौरान कार्यक्रम अधिशासी ब्रजकिशोर रजक, अमित कुमार, श्रीपार्वती के, कार्यक्रम निष्पादक सौरभ कुमार, सरशार अहमद, वरिष्ठ उद्घोषक विजय कुमार मिश्र, कार्यक्रम सचिव सुरेश रावत आदि मौजूद थे.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें