1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. banka
  5. banka a photographer jumped in front of train interrupted for hour and half

बांका में पारिवारिक कलह से तंग फोटोग्राफर ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान, डेढ़ घंटा बाधित रहा परिचालन

50 वर्षीय फोटोग्राफर ने पारिवारिक कलह से तंग आकर ट्रेन के आगे कूदकर अपनी जान दे दी. जसीडीह-झाझा रेलखंड के भलसूमिया गांव के समीप गुजर रही मालगाड़ी के सामने कूद कर जान दे दी. शव का पंचनामा तैयार कर अंत्य परीक्षण के लिए देवघर भेज दिया.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
पारिवारिक कलह से तंग युवक ने दी जान
पारिवारिक कलह से तंग युवक ने दी जान
Prabhat Khabar

बांका के चांदन पंचायत के मंडल टोला के एक 50 वर्षीय फोटोग्राफर ने पारिवारिक कलह से तंग आकर ट्रेन के आगे कूदकर अपनी जान दे दी. जसीडीह-झाझा रेलखंड के भलसूमिया गांव के समीप पोल सं 333/18-16 के पास से रेलवे पुलिस और जसीडीह पुलिस ने मृत फोटोग्राफर के शव को अपने कब्जे में लेकर अंत्यपरीक्षण के लिए देवघर भेज दिया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार पेशे से फोटोग्राफर का काम करने वाले चांदन पंचायत के वार्ड नंबर 6 निवासी शिवनंदन मंडल पिता स्व खेमन मंडल का किसी बात को लेकर रविवार को अपनी पत्नी से कहासुनी हुई थी. सोमवार की सुबह फोटो खींचने की बात कहकर वह घर से निकला और बिहार-झारखण्ड की सीमा से सटे भलसूमिया गांव के समीप जसीडीह-झाझा रेलखंड से गुजर रही एक मालगाड़ी के सामने कुदकर अपनी ज़िंदगी समाप्त कर ली.

मालगाड़ी के गार्ड की सूचना पर पहुंची जसीडीह रेलवे पुलिस और जसीडीह पुलिस ने परिजनों के समक्ष शव का पंचनामा तैयार कर अंत्य परीक्षण के लिए देवघर भेज दिया. आत्महत्या का मुख्य कारण जहां पारिवारिक कलह माना जा रहा है, वहीं कुछ लोगों का मानना है कि वार्ड सदस्य पद का चुनाव हारने के बाद वह डिप्रेशन में चला गया था. चुनाव हारने व लगातार हो रहे पारिवारिक कलह के कारण ही यह कदम उठाना माना जा रहा है. मृदुभाषी व लोकप्रिय फोटोग्राफर शिव नंदन मंडल की आकस्मिक मौत से पूरे परिवार पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा है. पत्नी के अलावा 20 वर्षीय पुत्र राकेश, 25 वर्षीय पुत्री सविता, 18 वर्षीय तारा व 13 वर्षीय पारस का रो रोकर बुरा हाल है.

डेढ़ घंटा बाधित रहा परिचालन, विलंब रहीं ट्रेनें

जसीडीह. शव डाउन लाइन के रेलवे ट्रैक पर होने के कारण करीब डेढ़ घंटे तक परिचालन प्रभावित रहा. पुलिस द्वारा रेलवे ट्रैक से शव हटाने के बाद परिचालन बहाल हो सका. परिचालन प्रभावित होने के कारण डाउन लाइन की कई ट्रेनें जहां तहा खड़ी रही. इस कारण डाउन की 12304 नयी दिल्ली-हावड़ा पूर्वा एक्सप्रेस 45 मिनट तक सिमुलतला, 18184 दानापुर-टाटा सुपर एक्सप्रेस डेढ़ घंटे तक लाहावन हॉल्ट व अप की 03573 जसीडीह-क्यूल पैसेंजर आधा घंटे तक जसीडीह स्टेशन पर रुकी रही. इससे गर्मी में रेल यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें