पश्चिम बंगाल में बैठे शराब कारोबारियों का लंबा है नेटवर्क

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
अररिया : कथित शराब तस्कर व सप्लायर मो जमाल की गिरफ्तारी से अररिया पुलिस उत्साहित हैं. इसकी गिरफ्तारी की भनक किशनगंज पुलिस तक को नहीं मिली. लेकिन पूर्व में गिरफ्तार किये गये शराब तस्करों व गिरफ्तार मो जमाल ने जिस-जिस शराब सप्लायरों-कारोबारियों का नाम बताया. उसकी गिरफ्तारी की चुनौती अब भी बरकरार है.
सहरसा जिला के सौरबाजार थाना क्षेत्र के अजय साह, बहादुरगंज थाना क्षेत्र के कमरूल मियां, किशनगंज के दीपांकर विश्वास उर्फ कौशल सहित अन्य शराब कारोबारियों की गिरफ्तारी अब भी बांकी है. हालांकि पुलिस यह दावा करती है कि शराब के कारोबारियों-सप्लायरों के मांद में घुसकर भी गिरफ्तार किया जायेगा. इस मामले में किसी को भी नहीं बख्शा जायेगा. मो जमाल की जिस तरीके से गोपनीयता के साथ गिरफ्तारी की गयी, निश्चय ही एहसास दिलाता है
कि पुलिस शराब कारोबारियों-सप्लायरों के प्रति सख्त है. जानकारी अनुसार शराब कारोबारियों में जोकीहाट थाना क्षेत्र के भी कई लोगों का नाम सामने आया है. जिसका खुलासा थानाध्यक्ष ने नहीं किया है. इन सबों की गिरफ्तारी की चुनौती पुलिस के सामने है. बहरहाल नेपाल-बंगाल सीमा से सटे अररिया जिला की पुलिस शराब के लंबे नेटवर्क चलाने वालों के किला को कब तक व कैसे धवस्त करेगी. यह तो आने वाला दिन ही तय करेगा.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें