devgarh

  • Jul 18 2019 4:31AM
Advertisement

चारों धाम और 12 ज्योतिर्लिंगों के दर्शन की अनुभूति करा रहा शिवलोक : सीएम

चारों धाम और 12 ज्योतिर्लिंगों के दर्शन की अनुभूति करा रहा शिवलोक : सीएम

 श्रावणी मेला. 'बाबा बैद्यनाथ: एक अद्भुत इतिहास' पत्रिका का हुआ विमोचन

शिवलोक में स्टॉल का सीएम ने किया अवलोक

देवघर : दुम्मा में श्रावणी मेला का उद्घाटन करने के बाद मुख्यमंत्री रघुवर दास शिवलोक परिसर पहुंचे. यहां आदिवासी संस्कृति के साथ उनका स्वागत किया गया. मुख्यमंत्री ने शिवलोक का उद्घाटन किया. मुख्यमंत्री ने परिसर में बने विभिन्न स्टॉल व चार धाम व 12 ज्योतिर्लिंग की प्रतिकृति का अवलोकन किया.

परिसर के एक पार्ट में द्वादश ज्योतिर्लिंग, दूसरे पार्ट में देवघर के सभी धार्मिक स्थल, तृतीय पार्ट में देवघर का इतिहास व चौथे पार्ट में विकसित देवघर का दृश्य बयां किया गया है. सभी हिस्सों का अवलोकन कर मुख्यमंत्री समेत मंचासीन मंत्रियों व विधायक ने 'बाबा बैद्यनाथ एक अद्भुत इतिहास' नामक पत्रिका का विमोचन किया. इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय संस्कृति के लोग कंकड़-कंकड़ में भगवान शंकर का वास मानते हैं.

द्वादश ज्योतिर्लिंग मंदिर जैसी अनुभूति के साथ लोग आशीर्वाद लेकर शिवलोक में चार धाम व 12 ज्योतिर्लिंग का दर्शन कर सकेंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामोद्योग के जरिये महिलाएं स्वावलंबी होंगी.  शिवलोक परिसर में जिस प्रकार स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने अपने उद्यमशीलता का परिचय दिया है उससे लगता है कि राज्य सरकार द्वारा उनके स्वावलंबन के लिए किये गये प्रयास सार्थक हो रहे हैं.

झारखंड में ग्रामोद्योग को बढ़ावा देने में इन महिलाओं का बड़ा योगदान है. शिवलोक के उद्घाटन व पत्रिका के विमोचन के अवसर पर पर्यटन मंत्री अमर कुमार बाउरी, बाल कल्याण मंत्री मंत्री डॉ लोइस मरांडी, श्रम मंत्री राज पलिवार, कृषि मंत्री रंधीर सिंह, विधायक नारायण दास, पर्यटन सचिव राहुल शर्मा, पर्यटन निदेशक संजय बेसरा, डीसी राहुल कुमार सिन्हा, एसपी नरेंद्र कुमार सिंह, एसडीपीओ विकासचंद्र श्रीवास्तव आदि थे.

शिवलोक परिसर में लगी प्रदर्शनी देखी : सीएम रघुवर दास ने शिवलोक परिसर में विभिन्न संस्थाओं की ओर से पंडाल लगाकर अपने उत्पादों की प्रदर्शनी लगायी गयी थी. 

 इन स्टॉलों में नीड्स व शिवामी के कपड़े, आरसेटी के द्वारा प्रशिक्षित महिलाओं को रोजगार प्राप्त करने, बांस से बनी सामग्री व अन्य वस्तुओं की प्रदर्शित की गयी. सीएम ने स्टॉलों में सजे बांस से बने लैंप व अन्य कुटीर उद्योग से बनने वाली उत्पादों की जानकारी ली.

 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement