Advertisement

ranchi

  • Aug 22 2019 4:24PM
Advertisement

परिवार के वृद्धों को सम्‍मान देने के लिए सरला बिरला पब्लिक स्कूल में दो दिवसीय कार्यक्रम 'वात्‍सल्‍य'

परिवार के वृद्धों को सम्‍मान देने के लिए सरला बिरला पब्लिक स्कूल में दो दिवसीय कार्यक्रम 'वात्‍सल्‍य'

रांची : परिवार के आधार स्तंभ, मुखिया तथा विरासत और परंपरा को साथ लेकर चलने वाले दादा–दादी, नाना–नानी आदि बुजुर्गों को सम्मान देने के के लिए सरला बिरला पब्लिक स्कूल में दो दिवसीय ग्रैंडपेरेंट्स डे–‘वात्सल्यम’ का गुरुवार को शुभारंभ हुआ. विद्यालय इस वर्ष ‘वात्सल्यम’ की दसवीं वर्षगांठ मना रहा है, जिसका थीम ‘दृढ़ निष्ठ’ रखा गया है. 

 

कार्यक्रम की शुरुआत दीप जलाकर और बच्चों द्वारा स्वागत गीत ‘अभिनन्दन गीतम’ प्रस्तुत कर किया गया. मौके पर विद्यालय के कार्मिक एवं प्रशासनिक प्रमुख प्रदीप वर्मा, प्राचार्या परमजीत कौर सहित अन्‍य अतिथिगण एवं बड़ी संख्या में बच्चों के ग्रैंड पैरेंट्स उपस्थित थे. बच्चों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर अपनी कलात्मकता की छटा बिखेर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया. 

 

शिक्षा के महत्व पर आधारित नाटक ‘अरुणोदय’ के माध्यम से सुंदर संदेश दिया गया. बच्चों ने नृत्य नाटिका ‘उत्सव संगम’ के द्वारा भारत के प्रसिद्ध मेलों की जानकारी दी. विद्यालय के हेड ब्वॉय एवं हेड गर्ल ने ‘एनुअल रिपोर्ट’ प्रस्तुत किया. देशभक्ति शो ‘ये देश मेरी जान’ के माध्यम से देश प्रेम की मिसाल प्रस्तुत की गयी. 

 

‘फ्यूचर हीरोज’ कार्यक्रम ने भी लोगों का खूब मनोरंजन किया. राधा–कृष्ण का रूप धारण कर छोटे-छोटे बच्चों ने जब आकर्षक नृत्य ‘कृष्ण-लीला’ पेश की तो संपूर्ण प्रेक्षागृह तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा. विद्यालय के कार्मिक एवं प्रशासनिक प्रमुख प्रदीप वर्मा ने छात्रों को उनके बेहतरीन प्रदर्शन के लिए बधाई दी. 

 

उन्होंने कहा कि ‘वात्सल्यम’ कार्यक्रम का उद्देश्य विद्यालय की संस्थापिका मां सरला देवी बिरला के सपने को साकार करने के लिए आयोजित किया जाता है. उनका मानना था कि बच्चों के मन में दादा–दादी एवं नाना–नानी के प्रति भी लगाव व आदर की भावना बनी रहे. 

 

प्राचार्या परमजीत कौर ने बच्चों की मेहनत की सराहना की. उन्होंने ग्रैंड पैरेंट्स की बड़ी संख्या में उपस्थिति की प्रशंसा की और उनका आभार प्रकट किया. बच्चों के उचित मार्गदर्शन हेतु उन्हें धन्यवाद भी दिया. उन्होंने कहा कि अगस्त महीना आजादी, रक्षाबंधन, दोस्ती, हरियाली एवं जन्माष्टमी जैसे कई त्योहारों को लेकर आया है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement