Advertisement

patna

  • Apr 28 2017 7:33AM
Advertisement

स्पैन निर्माण के दौरान बाधित होगा रेल परिचालन

पटना : राज्य सरकार ने दीघा-सोनपुर  सड़क पुल को 11 जून तक चालू करने को लेकर सोनपुर साइड में रेल ट्रैक के समीप दो स्पैन के निर्माण को लेकर रेलवे से सहयोग मांगा है. स्पैन के निर्माण के दौरान रेल का परिचालन होने से काम पर असर पड़ेगा. निर्माण कर रहे मजदूरों पर खतरा बना रहेगा. साथ ही रेल के ओवरहेड तार से परेशानी बढ़ेगी. इस वजह से स्पैन के निर्माण के दौरान रेल का परिचालन बाधित रखने व ओवरहेड तार का बिजली डिसकनेक्ट रखने को लेकर रेलवे से कहा गया है.
 
इस संबंध में पुल निर्माण निगम की ओर से डीआरएम दानापुर को पत्र लिखा गया है. स्पैन निर्माण के लिए लगभग एक सप्ताह तक रेलवे से कम से कम चार से पांच घंटा परिचालन बंद रखने के साथ ओवरहेड तार का बिजली डिसकनेक्ट रखने का आग्रह किया गया है. इस पर रेलवे को निर्णय लेना है. 
 
पुल निर्माण निगम के सूत्र ने बताया कि रेलवे से अनुमति मिलने के बाद रेल ट्रैक के समीप दो स्पैन का निर्माण अधिक से अधिक मजदूर लगाकर निर्धारित समय में पूरा करने की कोशिश होगी. पुल के निर्धारित समय में चालू करने को लेकर दोनों साइड एप्रोच रोड के निर्माण का काम तेज किया गया है. पहले फेज में हरिहरनाथ बाइपास सड़क से एप्रोच रोड को जोड़ने का काम हो रहा है. इसके लिए दीघा-सोनपुर सड़क  पुल से सोनपुर साइड में एलिवेटेड रोड तैयार हो रहा है. एलिवेटेड रोड  निर्माण को लेकर आठ स्पैन तैयार हो रहा है.
 
पहले फेज में ढाई किमी सड़क का होगा निर्माण : पहले फेज में हरिहरनाथ वाइपास तक ढाई किलोमीटर सड़क का निर्माण होना है. इसके लिए आठ स्पैन तैयार कर एलिवेटेड रोड बनाया जा रहा है. 15 मई तक  स्पैन तैयार होने की संभावना है. एलिवेटेड रोड बनाने के लिए जमीन अधिग्रहण का काम परपीचुअल लीज के साथ डायरेक्ट  किसानों के साथ हुआ है. 
 
जमीन अधिग्रहण पर 58 करोड़ खर्च हुआ है. इसमें परपीचुअल लीज में 41 करोड़ व किसानों के साथ डायरेक्ट जमीन अधिग्रहण पर लगभग 17 करोड़ वितरण हुआ है. दीघा-सोनपुर सड़क पुल के दोनों साइड बन रहे एप्राेच रोड की प्रगति का पिछले रविवार को उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने निरीक्षण किया था.  उन्होंने 11 जून तक दीघा-सोनपुर  सड़क पुल को चालू करने को लेकर पुल के दोनों ओर  एप्रोच रोड के निर्माण में तेजी लाने का अधिकारियों को निर्देश दिया था. 
 
निर्धारित समय में पुल को चालू करने को लेकर मजदूरों की संख्या बढ़ा कर दिन-रात काम पूरा करने का निर्देश देने के साथ जो भी कमी है उसकी अनुमति लेकर उसे दूर करने को कहा गया था. पुल के चालू होने पर अशोक राजपथ में जाम की स्थिति नहीं होने के इंतजाम की अधिकारियों से जानकारी ली थी.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement