Advertisement

patna

  • Nov 5 2017 2:49PM

VIDEO : बिहार में गंगा और बागमती नदी में डूबने से 9 की मौत, दो अन्य लापता

VIDEO : बिहार में गंगा और बागमती नदी में डूबने से 9 की मौत, दो अन्य लापता
समस्तीपुर में बाइक से शव ले गये परिजन, एंबुलेंस चालक ने लाश ले जाने से किया इनकार

पटना/समस्तीपुर : बिहार में पटना और वैशाली जिले के बीच से गुजर रही गंगा नदी और समस्तीपुर जिले के समीप से गुजर रही बागमती नदी में डूबने से नौ लोगों की मौत हो गयी. जबकि दो अन्य व्यक्ति अभी भी लापता बताये जा रहे हैं. पटना जिला के फतुहा थाना अंतर्गत मस्तान घाट के समीप और वैशाली जिला के रोघोपुर के रस्तमपुर पुलिस चौकी अंतर्गत दियारा इलाके में गंगा नदी में गाद जमा होने से बन गए टापूनुमा स्थल के समीप हुए इस हादसे में पहले फतुहा थाना प्रभारी नसीम अहमद ने नौ लोगों के तथा पटना के जिलाधिकारी संजय अग्रवाल ने आठ लोगों के डूबने की बात कही थी. अब बताया कि इस हादसे में कुल छह लोगों की मौत हुई है जबकि दो अन्य अभी भी लापता हैं.

अहमद ने बताया कि गंगा नदी से निकाले गये नौ लोग जिन्हें मृत समझा जा रहा था, उन्हें अस्पताल ले जाने पर उनका मेडिकल परीक्षण कराये जाने पर उनमें से तीन जीवित पाये गये. जिनका इलाज फतुहा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में जारी है.

वहीं हमारे प्रतिनिधि के मुताबिक हादसे वाला स्थान वैशाली जिले के राघोपुर दियारा इलाके में आता है. अब तक जो बातें सामने आयी हैं, उसके अनुसार ये सभी लोग गंगा की रेत पर पिकनिक मनाने गये थे. दरअसल, हर साल की तरह इस बार भी कार्तिक पूर्णिमा के खत्म होते ही रविवार को गंगा की रेत पर लोगों की काफी भीड़ जुटी थी. हर साल लोग वहां पिकनिक मनाने चले जाते हैं. इस बार भी वही हुआ. लेकिन, नहाने के दौरान इस बार हादसा हो गया.

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर वैशाली डीएम रचना पाटील, फतुहा डीएसपी सुनील कुमार, सीओ संजीव कुमार फतुहा थानाध्यक्ष नसीम अहमद, नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी श्याम नंदन प्रसाद पहुंचे. इधर, गोताखोरों का कही अता-पता नहीं था. पूर्व नगर उपाध्यक्ष संजय गोप के नेतृत्व में नोहटा निवासी युवक ही नदी से 6 शवों को नदी से निकाला.

बाद में एनडीआरएफ की टीम पहुंची और शव की खोजबीन मे जुटी है. मृतकों में नोहटा फतुहा निवासी शंकर यादव की पत्नी संजू देवी, शंकर यादव की पुत्री छोटी कुमारी 10 वर्ष, बिहारी यादव के पुत्र गौतम कुमार 10 वर्ष, अरुण प्रसाद के पुत्र आरती कुमारी 10 वर्ष, राधे श्याम प्रसाद के पुत्र राजो कुमारी के रूप मे हुई है. वहीं बिहारी यादव के पुत्र गौरव 12 वर्ष और रामबली यादव के पुत्री संजना कुमारी उर्फ काजल 12 वर्ष की तलाश जारी है.

मुख्यमंत्री ने घटना पर गहरा दुख जताया
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मस्तान घाट पर गंगा नदी में डूबने से हुई लोगों की मौत पर गहरा दुख व्यक्त किया है. मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार नीतीश ने इस हादसे को बेहद दुखद बताया और हादसे में मारे गये लोगों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस हादसे में मृत सभी लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये का अनुग्रह अनुदान दिया जायेगा. पटना जिलाधिकारी ने बताया कि इस हादसे में मरने वाले लोग दो परिवार से हैं.

एक को डूबने से बचाने की कोशिश में बाकी डूबे
अहमद ने बताया कि मस्तान घाट होकर पिकनिक मनाने गंगा नदी में टापूनुमा बने उस स्थान पर गये इन लोगों में से किसी एक के नदी में नहाने के दौरान डूबने पर उन्हें बचाने की कोशिश में बाकी लोग भी डूब गये. उन्होंने बताया कि दो लापता लोगों की तलाश गोताखोरों की मदद से जारी है. 


बागमती नदी में 3 महिलाओं की डूबने से मौत
समस्तीपुर जिले के शिवाजी नगर पुलिस चौकी के अंतर्गत मधुरापुर धर्मपुर घाट के पास आज सुबह बागमती नदी में एक छोटी नौका के असंतुलित होकर पलट जाने से उस पर सवार एक दर्जन से अधिक लोग नदी की धारा में बहने लगे जिनमें तीन महिलाओं की डूबने से मौत हो गयी. जबकि नदी से बेहोशी की अवस्था में निकाले गये पांच अन्य लोगों को इलाज के लिए शिवाजी नगर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है.

रोसडा अनुमंडल के पुलिस उपाधीक्षक अजीत कुमार ने बताया कि मृतकों में पूनम देवी, रीता कुमारी और नगीना देवी शामिल हैं. जिनकी उम्र 20 से 30 वर्ष के बीच है. नौका पर सवार अन्य लोग तैरकर नदी से बाहर निकल गये. अजीत ने बताया कि यह हादसा उस समय हुआ जब ये लोग उक्त नौका पर सवार होकर मवेशियों के लिए चारा लाने के लिए बागमती नदी पार कर रहे थे.

Advertisement

Comments

Advertisement