ranchi

  • Dec 11 2019 6:43AM
Advertisement

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : बसों को जब्त किये जाने से यात्री परेशान, ट्रेनों में भीड़ बढ़ी

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : बसों को जब्त किये जाने से यात्री परेशान, ट्रेनों में भीड़ बढ़ी
वाहनों की छत पर यात्रा करने को मजबूर हैं लोग 
 
रांची : विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जिला प्रशासन ने बस समेत अन्य छोटे वाहनों को जब्त  कर लिया है. वाहनों के जब्त होने के कारण यात्रियों को काफी परेशानी हो रही  है. लोग जैसे-तैसे यात्रा करने को मजबूर हैं.
 
वाहनों की संख्या कम होने के  कारण लोग गाड़ियों की छत पर सफर करने को मजबूर हैं.वहीं रांची से रामगढ़,  बुंडू, तमाड़, खूंटी  आदि जगहों पर जाने के लिए यात्रियों को अधिक किराया  देना पड़ रहा है. रांची से रामगढ़ जाने के लिए पहले जहां 40 से 50 रुपये  किराया देना पड़ता था, वहीं अब इसके लिए 100 व उससे अधिक रुपये लिये जा रहे  हैं. 
 
खादगढ़ा बस स्टैंड से जहां सामान्य दिनों में हर दिन 250 से 300 बसें खुलती थीं, वहीं अब इसकी संख्या घटकर 100 के आसपास रह गयी है. इस कारण यात्री भी कम पहुंच रहे हैं. स्टैंड के संचालक ने कहा कि काफी पहले  से ही जिला प्रशासन ने बसों को जब्त करना शुरू कर दिया था. बसों की संख्या कम होने के कारण यात्रियों को काफी परेशानी हो रही है.  
 
रांची से पटना के लिए जहां अमूमन 15 से 20 बसें खुलती थीं, वहीं अब पांच के आसपास बसें ही खुल रही हैं. इसी तरह दरभंगा, टाटा, धनबाद, हजारीबाग, गया, जहानाबाद, बिहार शरीफ, भागलपुर, दुमका, मुजफ्फरपुर, वाराणसी सहित अन्य जगहों की सेवाओं पर भी असर पड़ा. इसके अलावा सिमडेगा, गुमला, लोहरदगा सहित अन्य जगहों के लिए जाने वाली बसों की संख्या में भी काफी कमी आयी है. मंगलवार को खादगढ़ा बस स्टैंड में यात्रियों की कम भीड़ दिखी.  
 
इधर, बसों की संख्या कम होने से ट्रेनों में यात्रियों की भीड़ बढ़ गयी है. रांची से खुलने वाली हटिया-पटना-पूर्णिया कोर्ट एक्सप्रेस, हटिया-पटना पाटलिपुत्रा एक्सप्रेस, दुमका इंटरसिटी, धनबाद इंटरसिटी, मौर्य एक्सप्रेस, क्रिया योगा एक्सप्रेस, झारखंड स्वर्ण जयंती, लोहरदगा पैसेंजर, तपस्विनी एक्सप्रेस, झारसुगुड़ा पैसेंजर सहित अन्य ट्रेनों में यात्रियों की भीड़ बढ़ गयी है. 
 
सामान्य श्रेणी में सीट से अधिक यात्री सफर कर रहे हैं. कई ट्रेनों में शौचालय व गेट के पास भी लोग सफर करने को मजबूर हैं.  मालूम हो कि इन दिनों विवाह का मौसम होने के कारण लोगों का आवागमन बढ़ गया है.  रेलवे के अधिकारी ने कहा कि बस की संख्या कम होने से ट्रेनों में थोड़ी भीड़ बढ़ गयी है.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement