bhojpur

  • Jan 24 2020 6:53AM
Advertisement

स्वर्ण व्यवसायी के हत्यारोपित धराये

स्वर्ण व्यवसायी के हत्यारोपित धराये

 आरा : जिले के बड़हरा थाना क्षेत्र के नथमलपुर गांव में 29 दिसंबर को हुई एक स्वर्ण व्यवसायी की गोली मारकर हत्या करने के मामले में फरार अपराधी समेत तीन को भोजपुर पुलिस ने धर दबोचा. पकड़े गये अपराधियों के पास से पुलिस ने स्वर्ण व्यवसायी की हत्या में प्रयुक्त हथियार को भी बरामद कर लिया.

 
 पुलिस ने उनके पास से एक कट्टा, एक पिस्टल तथा चार 315 बोर की गोली तथा एक 7.65 एममए का कारतूस बरामद किया है. पकड़े गये लोगों में बड़हरा थाना क्षेत्र के बखोरापुर गांव निवासी स्व रमेश सिंह का पुत्र विष्णु सिंह, नवादा थाना क्षेत्र के पकड़ी निवासी ओम प्रकाश का पुत्र धर्मेंद्र प्रसाद तथा एक नाबालिग भी शामिल है.
 
 तीनों को पूछताछ के बाद जेल भेज दिया गया. जबकि घटना का मुख्य आरोपित कुख्यात नित्यानंद सिंह को पुलिस पहले ही जेल भेज चुकी है. इस मामले में गुरुवार को प्रेसवार्ता कर एसपी सुशील कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि स्वर्ण व्यवसायी श्रीमननारायण गुप्ता की 29 दिसंबर को गोली मारकर हत्या की गयी थी.
 
 इस मामले में नथमलपुर गांव निवासी नित्यानंद सिंह मुख्य आरोपित था, जिसे एसटीएफ और भोजपुर पुलिस की स्पेशल टीम ने दिल्ली और हरियाणा के सीमावर्ती इलाके बहादुरगढ़ से गिरफ्तार किया था. उसे आरा लाया गया.
 
 आरा लाने के बाद पूछताछ के क्रम में उसने बताया कि हत्या की घटना में प्रयुक्त हथियार को वह हरियाणा भागते समय अपने साला को देकर चला गया था. जो शाहपुर थाना क्षेत्र के सहजौली गांव का रहनेवाला है. वर्तमान में वह नवादा थाना क्षेत्र के पकड़ी मुहल्ले में किराये के मकान पर रहता है, जहां से पुलिस ने छापेमारी कर एक कट्टा तथा चार 315 बोर का कारतूस तथा एक 7.65 का कारतूस बरामद किया. 
 
वहीं, उसके निशानदेही पर जज कोठी मोड़ के समीप लिट्टी-चोखा बेचनेवाले धर्मेंद्र प्रसाद को पुलिस ने गिरफ्तार किया, जिसके पास से एक पिस्टल बरामद की गयी. जो आभूषण व्यवसायी के हत्या में इस्तेमाल हुआ था. हथियार बरामदगी को लेकर नवादा थाने में एक मामला दर्ज किया गया. 
 
वहीं, हत्या के मामले में भी शामिल अपराधी के खिलाफ सिन्हा ओपी में मामला दर्ज किया गया. स्वर्ण व्यवसायी की हत्या के मामले में फरार चल रहा नित्यानंद के भाई की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी चल रही है. बता दें कि स्वर्ण व्यवसायी की हत्या करने के बाद नित्यानंद सिंह फरार हो गया था. वह पुलिस की डर से दिल्ली और हरियाणा जाकर छिप गया था. तकनीकी सूत्रों के आधार पर एसटीएफ की पुलिस ने उसे हरियाणा से गिरफ्तार किया था. 
 
नथमलपुर गांव में स्वर्ण व्यवसायी की हत्या में इस्तेमाल हथियार भी बरामद 
हथियारों की बरामदगी को लेकर एसपी ने गठित की थी छापेमारी टीम 
एसपी ने बताया कि इस मामले में हथियार बरामदगी को लेकर सहायक पुलिस अधीक्षक सह सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी आरा अंबरिश राहुल के नेतृत्व में विशेष छापेमारी दल का गठन किया गया, जिसमें नवादा थानाध्यक्ष संजीव कुमार, पुलिस इंस्पेक्टर नंद किशोर सिंह, कोइलवर अंचल, सिन्हा ओपी अध्यक्ष सुधीर कुमार सिन्हा, बड़हरा थानाध्यक्ष अवधेश कुमार को तथा बीआइयू टीम को शामिल किया गया. सभी लोगों ने छापेमारी कर तीनों को गिरफ्तार किया तथा हथियार बरामद किया गया. 
 
चार्जशीट कर स्पीडी ट्रायल चलाकर दिलायी जायेगी सजा 
 
एसपी ने प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि इस मामले में अपराधियों के विरुद्ध जल्द-से-जल्द चार्जशीट करते हुए स्पीडी ट्रायल चलाकर सजा दिलायी जायेगी. इसको लेकर एसपी ने पदाधिकारियों को दिशा निर्देश देते हुए कहा कि जल्द-से-जल्द मामले में चार्जशीट समर्पित करे तथा फरार अपराधियों की गिरफ्तारी जल्द-से-जल्द करें.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement