Advertisement

begusarai

  • Sep 16 2017 3:35AM

कठिन परिश्रम और अनुशासन जीवन में सफलता का मूल मंत्र

 कार्यक्रम . प्रशिक्षण शिविर सात सितंबर से प्रारंभ हुआ था

गढ़हारा : ओल्ड ट्रांजिट कैंप निपनियां(बरौनी) में आयोजित 23 बिहार बटालियन एनसीसी भागलपुर के तत्वावधान में दस दिवसीय वार्षिक प्रशिक्षण शिविर शुक्रवार को समारोह पूर्वक संपन्न हुआ. उक्त शिविर में मौजूद इंटर ग्रुप गवर्नर एवं एनसीसी निदेशालय बिहार एवं झारखंड के भागलपुर, पटना, गया, मुजफ्फरपुर, हजारीबाग एवं रांची के सैकड़ों कैडेटस को संबोधित करते हुए मेजर जेनरल शम्मी अवलांकर ने कहा कि अनुशासन और सच्ची मेहनत ही सफलता का मूल मंत्र है.
 
जो इस मूल मंत्र को दिनचर्या में शामिल कर लेगा.वह व्यक्ति जीवन के सभी क्षेत्रों में सफलता का परचम लहरायेगा. उन्होंने कहा कि एनसीसी का दूसरा नाम अनुशासन है. जीवन के प्रारंभिक दौर में किये गये कठिन परिश्रम एवं ईमानदारी सुख व आनंद का मार्ग प्रशस्त करता है. श्री अवलांकर ने कहा कि दस दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में बिहार और झारखंड से पहुंचे एनसीसी कैडेट्स ने विभिन्न प्रकार के आयोजित प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन एवं अनुशासन का परिचय दिया.
इसके लिए उन्होंने सभी कैडेटस को धन्यवाद दिया और उज्ज्वल भविष्य की कामना की. प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन करने वाले विभिन्न ग्रुपों के कैडेटस को मेजर जेनरल श्री अवलांकर ने मेडल एवं शील्ड प्रदान कर सम्मानित किया. सम्मान पाते ही एनसीसी कैडेट्स के चेहरे खिल उठे. मालूम हो कि दस दिवसीय प्रशिक्षण शिविर के दौरान मॉकड्रिल, फायरिंग,पोस्टर,मेकिंग,भाषण,वेस्ट कैडेट,नैतिक ज्ञान,वालीबॉल एवं अन्य खेलकूद प्रतियोगिता आयोजित की गयी थी. विदित हो कि दस दिवसीय प्रशिक्षण शिविर सात सितंबर से प्रारंभ हुई थी. मौके पर कैंप कमांडेंट कर्नल रंजीत सिंह, कृष्णा एवं एनसीसी कैडेटस रोहित कुमार समेत सैकड़ों मौजूद थे.
 
Advertisement

Comments