लोगों को मारने के लिए इंडियन मुजाहिद्दीन की जहरीले पत्र भेजने की योजना थी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली: इंडियन मुजाहिदीन ऐसे लोगों को मारने के लिए उन्हें ‘‘जहर बुझे पत्र’’ भेजने की योजना बना रहा था जिन्हें वह शिकार बनाना चाहता था. कथित रुप से गैर कानूनी हथियार फैक्टरी स्थापित किए जाने के मामले में आतंकवादी संगठन के छह संदिग्ध लोगों के खिलाफ अदालत में दाखिल किए गए अपने आरोपपत्र में पुलिस ने यह खुलासा किया है.

अपने पूरक आरोपपत्र में दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा ने दावा किया है कि पूछताछ के दौरान आईएम के संदिग्ध उग्रवादियों तहसीन अख्तर और मोहम्मद वकार अजहर ने बताया था कि उन्होंने उपलब्ध रसायनों से जहर बनाने का प्रयास किया था.

आरोपपत्र में कहा गया है, ‘‘ पूछताछ के दौरान, आरोपियों वकार और तहसीन ने खुलासा किया कि उन्होंने मैग्नीशियम सल्फेट , एसीटोन और कैस्टर सीड्स जैसे उपलब्ध रसायनों की मदद से जहर बनाने की कोशिश की थी.’’

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश रीतेश सिंह के समक्ष दाखिल आरोपपत्र में कहा गया है, ‘‘जहर बनाने के पीछे उनका मकसद जहर बुङो पत्र भेजकर अपने शिकार को निशाना बनाना था. वकार से ये रसायन बरामद किए गए हैं.’’ पूरक आरोपपत्र में पुलिस ने आईएम के शीर्ष सदस्यों तहसीन अख्तर, जिया उर रहमान, मोहम्मद वकार अजहर , मोहम्मद मारुफ , मोहम्मद साकेब अंसारी तथा इम्तियाज आलम का नाम आरोपी के रुप में लिया है. इन सभी को गिरफ्तार किया जा चुका है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें