1. home Hindi News
  2. health
  3. control high uric acid by changing daily morning breakfast routines know symptoms treatment causes home remedies foods diet chart yoga latest health news in hindi smt

High Uric Acid को कम करने के लिए नाश्ते में शामिल करें ये फाइबर युक्त भोजन, खाली पेट करें ये उपाय

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
breakfast for high uric acid
breakfast for high uric acid
Prabhat Khabar Graphics

How to control High Uric Acid, home remedies, foods, diet chart, symptoms, treatment, causes, yoga : ज्यादातर समय, एक उच्च यूरिक एसिड (High Uric Acid) के स्तर में वृद्धि होने से किडनी की फिल्टर क्षमता (kidney filter rate) कमजोर हो जाती है. यही कारण है कि यूरिन यूरिक एसिड (Uric Acid) में बदल जाता है और हड्डियों के बीच जा पहुंचता है. जो विभिन्न रोगों (high uric acid side effects) का कारण बन सकता है. लेकिन, इसे समय रहते ठीक किया जा सकता है. इसके लिए आपको अपने खानपान (high uric acid diet) और दिनचर्या (uric acid lifestyle) में थोड़ा सा बदलाव की जरूरत पड़ेगी. उच्च फाइबर (high fiber foods for uric acid) के भोजन के अलावा आपको नाश्ते से पहले ये निम्नलिखित बदलाव करना चाहिए...

मॉयो क्लिनिक में छपी रिपोर्ट की मानें तो उच्च यूरिक एसिड के बढ़ने के निम्नलिखित कारण हो सकते हैं (causes of uric acid)

  1. मूत्रवर्धक दवाएं

  2. बहुत अधिक शराब पीना

  3. विरासत में मिली बीमारी

  4. थायरॉयड

  5. विटामिन बी -3 की मात्रा

  6. मोटापा

  7. ज्यादा प्यूरीन युक्त आहार (जिगर, मांस, ग्रेवी, सूखे बीन्स और मटर, मशरूम समेत अन्य खाद्य पदार्थ)

  8. गुर्दे का फिल्टर नहीं कर पाना

  9. कुछ कैंसर के कारण या कीमोथेरेपी के कारण रक्त में कोशिकाओं का तेजी से रिलीज करना

कैसे कम करें यूरिक एसिड लेवल (how to control Uric Acid)

इन हाई फाइबर फूड्स को नाश्ते में करें शामिल

कई अध्ययन से पता चला है कि बढ़े हुए यूरिक एसिड के मरीजों को हाई फाइबर फूड का सेवन करना चाहिए. डॉक्टरों का भी मानना है कि सुबह नाश्ता हाई फाइबर आहार लेने से पेट की सारी वेस्ट मैटिरियल मल के माध्यम से शरीर से बाहर आ जाती है. जिससे शरीर में यूरिक एसिड का लेवल मेंटेन रहता है. हाई फाइबर फूड्स में आप सेब, संतरे, अजवाइन, गाजर, ली, खीरे, नाशपाती और जौ आदि का सेवन कर सकते हैं.

अलसी के बीज खाली पेट में चबाकर खाएं

इसके अलावा अलसी के बीज खाने से भी यूरिक एसिड के मरीज को काफी राहत मिलती है. विशेषज्ञों की मानें तो इसे चबाकर खाना चाहिए. जिससे यूरिक एसिड नियंत्रित रखने में मदद मिलती है. इसे भी सुबह नाश्ते से पहले सेवन कर सकते हैं.

नाश्ते से पहले लें निंबू-पानी

जिन मरीजों का बार-बार यूरिक एसिड रिपोर्ट बढ़ा हुआ आ रहा है. उनके लिए निंबू-पानी का सेवन उत्तम उपाय है. विशेषज्ञों की मानें तो नाश्ते से थोड़े देर पहले खाली पेट गुनगुने पानी और नींबू का मिश्रण पीना भी यूरिक के स्तर को घटाने का काम करता है.

विटामिन सी युक्त इन आहारों को करें नाश्ते में सेवन

विटामिन सी वाले फूड कोरोना काल में तो जरूरी है साथ ही साथ ये कई मामलों में लाभदायक है. कुछ विटामिन सी युक्त फूड्स जैसे कीवी, आंवला, संतरा, नींबू, अमरूद, कीवी, टमाटर समेत अन्य हरी पत्तेदार सब्जियां का सेवन करने से यूरिक एसिड के स्तर को काफी हद तक कम किया जा सकता है. अत: नाश्ते में ऐसे आहार का सेवन जरूरी है.

इन आहार को भी नाश्ते में या पहले करें सेवन

इसके अलावा कम वसा वाले दूध-दही, ताजा सब्जियों का रस, फ्रेंच बीन्स और सेब का सिरका आदि कई सामान्य आहारों के सेवन से यूरिक एसिड का लेवल कम किया जा सकता है.

नाश्ते से पहले ये चार योग भी लाभदायक

इसके अलावा वृक्षासन, भुजंगासन, उष्ट्रासन और कपोतासन जैसे कुछ योग को अपने रूटीन में शामिल कर लेना चाहिए. ऐसा करने से भी यूरिक एसिड को कंट्रोल किया जा सकता है.

Posted By : Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें