1. home Hindi News
  2. career
  3. iit madras started this program will get bsc degree

आईआईटी मद्रास ने शुरू किया ये प्रोग्राम, मिलेगी BSC की डिग्री

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
आईआईटी मद्रास डेटा विज्ञान और प्रोग्रामिंग ऑनलाइन कोर्स की शरुआत करने जा रहा है, जिसमें छात्र 12 वीं के बाद भी इस कोर्स में दाखिला ले सकते हैं
आईआईटी मद्रास डेटा विज्ञान और प्रोग्रामिंग ऑनलाइन कोर्स की शरुआत करने जा रहा है, जिसमें छात्र 12 वीं के बाद भी इस कोर्स में दाखिला ले सकते हैं
Twitter

आईआईटी मद्रास एक ऑनलाइन कोर्स की शरुआत करने जा रहा है, दरअसल आईआईटी मद्रास ने डेटा विज्ञान और प्रोग्रामिंग में डिप्लोमा और बीएससी कार्यक्रम की शुरुआत की है जिसकी पढ़ाई ऑनलाइन संचालित की जाएंगी. भले ही ये इसकी पढ़ाई ऑन लाइन होंगी लेकिन इसकी परीक्षा और इस परीक्षा का मूल्यांकन ऑफलाइन मोड में होगा.

आईआईटी मद्रास के निदेशक इस बारे में बातचीत करते हुए कहते हैं कि इन पाठ्यक्रमों का लाभ बड़ी संख्या में छात्रों तक पहुंचाना है, इस पाठ्यक्रम के जरिए प्रमाण पत्र, डिप्लोमा और डिग्री प्राप्त कर सकते हैं. इस मौके पर एचआरडी मंत्री ने भी बयान दिया है उन्होंने कहा कि, ‘आमतौर पर सीटों की सीमित उपलब्धता के कारण आईआईटी में प्रवेश प्राप्त करना बड़ी चुनौती होती है. आज इस ऑनलाइन प्रोग्राम को शुरू करते हुए मुझे बेहद खुशी हो रही है क्योंकि आईआईटी मद्रास के इस बेहद महत्वपूर्ण कदम से अब भारत के छात्रों को आईआईटी की डिग्री पाने के साथ-साथ अपनी योग्यता बढ़ाने का भी मौका मिलेगा.’ उन्होनें आगे कहा कि भारत और दुनिया भर के उद्योगों में प्रोग्रामिंग और डेटा साइंस की मांग बढ़ती जा रही है. भविष्य में होने वाले औद्योगिक विकास में इसका महत्वपूर्ण योगदान होगा. इसलिए बड़ी संख्या में नई पीढ़ी के पेशेवरों को भविष्य के लिए तैयार करने के लिए आईआईटी मद्रास की यह पहल बेहद स्वागत योग्य है.

क्या है इस पाठ्यक्रम में दाखिला लेने की योग्यता

इस पाठ्यक्रम में दाखिला लेने की योग्यता 12 वीं पास ही है लेकिन उन लोगों को एक फाउंडेशन कोर्स करना भी जरूरी होगा. जबकि जो छात्र कॉलेज की पढ़ाई पूरी कर चुके हैं वो इस कोर्स में सीधे डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश कर सकते हैं.

कैसे करें आवेदन

कोर्स में शामिल होने वाले इच्छुक छात्र इसकी वेबसाईट oniltegree.iitm.ac.in पर जाकर आवदान कर सकते हैं, आवेदन शीघ्र ही खुले होंगे. आवेदन करने की अंतिम तिथि 15 सितंबर रखी गयी है. फाउंडेशन कोर्स करने के बाद छात्रों को इसका प्रमाण पत्र मिलेगा जबकि 1 साल के बाद डिप्लोमा की डिग्री ले सकते हैं. जबकि तीन साल की पढ़ाई करने बाद इसकी डिग्री दी जाएगी. पाठ्यक्रम को 6 सेमेस्टर में विभाजित किया गया है.

किस चीज की पढ़ाई होगी इस कोर्स में

इस पाठ्यक्रम में दाखिला लेने वाले छात्रों को प्रोग्रामिंग और डेटा साइंस की मूल बातें पढ़ाई जाएंगी, जबकि अंतिम वर्ष के छात्रों को स्पेशलाइजेशन के बारे में सीखना होगा. तीन साल के बाद उन्हें बीएससी की डिग्री दे दी जाएगी.

Posted By: sameer oraon

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें