1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. trai new rule regarding landline to mobile calls 11 digit mobile number apply zero before mobile number to call from fixed landline new rule to come into effect from january in the new year trai dept of telecom new rule guideline all you need to know rjv

TRAI New Rule: 15 जनवरी से बिना जीरो के नहीं लगेगा कॉल, जानिए ट्राई के नए नियमों से लैंडलाइन यूजर्स के लिए क्या बढ़ गया काम

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
15 जनवरी से landline से मोबाइल फोन (Mobile Phone) पर कॉल (calling) करते समय नंबर से पहले शून्य यानी 'जीरो' (0) लगाना होगा.
15 जनवरी से landline से मोबाइल फोन (Mobile Phone) पर कॉल (calling) करते समय नंबर से पहले शून्य यानी 'जीरो' (0) लगाना होगा.
Twitter

TRAI New Rule, Landline to Mobile Calls: नये साल में 15 जनवरी से (landline) से मोबाइल फोन (Mobile Phone) पर कॉल (calling) करते समय नंबर से पहले शून्य यानी 'जीरो' (0) लगाना होगा. दूरसंचार विभाग (telecom companies) ने इससे जुड़े ट्राई (TRAI) के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है. फिक्स्ड लाइन और मोबाइल के लिए भविष्य में और अधिक नंबर वितरित किये जाने की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए ट्राई की सिफरिशों को दूरसंचार विभाग ने मंजूर किया है. यह नयी व्यवस्था इसी के चलते लागू हो रही है.

संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की ओर से जारी सूचना के मुताबिक, सभी फिक्स्ड लाइन से मोबाइल पर फोन करने के लिए 15 जनवरी, 2021 से नंबर से पहले जीरो लगाना अनिवार्य होगा. भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने इस साल मई में लैंडलाइन से मोबाइल फोन पर कॉल करने से पहले शून्य संख्या डायल करने की सिफारिश की थी. इससे दूरसंचार सेवाप्रदाता कंपनियों को अधिक नंबर बनाने की सुविधा मिलेगी.

लैंडलाइन से लैंडलाइन, मोबाइल से लैंडलाइन और मोबाइल से मोबाइल पर फोन करने में कोई बदलाव नहीं होगा. इसके लिए उपयुक्त घोषणा की जाएगी. यह घोषणा जब कोई यूजर लैंडलाइन से मोबाइल पर बिना जीरो लगाये नंबर मिलाएगा तब उसे सुनाई देगी. सभी लैंडलाइन यूजर्स को जीरो डायल करने की सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी.

मंत्रालय के मुताबिक, इससे भविष्य में अधिक संख्या में नये नंबरों की मांग पूरी की जा सकेगी. नये नंबरों के लिए पर्याप्त स्थान सृजित होने पर आने वाले समय में नये नंबर जुड़ने से मोबाइल उपभोक्ताओं को व्यापक रूप में लाभ होगा. इस नये बदलाव के लिए यह ध्यान रखा गया है कि यूजर्स को किसी तरह की समस्या ना हो और नये नंबरों के लिए पर्याप्त स्थान सृजित किया जा सके.

दूरसंचार विभाग ने हाल में दूरसंचार कंपनियों ने इस नयी व्यवस्था के क्रियान्वयन के लिए एक जनवरी तक जरूरी उपाय करने को कहा है. दूरसंचार विभाग ने फिक्स्ड लाइन और मोबाइल के लिए भविष्य में और अधिक नंबर वितरित किये जाने की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए दूरसंचार नियामक ट्राई की सिफारिशों को मंजूर करते हुए उसे क्रियान्वित करने का फैसला किया है. भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने इस साल मई में लैंडलाइन से मोबाइल फोन पर कॉल करने से पहले शून्य संख्या डॉयल करने की सिफारिश की थी.

दूरसंचार विभाग ने कहा कि दूरसंचार कंपनियों को लैंडलाइन के सभी ग्राहकों को शून्य डायल करने की सुविधा देनी होगी. यह सुविधा अभी अपने क्षेत्र से बाहर के कॉल करने के लिए उपलब्ध है. दूरसंचार कंपनियों इस नयी व्यवस्था को अपनाने के लिए एक जनवरी तक का समय दिया गया है.

डायल करने के तरीके में इस बदलाव से दूरसंचार कंपनियों को मोबाइल सेवाओं के लिए 254.4 करोड़ अतिरिक्त नंबर सृजित करने की सुविधा मिलेगी. यह भविष्य की जरूरतों को पूरा करने में मददबार साबित होगी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें