1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. sbi warns its customers against online banking fraud shares dos and donts tips for safe online banking mobile banking fraud internet banking online fraud sbi customers sbi account holders sbi news rjv

SBI ने अपने ग्राहकों को किया अलर्ट, सेफ ऑनलाइन बैंकिंग के लिए बताये DOs & DON'Ts

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
state bank of India
state bank of India
file photo

State Bank Of India, Online Fraud, DOs & DON'Ts: देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों को साइबर फ्रॉड से बचने के कुछ उपाय साझा किये हैं. बैंक ने एक वीडियो ट्वीट के जरिये कुछ उपाय बताये हैं जिनसे धोखाधड़ी से बचा जा सकता है. SBI ने एक वीडियो क्लिप के साथ ट्वीट किया, मोबाइल हैकर्स का शिकार न हों और अपने डिवाइस को सुरक्षित रखने के कुछ स्मार्ट तरीके सीखें. हैकर्स के लिए मुश्किलें खड़ी करें. बता दें कि SBI के देश 44 करोड़ से ज्यादा ग्राहक हैं.

इस वीडियो क्लिप में एसबीआई ने सुरक्षा हमले से बचने के लिए बताया है कि ग्राहक क्या करें और क्या न करें,

क्या न करें

1) अपने मोबाइल फोन को कभी भी पहुंच से बाहर न रखें.

2) किसी भी अनयूज्ड एप्लीकेशन और कनेक्शन को खुला न छोड़ें.

3) अपने मोबाइल फोन को कभी भी अज्ञात या अविश्वसनीय नेटवर्क से न जोड़ें.

4) अपने मोबाइल में पासवर्ड, यूजरनेम जैसी संवेदनशील जानकारी कभी न रखें.

5) कभी भी वायरस से प्रभावित डेटा को दूसरे मोबाइल फोन पर फॉरवर्ड न करें.

क्या करें

1) डेटा का नियमित बैकअप लें.

2) 15 अंकों वाले IMEI नंबर को नोट करें.

3) हमेशा अपने मोबाइल फोन की स्क्रीन लॉक रखें.

4) मोबाइल फोन से कंप्यूटर में किसी भी डेटा को ट्रांसफर करने से पहले, नये एंटीवायरस सॉफ्टवेयर के साथ डेटा को स्कैन करें.

5) मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम को नियमित रूप से अपडेट करें.

आपको बता दें कि SBI ने अपने खाताधारकों को एटीएम से पैसा निकालते समय कुछ सावधानियां बरतने को कहा है, ताकि धोखाधड़ी से बचा जा सके. बैंक ने ट्वीट के जरिये ग्राहकों को सावधान किया था.

इससे पहले एसबीआई ने चार्जिंग स्टेशनों पर अपने फोन चार्ज करने को लेकर चेतावनी जारी की थी. बैंक ने चार्जिंग स्टेशनों पर अपने फोन को प्लग-इन करने से पहले ग्राहकों को सोच विचार की सलाह दी थी.

गौरतलब है कि इन दिनों बैंकिंग फ्रॉड के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. आरबीआई की रिपोर्ट के अनुसार, डिजिटल लेनदेन के चलते साल 2018-19 में 71,543 करोड़ रुपये का बैंकिंग फ्रॉड हुआ है. इस अवधि में बैंक फ्रॉड के 6800 से अधिक मामले सामने आये. साल 2017-18 में बैंक फ्रॉड के 5916 मामले सामने आये थे. इनमें 41,167 करोड़ रुपये से अधिक की धोखाधड़ी हुई थी. पिछले 11 वित्त वर्ष में बैंक फ्रॉड के कुल 53,334 मामले सामने आये हैं, जबकि इनके जरिये 2.05 लाख करोड़ रुपये की धोखाधड़ी हुई है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें