1. home Home
  2. tech and auto
  3. how is iphone 13 pro max camera used in eye treatment rjv

iPhone 13 Pro Max का ऐसा भी इस्तेमाल हो सकता है! आपने सोचा भी नहीं होगा

Apple iPhone अपनी प्राइस को लेकर लोगों के बीच चर्चा में तो रहते ही हैं, यह प्रोडक्ट अपनी परफॉर्मेंस के भी लिए भी सारी दुनिया में जाना जाता है. कंपनी ने हाल में iPhone 13 सीरीज लॉन्च की. इसमें टॉप एंड वेरिएंट iPhone 13 Pro Max, उसके बाद iPhone 13 Pro, iPhone 13 और iPhone 13 mini स्मार्टफोन हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
iPhone 13 Pro Max camera use in eye testing
iPhone 13 Pro Max camera use in eye testing
apple inc

Apple iPhone अपनी प्राइस को लेकर लोगों के बीच चर्चा में तो रहते ही हैं, यह प्रोडक्ट अपनी परफॉर्मेंस के भी लिए भी सारी दुनिया में जाना जाता है. कंपनी ने हाल में iPhone 13 सीरीज लॉन्च की. इसमें टॉप एंड वेरिएंट iPhone 13 Pro Max, उसके बाद iPhone 13 Pro, iPhone 13 और iPhone 13 mini स्मार्टफोन हैं.

iPhone पूरी दुनिया में अपने बेहतरीन फीचर्स के लिए जाने जाते हैं. वहीं iPhone 13 Pro Max ऐसे ही एक नये फीचर के साथ आया है. वह है, एक कैमरे के साथ बहुत क्लोज-अप फोटो (close-up photos) और वीडियो कैप्चर करने के लिए एक नया मैक्रो मोड.

मैक्रो कैमरा से आंखों का इलाज

iPhone 13 Pro Max के ज्यादातर यूजर्स जहां नैचुरल पिक्चर को कैप्चर करने के लिए नये मोड का इस्तेमाल कर रहे हैं, वहीं अमेरिकी डॉक्टर टॉमी कॉर्न (Tommy Korn) ने पाया है कि आईफोन 13 प्रो का मैक्रो कैमरा आंखों के इलाज के लिए भी उपयोगी हो सकता है.

iPhone 13 Pro Max use in eye testing
iPhone 13 Pro Max use in eye testing
LinkedIn/Tommy Korn

तस्वीरों में दिखाया इलाज का फर्क

अमेरिका के कैलिफोर्निया में शार्प हेल्थ केयर के एक नेत्र रोग विशेषज्ञ टॉमी कॉर्न मरीजों की आंखों के मैक्रो शॉट्स क्लिक करने के लिए आइफोन प्रो मैक्स का इस्तेमाल कर रहे हैं. डॉक्टर ने अपने लिंक्डइन प्रोफाइल पर एक मरीज की आंख के मैक्रो शॉट्स और तीन दिनों में सुधार की चार तस्वीरें शेयर कीं. डॉक्टर ने तस्वीरों के साथ कॉर्निया प्रत्यारोपण ( cornea transplant) के पहले और तीसरे दिन का फर्क भी समझाया.

आंखों की मैक्रो इमेज स्मार्टफोन में कैद

visible difference in eyes day by day
visible difference in eyes day by day
LinkedIn/Tommy Korn

हेल्थकेयर प्रॉफेशनल टॉमी कॉर्न ने अपने पोस्ट में बताया है कि आंखों की तस्वीरें लेने के लिए वह काफी पहले से मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर रहे हैं. यही नहीं, वह अपने मरीज से भी कहते हैं अपनी आंखों की मैक्रो इमेज को स्मार्टफोन से क्लिक करके आई केयर टीम द्वारा जांच के लिए भेज सकते हैं.

अगर डॉक्टर को आंख की गंभीर स्थिति का पता चलता है, तो रोगी को व्यक्तिगत रूप से मिलने के लिए बुलाया जाता है. इसके साथ ही, स्मार्टफोन द्वारा शूट की गई हाई-क्वालिटी वाली मैक्रो तस्वीरें आपात स्थिति पहचानने में मदद करती हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें