1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. challan issued to truck driver for driving the vehicle without wearing a helmet in ganjam district of odisha rjv

OMG! हेलमेट नहीं पहनने पर ट्रक ड्राइवर का कटा 1000 रुपये का चालान, जानें पूरा मामला

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
helmet rto challan truck
helmet rto challan truck
twitter

Truck Driver, Challan, Not Wearing Helmet, Odisha: हेलमेट पहनने की जरूरत आमतौर पर दोपहिया वाहन की सवारी करनेवालों को होती है, ताकि किसी दुर्घटना की स्थिति में बाइक, स्कूटर या मोपेड चालक या सवारी का कम से कम सिर सुरक्षित रहे. मोटर व्हीकल एक्ट (Motor Vehicle Act) के तहत यह एक जरूरी नियम है.

हैरतअंगेज मामला

हमारे देश भारत में यातायात के ऐसे नियमों का पालन करने के लिए ट्रैफिक पुलिस देशभर में सक्रिय है. यह बात अलग है कि लाख कोशिशों के बावजूद लोग यातायात के नियमों का पालन नहीं करते हैं. लेकिन क्या कभी आपने ऐसा सुना है कि किसी ट्रक ड्राइवर का हेलमेट नहीं पहनने पर चालान कटा हो? नहीं ना! लेकिन ओडिशा के गंजम जिले में ऐसा ही एक मामला सामने आया है.

ऐसे पता चला चालान का

न्यूज एजेंसी 'एएनआई' की रिपोर्ट के मुताबिक, यहां एक ट्रक चालक पर हेलमेट नहीं पहनने पर 1,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया है, जबकि ट्रक चलाने के लिए हेलमेट की जरूरत नहीं होती है. यह चालान पिछले साल 24 दिसंबर को जारी किया गया था. इस अजीबोगरीब चालान के बारे में ट्रक चालक को तब पता चला, जब वह अपने वाहन के परमिट को रिन्यू (नवीनीकरण) कराने के लिए परिवहन विभाग के दफ्तर (RTO) गया था.

तो क्या ट्रक चलानेवाले भी पहनें हेलमेट?

दरअसल, ओडिशा के गंजम जिले में ट्रक चालक प्रमोद कुमार ओडिशा परिवहन विभाग के दफ्तर अपने वाहन का परमिट रिन्यू करने पहुंचे थे. वहां उन्हें पता चला कि उनके वाहन OR-07W/4593 का हजार रुपये का चालान पेंडिंग है. यह जानकर प्रमोद हैरान रह गए, क्योंकि चालान ड्राइविंग के दौरान हेलमेट ना पहनने के नाम पर काटा गया था.

सोशल मीडिया में चर्चा का विषय

प्रमोद कुमार ने मीडिया को आपबीती सुनाते हुए कहा, मुझे बताया गया कि इस वाहन (ट्रक) पर तीन जुर्माना पहले से ही हैं. मैंने उस राशि का भुगतान किया और चालान लिया. जब मैंने चालान देखा, तो इसे हेलमेट नहीं पहनने के लिए लगाया गया था. अब यह घटना सोशल मीडिया में चर्चा का विषय बन चुकी है, जहां लोगों के तरह-तरह के कमेंट्स आ रहे हैं. कोई कह रहा है कि यह अनावश्यक रूप से लोगों को परेशान करने और पैसा वसूलने वाली बात है. वहीं, कोई कहता है कि सरकार को ऐसी गलतियों को रोकने के लिए कदम उठाने चाहिए.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें