1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. tmc lashes out at amit shahs online gathering to be held in west bengal

पश्चिम बंगाल में आयोजित होने वाले अमित शाह की ऑनलाइन सभा पर भड़की टीएमसी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पश्चिम बंगाल में आयोजित होने वाले अमित शाह की ऑनलाइन सभा पर भड़की टीएमसी
पश्चिम बंगाल में आयोजित होने वाले अमित शाह की ऑनलाइन सभा पर भड़की टीएमसी
twitter

कोलकाता: केंद्रीय गृहमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता अमित शाह ने आगामी 8 जून को भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के नेताओं, कार्यकर्ताओं और आम जनों के साथ ऑनलाइन जनसभा करने की घोषणा की है. इसके लिए सारी तैयारियां शुरू कर दी गयी हैं. इंटरनेट के जरिये अमित शाह की जनसभा को राज्य भर में असरदार बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी की ओर से जगह-जगह बड़े-बड़े प्रोजेक्टर लगाने की तैयारी की जा रही है ताकि ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर शाह संबोधन करना शुरू करें तो अधिकतर लोग देख सकें. इसके अलावा भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को सवाल पूछने हैं और आम कार्यकर्ताओं को इसमें शामिल होने का मौका भी दिया जा रहा है. इसे लेकर राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस और हमलावर हो गयी है.

पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने आरोप लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी का मुख्य लक्ष्य बंगाल में 2021 के विधानसभा चुनाव के समय अपनी स्थिति मजबूत करना है. इसी लक्ष्य के साथ पार्टी काम कर रही है. दरअसल, 2 दिन पहले ही राष्ट्रीय चैनलों को दिए अपने इंटरव्यू में केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल में अव्यवस्था का जिक्र किया था और आरोप लगाया था कि प्रवासी नागरिकों को वापस लौटाने समेत महामारी रोकथाम और बचाव के लिए पश्चिम बंगाल सरकार का रवैया काफी असंवेदनशील रहा है. इसके अलावा प्रवासी नागरिकों को घर पहुंचाने और महामारी पीड़ितों के बेहतर इलाज में भी सरकार ने लापरवाही बरती है. कई जगहों पर आंकड़े भी छिपाये गये हैं. ममता बनर्जी सरकार को चेतावनी देते हुए अमित शाह ने कहा था कि बंगाल के लोग इसे याद रखेंगे.

इसके बाद उन्होंने कहा था कि पश्चिम बंगाल और बिहार में विधानसभा चुनाव है जिसमें पार्टी जीतकर सरकार बनायेगी.इसी को आधार बनाकर ब्रायन हमलावर हो गये हैं. उन्होंने कहा है कि अमित शाह ने अपने बयान से बता दिया कि उनकी पार्टी का मुख्य लक्ष्य चुनाव में जीत हासिल करना है जानलेवा महामारी कोरोना से पार पाने में उन्हें कोई दिलचस्पी नहीं है. केंद्र सरकार पर अव्यवस्था का आरोप लगाते हुए डेरेक ओ ब्रायन ने कहा है कि 21 दिनों के लॉक डाउन करने से पहले श्रमिकों को केवल 4 घंटे का समय दिया गया और 4 घंटे पहले लॉकडाउन की घोषणा कर दी गयी. मजदूर दाने-दाने को तरसते रहे. उसके बाद उन्हें जानवरों की तरह ट्रेनों में ठूसकर बिना खाना पानी दिए उनके गृह राज्य रवाना कर दिया गया.

इस अव्यवस्था की वजह से 80 से ज्यादा मजदूरों की मौत हो गयी है. इसके लिए केंद्र सरकार जिम्मेवार है. डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि भाजपा का एकमात्र काम राजनीतिक लाभ लेना है और इसी लक्ष्य के साथ आगे बढ़ रही है. उल्लेखनीय है कि हाल ही में पश्चिम बंगाल में अम्फन चक्रवात आया था, जिसे संभालने में पश्चिम बंगाल सरकार बहुत हद तक अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकी थी. चक्रवात के 15 दिन बीत जाने के बाद भी कई क्षेत्रों में जलजमाव है. बिजली आपूर्ति सामान्य नहीं हो सकी है और मोबाइल नेटवर्क व इंटरनेट सेवाएं भी बाधित हैं. इसे लेकर भी भाजपा राज्य सरकार पर विफलता का आरोप लगा रही है.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें