1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. supreme court judge inaugurates first teladoc telemedicine consultation clinic of india mtj

Teladoc Center: सुप्रीम कोर्ट की जज ने किया भारत के पहले ‘टेलीमेडिसिन सेंटर’ का उद्घाटन

अस्पताल के एक अधिकारी ने बताया कि ‘टेलडॉक’ को दुनिया का सबसे उन्नत टेलीमेडिसिन प्लेटफॉर्म माना जाता है और कोलकाता केंद्र वैश्विक स्तर पर इसका सातवां केंद्र है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कोलकाता का टेलीमेडिसिन सेंटर
कोलकाता का टेलीमेडिसिन सेंटर
Twitter

कोलकाता: सुप्रीम कोर्ट की जज जस्टिस इंदिरा बनर्जी ने रविवार को कोलकाता में बने भारत के पहले ‘टेलडॉक केंद्र’ (Teladoc Telemedicine Consultation Clinic) का उद्घाटन किया. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इससे पूर्वी राज्यों के मरीजों को फायदा होगा. कोलकाता (Kolkata) के इलियट रोड स्थित ‘टेलडॉक परामर्श क्लिनिक’ का संचालन मदुरै के मीनाक्षी मिशन अस्पताल द्वारा किया जायेगा.

‘टेलडॉक’ दुनिया का सबसे उन्नत टेलीमेडिसिन प्लेटफॉर्म

जस्टिस इंदिरा बनर्जी ने कहा, ‘स्वास्थ्य का अधिकार एक बुनियादी मानवाधिकार है और मुझे उम्मीद है कि कोलकाता में ‘टेलडॉक’ की शुरुआत से पश्चिम बंगाल और पड़ोसी राज्यों के लोग लाभान्वित होंगे.’ अस्पताल के एक अधिकारी ने बताया कि ‘टेलडॉक’ को दुनिया का सबसे उन्नत टेलीमेडिसिन प्लेटफॉर्म माना जाता है और कोलकाता केंद्र वैश्विक स्तर पर इसका सातवां केंद्र है.

महामारी में कम्प्यूटर के उपयोग में आयी तेजी

जस्टिस बनर्जी ने कहा कि महामारी के दौरान कंप्यूटर के उपयोग में तेजी आयी है और यहां तक ​​कि अदालतों को भी ऑनलाइन काम करना पड़ा है. न्यायमूर्ति इंदिरा बनर्जी ने कहा कि मदुरै में उन्हें एक अस्पताल के बच्चों के कैंसर खंड का दौरा करने का अवसर मिला और वे भावुक हो गयीं.

डॉक्टरों का दृष्टिकोण था मानवीय

उन्होंने कहा, ‘लेकिन जो उपचार किया जा रहा था, वह वास्तव में प्रभावशाली था. अस्पताल साफ-सुथरा था. चिकित्सकों का दृष्टिकोण मानवीय था.’ उन्होंने कहा कि इलाज के दौरान यात्रा करने और वहां खड़े होने की परेशानी से अब काफी हद तक बचा जा सकता है, क्योंकि यहां जांच कंप्यूटर से की जाती है.

अनावश्यक यात्रा से बचेंगे मरीज

अस्पताल के अध्यक्ष डॉ एस गुरुशंकर ने कहा कि यह मरीजों को अनावश्यक यात्रा से बचने और संपूर्ण व्यक्ति की आभासी देखभाल सुविधा के माध्यम से विभिन्न विशिष्टताओं के विशेषज्ञों से जुड़ने में मदद करेगा. उन्होंने बताया कि ‘टेलडॉक’ के माध्यम से डॉक्टर से परामर्श लेने के बाद मरीज विशेष उपचार और सर्जरी प्राप्त करने के लिए मदुरै के अस्पताल जा सकते हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें