1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. jp nadda in bengal why are you so scared mamata banerjee from the month of may 2021 everything will be good in west bengal bjp president said this in tmc stronghold east bardhaman mtj

JP Nadda Bengal Visit: TMC के गढ़ में गरजे BJP अध्यक्ष नड्डा, ममता जी, एतो भय केनो? की होयेछे? मई मास थेके सोब होबे, होबे, होबे...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
JP Nadda Bengal Visit: TMC के गढ़ में गरजे BJP अध्यक्ष नड्डा, ममता जी, एतो भय केनो? मई मास थेके सोब होबे, होबे, होबे...
JP Nadda Bengal Visit: TMC के गढ़ में गरजे BJP अध्यक्ष नड्डा, ममता जी, एतो भय केनो? मई मास थेके सोब होबे, होबे, होबे...
Twitter

JP Nadda Bengal Visit: कोलकाता : भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा शनिवार को ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के गढ़ में खूब गरजे. पूर्वी बर्दवान में कृषक सुरक्षा अभियान का शुभारंभ करते हुए उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री से पूछा, ममता जी, एतो भय केनो? आप कहती हैं कि कोनो किछु होबे ना, होबे ना, होबे ना. मैं कहता हूं कि मई मास थेके सोब होबे, होबे, होबे.’

विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए श्री नड्डा ने कहा कि उन्हें पता चला है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा है कि अब वह किसान सम्मान निधि योजना में पश्चिम बंगाल को शामिल करना चाहती हैं. लेकिन, अब ममता के पत्र की जरूरत नहीं. बंगाल में भाजपा की सरकार बनेगी और वही इस योजना को बंगाल में लागू करेगी.

पूर्वी बर्दवान जिला के जगदानंदपुर में आयोजित कृषक सुरक्षा सभा में उन्होंने ये बातें कहीं. अपने एक दिवसीय बंगाल दौरे में आयोजित इस सभा में श्री नड्डा ने कहा कि ममता बनर्जी को समझ में आ गया है कि उनके पैरों तले जमीन खिसक रही है. इसलिए वह इस योजना में शामिल होना चाहती हैं. दो साल से केंद्र सरकार अनुरोध करती रही, लेकिन उन्होंने इसे अनुमति नहीं दी.

श्री नड्डा ने कहा कि यदि यह योजना लागू हो गयी होती, तो पश्चिम बंगाल के 70 लाख किसान परिवारों को इसका लाभ मिलता. श्री नड्डा ने कहा कि मोदी सरकार ने 2013-14 के किसानों के लिए 22 हजार करोड़ रुपये के बजट को बढ़ाकर 1.34 लाख करोड़ रुपये कर दिया है. न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को डेढ़ गुणा कर दिया है. अपनी उपज की कीमत हासिल करने के मामले में बंगाल का स्थान देश भर में 24वां है.

बंगाल में भ्रष्टाचार का बोलबाला

श्री नड्डा ने कहा कि राज्य में भ्रष्टाचार का बोलबाला है. तृणमूल सरकार भ्रष्ट है, वह बालू चोर है. कोरोना के दौरान केंद्र की ओर से बांटे गये राशन तक की चोरी की गयी. टीएमसी का मतलब कट मनी, चावल चोर, तिरपाल चोर है. अंतिम संस्कार तक में कट मनी देना होता है. बंगाल में केवल केंद्रीय योजनाओं का नाम बदल दिया जाता है. लेकिन, मोदी का नाम कहां-कहां से मुख्यमंत्री हटायेंगी. मोदी तो लोगों के दिलों में हैं.

श्री नड्डा ने कहा कि परिवर्तन का समय आ गया है. भाजपा की सरकार बनेगी और राज्य की जनता को केंद्र की सभी योजनाओं का लाभ दिलाया जायेगा. बर्दवान में कृषक सुरक्षा ग्राम सभा का शुभारंभ करते हुए श्री नड्डा ने कहा कि लाखों लोग स्वॉयल हेल्थ कार्ड से जुड़ गये हैं.

मोदी सरकार ने चलायी 100 किसान रेल गाड़ियां

श्री नड्डा ने कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार ने 100 किसान रेल गाड़ियों की शुरुआत की है. महाराष्ट्र से बंगाल के शालीमार तक यह ट्रेन आती है. इसका लाभ किसानों को अपना सामान एक जगह से दूसरी जगह भेजने में मिल रहा है.

नड्डा ने बताये कृषि बिल के फायदे

श्री नड्डा ने कहा कि किसान को आजादी देने वाला बिल मोदी सरकार ने पास किया. इसको लागू करने की जिम्मेदारी भाजपा की है और भाजपा के कार्यकर्ता इसे लागू करवायेंगे. जो कानून पास हुए हैं, वह ऊंची कीमत पर अपना माल बेचने की आजादी किसानों को देता है. इससे किसानों का भला होगा.

बंगाल में नहीं मिलता कृषि उत्पाद का उचित मूल्य

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि किसानों की हितैषी बनने का दिखावा करने वाले बंगाल में बहुत से लोग हैं. लेकिन, किसानों को उनके उत्पाद का उचित मूल्य यहां नहीं मिलता. बेहतर मूल्य देने के मामले में 29 राज्यों की सूची में बंगाल 24वें स्थान पर है. यानी यहां के किसानों को उनकी उपज के लिए सबसे कम मूल्य मिलता है. इस स्थिति को बदलना है. कृषक सुरक्षा अभियान चलाकर किसानों को जागरूक करना होगा.

श्री नड्डा ने कहा कि बंगाल में पानी की कमी नहीं है, लेकिन सिंचित भूमि आधी है. यह यहां की अब तक की सरकारों की अकर्मण्यता है. लंबे समय तक इन लोगों ने आपके खेतों तक पानी नहीं पहुंचाया. दूसरी तरफ, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश आगे बढ़ा. स्वच्छ भारत, जन-धन योजना, सौभाग्य योजना, उज्ज्वला योजना और आयुष्मान भारत जैसी योजनाएं लागू हुईं.

ममता जी एतो भय केनो? मई मास थेके सोब होबे, होबे, होबे

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा, ‘हमने कोरोना संकट के दौरान राशन बांटा, लेकिन बंगाल में उस अनाज की लूट हुई. लोग खाद्य संकट से जूझते रहे और टीएमसी नेताओं के घर अनाज के गोदाम में तब्दील हो गये.’ उन्होंने ममता बनर्जी और तृणमूल सरकार पर गंभीर आरोप लगाये. उन्होंने सरकार को कट मनी वाली सरकार, तिरपाल चोर, राशन चोर, पानी चोर, बालू चोर तक कह डाला. उन्होंने पूछा, ‘ममता जी, एतो भय केनो? आप कहती हैं कि होबे ना, होबे ना, होबे ना. मैं कहता हूं, मई मास थेके सोब होबे, होबे, होबे.’

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें