1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. amidst corona crisis sonia gandhi called meeting on friday cm mamta will be involved bjp did the sarcasm

कोरोना संकट के बीच सोनिया गांधी ने शुक्रवार को बुलायी बैठक, सीएम ममता होंगी शामिल, भाजपा ने किया कटाक्ष

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी.
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी.
फोटो : सोशल मीडिया.

कोलकाता : कोरोना संकट के इस दौर में उपजे हालात पर चर्चा करने के लिए आगामी शुक्रवार यानी 22 मई को देश के तमाम राजनैतिक दल आपस में बैठक करने जा रहे हैं. कांग्रेस की ओर से बुलायी गयी यह मीटिंग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये होगी, जिसकी अध्यक्षता कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी करेंगी. बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी शिरकत करेंगी. वहीं, प्रदेश भाजपा ने विपक्षी दलों की इस बैठक पर कटाक्ष किया है.

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस ने इस मीटिंग के लिए देश के तमाम राजनैतिक दलों को संदेशा भेजा है. पार्टी की ओर से इसमें सभी गैर एनडीए दलों को बुलाने की कवायद की गयी है. इसमें 28 राजनीतिक दलों के भाग लेने का दावा किया गया है. बैठक शुक्रवार की दोपहर तीन बजे बुलायी गयी है. इस बैठक में कोविड-19 के चलते देश में बने हालात से लेकर देश की राजनैतिक हालात व इकोनामी की बदहाली तक पर भी चर्चा होगी. इसमें NCP, DMK, RJD, SP, BSP, TDP, TMC, IUML, RLD, RLSP, वामदल, शिवसेना, नेशनल कॉन्फ्रेंस, लोकतांत्रिक जनता दल जैसे दल भाग ले सकते हैं.

सुश्री बनर्जी ने नबान्न में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा कि शाम को होने वाली बैठक में वह हिस्सा लेंगी. यह बैठक वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये होगी. सूत्रों का कहना है कि बैठक के मुख्य अजेंडे में कोविड-19 से उपजे हालातों से निपटने में केंद्र सरकार की नाकामी, प्रवासी मजदूरों की दुर्दशा और उनकी समस्याएं और सरकार द्वारा उनका सही तरह से निराकरण न कर पाना, मोदी सरकार के 20 लाख करोड़ों रुपये के आर्थिक पैकेज की असलियत जैसे तमाम मुद्दे शामिल हैं. देश और दुनिया से जुड़ी हर Hindi News से अपडेट के लिए बने रहें हमारे साथ.

उल्लेखनीय है कि तृणमूल कांग्रेस कोविड-19 बीमारी से निपटने की सरकार की रणनीति और आर्थिक पैकेज को लेकर लगातार केंद्र सरकार पर निशाना साधती रही है. दूसरी ओर, प्रदेश भाजपा ने विपक्षी दलों की बैठक पर कटाक्ष किया है. प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि लोकसभा चुनाव के पहले भी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ब्रिगेड मैदान में विपक्षी दलों के नेताओं के साथ हाथ में हाथ जोड़ कर सभा कर चुकी हैं, लेकिन जनता ने उन्हें नकार दिया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति विश्वास जताया था. ब्रिगेड सभा में शामिल होने वाले कई नेताओं का अब कोई अस्तित्व ही नहीं है. उसी तरह से यह बैठक भी पूरी तरह से फ्लॉप होगी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें