1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bjp leader suvendu adhikari injured during protest in birbhum mtj

बीरभूम में प्रदर्शन के दौरान चोटिल हुए भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी, अस्पताल में भर्ती कराये गये

राज्य में कानून का शासन खत्म हो गया है.पुलिस तृणमूल कांग्रेस के सदस्य के रूप में काम कर रही है. राज्य की पुलिस मंत्री स्वयं मुख्यमंत्री हैं. इसके लिए वही जिम्मेदार हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बंगाल में कानून-व्यवस्था बहाल करने की मांग पर शुभेंदु के नेतृत्व में भाजपा ने किया प्रदर्शन
बंगाल में कानून-व्यवस्था बहाल करने की मांग पर शुभेंदु के नेतृत्व में भाजपा ने किया प्रदर्शन
Prabhat Khabar

बीरभूम: पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिला (Birbhum News Today) में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) एक प्रदर्शन के दौरान चोटिल हो गये. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बीरभूम जिला के सिउड़ी में भाजपा ने राज्य की खराब होती कानून-व्यवस्था के विरोध में बुधवार को विरोध प्रदर्शन किया.

पश्चिम बंगाल में कानून का शासन खत्म

इससे पहले शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था चरमरा गयी है. राज्य में कानून का शासन खत्म हो गया है. पुलिस तृणमूल कांग्रेस के सदस्य के रूप में काम कर रही है. राज्य की पुलिस मंत्री स्वयं मुख्यमंत्री हैं. इसके लिए वही जिम्मेदार हैं. राज्य में लगातार नाबालिग लड़कियों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं हो रही हैं.

हालात नारकीय

उन्होंने रहा कि तृणमूल के नेता, तृणमूल के नेता के पुत्र इस कुकृत्य में लिप्त पाये जाते हैं. राज्य की पुलिस उन्हें बचाने की कोशिश कर रही है. हालात नारकीय हो गये हैं. हर तरफ अराजकता की स्थिति है. कानून-व्यवस्था नाम की चीज बंगाल में नहीं बची. बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने बुधवार को बीरभूम जिले के सिउड़ी में सर्किट हाउस से एक विशाल रैली निकाली.

शुभेंदु अधिकारी घायल

सर्किट हाउस से रैली सिउड़ी जिलाधिकारी के कार्यालय तक पहुंची. यहां पुलिस के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं और समर्थकों के बीच धक्का-मुक्की शुरू हो गयी. इसी दौरान शुभेंदु अधिकारी प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए लगायी गयी बैरिकेडिंग से टकराकर घायल हो गये. उन्हें तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया गया.

सत्ताधारी दल के नेताओं का चरित्र सामने आ रहा

शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि समूचे राज्य में भ्रष्टाचार व्याप्त है. सत्ताधारी दल के नेताओं का चरित्र सामने आ रहा है. कोयला, बालू, पत्थर के साथ-साथ अवैध कारोबार का साम्राज्य छाया हुआ है. अस्त्र-शस्त्र, बम, गोले, हथियारों का जखीरा बरामद हो रहा है. बीरभूम में जिस तरह से शासक दल के दो गुटों की लड़ाई में 9 आम लोगों को जिंदा जला दिया गया, वह दिखाता है कि सरकार कितनी निकम्मी है.

राज्य सरकार पर तीखा प्रहार

शुभेंदु अधिकारी ने राज्य सरकार पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि एक महिला मुख्यमंत्री के शासन में राज्य की महिलाएं, बेटियां, सुरक्षित नहीं हैं. बलात्कार की घटनाएं हर दिन अखबार की सुर्खियों में रहती हैं. इसमें शासक दल के लोग ही दोषी पाये जा रहे हैं. बीरभूम की माटी को कलंकित कर अराजकता की स्थिति कायम कर दी है.

बागटुई में 9 लोगों की निर्मम हत्या

उन्होंने कहा कि जिस रवींद्र नाथ की भूमि को साहित्य और संस्कार तथा शिक्षा के लिए जाना जाता था, आज मां-माटी-मानुष की सरकार ने इसे तहस-नहस कर दिया है. आज इसी बीरभूम में 17 साल की नाबालिग बच्ची के साथ तृणमूल के ही नेता तथा उसके साथियों ने सामूहिक बलात्कार किया. बागटुई में 9 लोगों की निर्मम हत्या कर दी गयी. ये घटनाएं बीरभूम को कलंकित करने वाली हैं.

भाजपा ने ज्ञापन सौंपा

भाजपा नेता ने कहा कि राज्य की गिरती कानून-व्यवस्था को देखते हुए कलकत्ता हाईकोर्ट को हस्तक्षेप करना पड़ रहा है. एक के बाद एक घटना की सीबीआई जांच का आदेश हाईकोर्ट को देना पड़ रहा है. इस दौरान बीरभूम जिला भाजपा की ओर से सात सूत्री मांग को लेकर एक ज्ञापन सौंपा गया. मौके पर भाजपा पार्टी के जिलाध्यक्ष ध्रुव साहा, दुबराजपुर विधायक अनूप कुमार साहा समेत जिला और प्रदेश भाजपा के कई नेता समेत हजारों की तादाद में भाजपा कार्यकर्ता व समर्थक उपस्थित थे.

रिपोर्ट- मुकेश तिवारी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें