1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 notice of income tax department to birbhum tmc district president anubrata mondal and 4 relatives in birbhum bengal

बीरभूम में चुनाव से पहले TMC मुश्किल में, अनुब्रत मंडल और चार रिश्तेदारों को आयकर विभाग का नोटिस

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बीरभूम में चुनाव से पहले टीएमसी मुश्किल में, अनुब्रत मंडल और 4 रिश्तेदारों को आयकर विभाग का नोटिस
बीरभूम में चुनाव से पहले टीएमसी मुश्किल में, अनुब्रत मंडल और 4 रिश्तेदारों को आयकर विभाग का नोटिस
prabhat khabar

बीरभूम (मुकेश तिवारी): बीरभूम में आठवें चरण 29 अप्रैल को वोटिंग होनी है. बीरभूम चुनाव से पहले टीएमसी की मुश्किल बढ़ गयी है. चुनाव से पहले आयकर विभाग ने बीरभूम जिला टीएमसी अध्यक्ष अनुब्रत मंडल को नोटिस भेजा है. विशेष सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अनुब्रत मंडल के साथ ही उनके 4 रिश्तेदारों को भी आयकर विभाग ने नोटिस थमाया है. इसके साथ ही एक सप्ताह के भीतर अणुब्रत मंडल और उनके चारों रिश्तेदारों को जवाब देने को कहा गया है.

आयकर विभाग का दावा है, बीरभूम के अलावा पुरुलिया, बांकुड़ा और आसनसोल में अनुब्रत मंडल की संपत्ति हैं .सूत्रों के मुताबिक कुछ दिन पहले आयकर विभाग में अनुब्रत मंडल के नाम से शिकायत दर्ज करायी गयी थी. उन पर आरोप है बीरभूम, आसनसोल, बांकुड़ा, पुरुलिया सहित विभिन्न स्थानों में अपने रिश्तेदारों के नाम पर बेनामी संपत्ति बनायी है. इन आरोपों की जांच आयकर विभाग के अधिकारियों ने शुरू की है.

आरापों के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए अणुब्रत मंडल से पूछताछ जरूरी है. इस वजह से ही आयकर विभाग ने धारा 131 के तहत अनुब्रत मंडल को नोटिस भेजा और उनसे उनके लेन-देन का ब्योरा मांगा गया है. साथ ही संपत्ति तथा आईटी रिटर्न की जानकारी देने को कहा है. ये सभी जानकारी एक सप्ताह के भीतर देने को कहा गया है. उनके रिश्तेदारों से भी एक सप्ताह के भीतर जवाब मांगा गया है.

बता दें कि दो दिन पहले बीरभूम में बोलपुर विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी कैंडिडेट डॉ. अनिर्बान गांगुली ने अनुब्रत मंडल की संपत्ति के बारे में कई सवाल उठाए थे. अनुब्रत मंडल की संपत्ति पर सवाल उठाने के अलावा, उन्होंने अनुब्रत के दो सुरक्षाकर्मियों की संपत्ति पर भी सवाल उठाया था. अनिर्बान गांगुली ने प्रेस काॅन्फ्रेंस कर आरोप लगाया था, प्राथमिक स्कूलों में भर्ती के लिए रुपयों का लेन-देन अणुब्रत मंडल के बाॅडीगार्ड के माध्यम से किया जाता है. सुरक्षा गार्ड चिन्मय चटर्जी और साईगल हुसैन की संपत्ति में अनुब्रत मंडल का भी हिस्सा शामिल है.

बीजेपी नेता ने यह भी कहा, 2 मई के बाद इस मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया जाएगा. इन आरोपों के बाद से ही राजनीतिक हलकों में चर्चा शुरू हो गयी . राजनीतिक जानकारों का मानना है, बीजेपी कैंडिडेट के सवालों पर आयकर विभाग भी हरकत में आयी और आयकर विभाग का नोटिस अनुब्रत मंडल को मिलना बहुत महत्वपूर्ण है. वहीं दूसरी तरफ, अभी तक बीरभूम जिला टीएमसी अध्यक्ष अनुब्रत मंडल की ओर से इस मामले में कोई बयान नहीं आया है.

Posted by : Babita Mali

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें