1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 before fourth phase of election 2 officer incharge of kolkata police stations under tollygunge assembly constituency are transfer in kolkata bengal

Bengal Election 2021: टाॅलीगंज में चुनाव से पहले कोलकाता पुलिस के दो थाना प्रभारी का तबादला

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
टाॅलीगंज में चुनाव से पहले कोलकाता पुलिस के दो थाना प्रभारी का तबादला
टाॅलीगंज में चुनाव से पहले कोलकाता पुलिस के दो थाना प्रभारी का तबादला
facebook

Bengal Election 2021: बंगाल में चौथे चरण की वोटिंग के पहले दक्षिण कोलकाता में कोलकाता पुलिस के दो थानों रिजेंट पार्क और बांसद्रोणी के ओसी (आॅफिसर इंचार्ज) के बदले जाने की खबर से सियासी गलियारे में अटकलें तेज हो गयी है. टाॅलीगंज विधानसभा सीट के अंतर्गत दो थानों के ओसी के तबादले ने राजनीति रंग ले लिया है. टाॅलीगंज विधानसभा टीएमसी कैंडिडेट अरूप विश्वास का गढ़ माना जाता है. इस सीट को लेकर पहले ही बीजेपी कैंडिडेट और सांसद बाबुल सुप्रियो ने विश्वास भाईयों (अरूप विश्वास और स्वरूप विश्वास) पर हमला बोला है.

चौथे चरण में 4 जिलों के 44 सीटों पर 10 अप्रैल को वोटिंग होनी है. इस सीट में टाॅलीगंज विधानसभा सीट भी शामिल है. इस सीट के अंतर्गत कोलकाता पुलिस के दो थाने बांसद्रोणी और रिजेंट पार्क थाने की पुलिस सुरक्षा व्यवस्था का दायित्व संभालती हैं. आज इन्हीं दो थानों के ओसी का तबादला कर दिया गया है. लालबाजार के अधिकारिक सूत्रों ने बताया, कोलकाता पुलिस के कमिश्नर सौमेन मित्रा ने बांसद्रोणी थाने के ओसी प्रताप विश्वास का तबादला लालबाजार के डिटेक्टिव डिपार्टमेंट में किया, वहीं रिजेंट पार्क थाने के ओसी मृणाल कांति मुखर्जी का ट्रांसफर स्पेशल ब्रांच में कर दिया है.

वहीं लालबाजार के डिटेक्टिव डिपार्टमेंट के मलय बसु को बांसद्रोणी थाने का ओसी बनाया गया है तो वहीं स्पेशल ब्रांच के ओसी राम थापा को रिजेंट पार्क थाने के ओसी का पदभार सौंपा गया है. लालबाजार के अधिकारियों ने इसे रूटीन तबादला बताया है लेकिन राजनीति गलियारे में इस तबादले को लेकर अलग ही चर्चा हो रही है. बता दें कि टाॅलीगंज विधानसभा सीट के तहत ही उक्त दो थाने आते हैं.

बांसद्रोणी और रिजेंट पार्क थाने पर पहले से ही आरोप लगते आये हैं कि यहां विश्वास भाईयों का ही दबदबा रहता है.वहीं आज ओसी के तबादले को लेकर चर्चा है कि टीएमसी को सपोर्ट करने के कारण ही इन थानों के ओसी के खिलाफ शिकायत की गयी थी. लेफ्ट और बीजेपी नेताओं ने इन थानों के ओसी के खिलाफ संभवत: चुनाव आयोग को भी शिकायत की है. इन थानों के खिलाफ टीएमसी की तरफ से काम किये जाने पर ही इनका तबादला किया गया.

मालूम हो कि इस विधानसभा सीट से टीएमसी ने दो बार के विधायक अरूप विश्वास को फिर चुनावी मैदान में उतारा है तो वहीं बीजेपी ने आसनसोल के सांसद और गायक बाबुल सुप्रियो पर दांव लगाया है. चुनाव प्रचार में दोनों कैंडिडेट में जुबानी जंग भी देखी जा चुकी है. मालूम हो कि 10 अप्रैल को दक्षिण 24 परगना, हुगली, हावड़ा, कूचबिहार और अलीपुरदुआर के 44 सीटों पर वोटिंग होनी है.373 कैंडिडेट्स अपना भाग्य आजमाने उतरेंगे.

Posted by : Babita Mali

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें