1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. asansol
  5. taking advantage of the panic due to corona virus there has been a flood of online fraud in the internet

कोरोना से इंटरनेट पर ऑनलाइन ठगी की बाढ़

By Shaurya Punj
Updated Date
Taking advantage of the panic due to corona virus, there has been a flood of online fraud in the internet
Taking advantage of the panic due to corona virus, there has been a flood of online fraud in the internet
Prabhat khabar

कोलकाता : कोरोना वायरस से दहशत का फायदा उठाकर इंटरनेट में ऑनलाइन ठगी की बाढ़-सी आ गयी है. ऑनलाइन शातिर ठग लोगों की इस मजबूरी का फायदा उठाकर उन्हें ठगने के कई तरीके अपना रहे हैं. साइबर एक्सपर्ट लोगों को ठगी का शिकार होने के पहले ही उन्हें सतर्क रहने की सलाह दे रहे हैं.

इस तरह से बिछाया गया ठगी का जाल :

साइबर एक्सपर्ट संजीव सेनगुप्ता का कहना है कि एनरॉयड मोबाइल के प्ले स्टोर में कई ऐसे एप्स आ गये हैं, जो कोरोना व कोविड (वायरस का नाम) के नाम से उपलब्ध हैं. इन एप्स में कोरोना वायरस से निपटने के लिए आवश्यक टिप्स देने का दावा किया गया है.

असलियत तो यह है कि अनजाने में वायरस से निपटने की जानकारी के लिए जैसे ही लोग इन एप्स को मोबाइल में डाउनलोड करेंगे, तुरंत मोबाइल हैक हो जायेगा. मोबाइल सामान्य करने के लिए ग्राहकों से मोटी रकम की मांग की जायेगी.

कोरोना पीड़ित लोगों की मदद के नाम पर ठगी :

एक्सपर्ट बताते हैं कि इंटरनेट पर कई नये वेबसाइट हैं, जो कोरोना पीड़ितों की मदद के नाम पर आवेदन कर रहे हैं. इस तरह की वेबसाइट पर विश्वास ना करें. ऑनलाइन ठगी को अंजाम देनेवाले शातिर की दिमाग की यह उपज है. लोग इस तरह की वेबसाइट से भी खुद को दूर रखें.

कोरोना से संबंधित कोई लिंक से साथ मैसेज आये, तो उसपर क्लिक ना करें :

साइबर विशेषज्ञ तथागत दत्ता बताते हैं कि इन दिनों लोगों के मोबाइल फोन पर कोरोना वायरस को लेकर जागरूकता के संबंध में अनजान स्त्रोत से अलग-अलग जानकारियों के बारे में कई तरह के लिंक भेजे जा रहे हैं. इस तरह का कोई लिंक अगर मोबाइल पर आये, तो उनपर क्लिक ना करें. ऐसा करनेवालों के बैंक अकाउंट से संबंधित निजी जानकारी साइबर ठगों के पास चले जाने का खतरा बना रहता है.

घर बैठे काम का सॉफ्टवेयर बेचने के नाम पर भी हो रही ठगी :

श्री दत्ता बताते हैं कि कोरोना वायरस से बचने के लिए कई कंपनियां अपने कर्मचारियों से घर बैठे काम करवा रही है. कई स्कूल प्रबंधन छात्रों के लिए ऑनलाइन कक्षाएं लेने की व्यवस्था किये हैं. इसी का फायदा उठाकर कई ऐसे सॉफ्टवेयर बेचे जा रहे हैं, जिसे खरीदनेवाले ठगी के शिकार हो सकते हैं. इसके कारण ऐसा करने के पहले सतर्क हो जायें.

ऑनलाइन बिक रहे हैं नकली सैनिटाइजर व मास्क :

साइबर एक्सपर्ट राजश्री रॉय चौधरी ने बताया कि मौजूदा समय में लोगों में कोरोना वायरस से बचने के लिए ब्रैंडेड कंपनियों के मास्क व सैनिटाइजर की मांग काफी ज्यादा है. इसी का फायदा उठाकर इंटरनेट पर कई ऐसे वेबसाइट हैं, जो लोगों को सस्ते में मास्क व सैनिटाइजर बेच रहे हैं. जो खरीद रहे हैं उन्हें सैनिटाइजर के बदले पानी या अन्य केमिकल भेजे जा रहे हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें