1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. 114 out of 318 candidates contesting election in bengal 2021 are ridden in debt independent candidate has liability of rs 12 crores mtj

कर्ज में डूबे हैं पांचवें चरण में चुनाव लड़ रहे 318 में से 114 उम्मीदवार, निर्दलीय पर 12 करोड़ रुपये की देनदारी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bengal Election 2021, ADR Report: कर्ज में डूबे लोग भी लड़ रहे विधानसभा चुनाव
Bengal Election 2021, ADR Report: कर्ज में डूबे लोग भी लड़ रहे विधानसभा चुनाव
Prabhat Khabar Graphics

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में पांचवें चरण के चुनाव में 114 उम्मीदवार कर्ज में डूबे हैं. इन लोगों ने चुनाव आयोग को सौंपे गये अपने शपथ पत्र में यह जानकारी दी है. द वेस्ट बंगाल इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गयी है.

एडीआर इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, कलिम्पोंग से निर्दलीय उम्मीदवार रुदेन सदा लेपचा, जो सबसे अमीर उम्मीदवारों की सूची में दूसरे नंबर पर हैं, कर्जदारों की लिस्ट में सबसे ऊपर हैं. जी हां, 18 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति घोषित करने वाले लेपचा पर 12 करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज है.

कर्जदारों की सूची में दूसरे नंबर पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार हैं. इनका नाम सव्यसाची दत्त है. वह विधाननगर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. उन्होंने अपनी संपत्ति 7.76 करोड़ रुपये घोषित की है. साथ ही बताया है कि उन पर 3.87 करोड़ रुपये की देनदारी भी है.

कर्ज में डूबे सबसे बड़े उम्मीदवारों की लिस्ट में तीसरे नंबर पर तृणमूल कांग्रेस की उम्मीदवार बर्नाली दे राय हैं. बर्नाली नदिया जिला के रानाघाट दक्षिण (एससी) विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रही हैं. उन्होंने अपनी संपत्ति 5.89 करोड़ रुपये बतायी है, जबकि उन पर करीब 2 करोड़ रुपये (1.90 करोड़) की देनदारी भी है. तीनों उम्मीदवारों के पास पैन कार्ड हैं.

यहां बताना प्रासंगिक होगा कि बंगाल विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण में कुल 319 उम्मीदवार मैदान में हैं. इनमें से 318 उम्मीदवारों के शपथ पत्र का एडीार ने विश्लेषण करने के बाद यह रिपोर्ट तैयार की है. बंगाल में 17 अप्रैल को पांचवें चरण का मतदान होना है, जिस दिन पूर्वी बर्दवान, दार्जीलिंग, कलिम्पोंग, जलपाईगुड़ी, उत्तर 24 परगना और नदिया जिला की 45 विधानसभा सीटों पर लोग अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे.

पहले, दूसरे, तीसरे और चौथे चरण की वोटिंग क्रमश: 27 मार्च, 1 अप्रैल, 6 अप्रैल और 10 अप्रैल को हो चुकी है. पांचवें, छठे, सातवें और आठवें चरण का मतदान क्रमश: 17 अप्रैल, 22 अप्रैल, 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को होना है. बंगाल की सभी 294 सीटों के लिए मतगणना 2 मई को करायी जायेगी. इसी दिन बंगाल चुनाव 2021 के परिणाम घोषित किये जाने की उम्मीद है.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें