1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. kanpur
  5. it raid in kanpur income tax department raids at pea trader in kanpur sht

IT Raid: कानपुर में मटर कारोबारी के यहां आयकर विभाग की रेड, अचानक 5 टीमों के पहुंचने से मचा हड़कंप

कानपुर में आयकर विभाग की टीम ने इत्र और जूते के कारोबारी के बाद अब मटर कारोबार के दलाल के यहां छापेमारी की है. फिलहाल, छापेमारी में टीम के हाथ क्या लगा इस संबंध में कोई जानकारी नहीं दी गई है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Kanpur
Updated Date
गौरव जयसवाल
गौरव जयसवाल
prabhat khabar

Kanpur News: उत्तर प्रदेश में आयकर और जीएसटी विभाग की छापेमारी लगातार जारी है. टीम ने इत्र और जूते के कारोबारी के बाद अब मटर कारोबार के दलाल के यहां छापेमारी की है. टीम ने कानपुर स्थित कलक्टरगंज में कारोबारियों के ठिकानों पर छापेमारी की है. अचानक पड़ी रेड से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है.

अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी

सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली से सुबह 5 बजे आई आयकर विभाग की टीम ने कारोबारियों के ठिकानों पर छापेमारी की है. इनकम टैक्स की टीम ने मटर और प्लास्टिक की दलाली करने वाले कारोबारी गौरव जायसवाल के कलेक्टर गंज स्थित आवास और ऑफिस पर छापा डाला. सूत्रों की मानें मटर कारोबारी के साथ-साथ दाल कारोबारी के ठिकानों पर भी छापेमारी हो रही है.

पांच घंटे तक चली छापेमारी

आयकर विभाग की पांच टीमों ने इस छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम दिया है. करीब 5 घंटे की छापेमारी के बाद टीम अपने साथ कारोबारी गौरव जायसवाल को ले गई गई. साथ ही कुछ कागजात भी जब्त कर लिए हैं. गौरव जयसवाल कलक्टर गंज में मटर और प्लास्टिक का बहुत बड़ा दलाल है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, बोगस कंपनियां बनाकर पैसा एक नंबर में करता था, यही कारण है कि यहां टीम की रेड पड़ी है.

मामले में अभी नहीं हुआ खुलासा

फिलहाल, अभी भी कुछ ठिकानों पर आयकर विभाग की कार्रवाई जारी है और विभाग की ओर से अभी तक कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है. आयकर विभाग के खुलासे के बाद ही पता चल पाएगा कि इन छापों में टीम को क्या-क्या हाथ लगा है.

पीयूष जैन से शुरू हुई छापेमारी पहुंची मटर कारोबारी तक

पीयूष जैन से शुरू हुई छापेमारी का सिलसिला लगातार जारी है. सबसे पहले आयकर विभाग की टीम ने इत्र कारोबारी पीयूष जैन के घर पर छापा मारा था. जहां से 197 करोड़ रुपए नगद और 23 किलो सोना बरामद हुआ था. इसके बाद पुष्पराज जैन समेत कई और इत्र कारोबारियों पर छापे मारे गए. इतना ही नहीं, आगरा में जूता कारोबारियों पर भी आईटी ने शिकंजा कसा और बीते कई दिनों से अब तक छापेमारी का सिलसिला जारी है.

रिपोर्ट- आयुष तिवारी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें