1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. singhbhum west
  5. naxal plot to kill policemen in ied blast in west singhbhum district of jharkhand foiled mth

झारखंड में IED ब्लास्ट कर पुलिस टीम को उड़ाने की नक्सलियों की साजिश

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पुलिस ने सड़क खोदकर निकाला विस्फोटक और उसे नष्ट किया.
पुलिस ने सड़क खोदकर निकाला विस्फोटक और उसे नष्ट किया.
Prabhat Khabar

चाईबासा : पश्चिमी सिंहभूम जिला के ऐतिहासिक मंगलाहाट में नक्सली बैनर लगाने वाले मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बैनर भाकपा माओवादियों के 16वें स्थापना दिवस पर लगाया गया था. आरोपी ने दो माह पहले मुफस्सिल थाना क्षेत्र के बरकेला के मुख्य मार्ग पर आइइडी बम बिछाकर पुलिस पर बड़ा हमला करने की साजिश भी रची थी.

जिस समय बैनर टांगने वाले की गिरफ्तारी हुई, उसके चार साथी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गये. गिरफ्तार 31 वर्षीय नक्सली देवेंद्र जामुदा चक्रधरपुर के धरमसाई का निवासी है. वह वर्तमान में मुफस्सिल थाना क्षेत्र के पेटापेटी गांव के चकोपसाई टोला में रह रहा था.

उसके पास से भाकपा माओवादी संगठन का 1 बैनर, भाकपा माओवादी संगठन का 4 पोस्टर, जियो सिम वाला 2 स्क्रीन टच मोबाइल, होंडा कंपनी की बाइक (जेएस06एल 9-196 5) व डबल फेज के बिजली के करीब 50 मीटर तार जब्त किये गये हैं. पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा ने इसकी पुष्टि की है.

पूछताछ में देवेंद्र जामुदा ने बताया कि उसके जो साथी भाग गये, उनमें गोइलकेरा के छोटाकुईड़ा का सुंदर सुरीन, गोइलकेरा के मारादिरी का कमलू, ईचाहातु का सुपे, बरकेला के राम बोयपाई व सायतवा के सिंगराय टुंटी उर्फ सिंगराय कायम शामिल हैं.

एसडीपीओ अमर कुमार पांडेय ने बताया कि 21 सितंबर को गुप्त सूचना मिली कि 21 से 27 सितंबर तक मनाये जाने वाले प्रतिबंधित भाकपा माओवादी संगठन के स्थापना सप्ताह के दौरान चाईबासा शहर के प्रमुख स्थानों पर बैनर व पोस्टर लगाकर यह संगठन लोगों को भयभीत करना चाहता है. इसलिए बरकेला की तरफ से भाकपा माओवादी संगठन के कुछ सक्रिय सदस्य बाइक दस्ता के रूप में चाईबासा शहर की ओर आ रहे हैं.

पुलिस को देख भागे नक्सली

सूचना के आधार पर सनहा दर्ज कर वरीय पदाधिकारी को सूचित करते हुए सत्यापन व जरूरी कार्रवाई के लिए एक पुलिस टीम का गठन किया गया. टीम के द्वारा नरसंडा मोड़ से बरकेला की ओर जाने वाली मुख्य सड़क पर पंचो गांव के एक सुनसान स्थान पर बंद पड़े हड़िया गोदाम के पास बरकेला की तरफ से चाईबासा की ओर आ रहे 3 मोटरसाईकिल पर सवार 6 व्यक्तियों को जांच व सत्यापन के लिए रुकने का इशारा किया, तो तीनों मोटरसाइकिल के चालक अपनी बाइक को मोड़कर तेज रफ्तार से भागने लगे.

संदेह के आधार पर पुलिस टीम ने भाग रहे तीनों बाइक सवारों का पीछा किया. इनमें से एक युवक को बाइक सहित पकड़ लिया गया. इस बाइक पर सवार एक अन्य व्यक्ति व 2 बाइक पर सवार चार व्यक्ति भागने में सफल रहे. पूछताछ में पकडाये व्यक्ति ने अपना नाम देवेंद्र जामुदा बताया. उसने बताया कि भागने वालों के नाम सुंदर सुरीन, कमलू, सुपे, राम बोईपाई व सिंगराय टुंटी उर्फ सिंगराय कायम हैं.

विस्फोटकों को किया नष्ट

देवेंद्र जामुदा की तलाशी लेने पर उसकी जींस पैंट के पीछे वाले पॉकेट से काले रंग के पर्स में रूल वाले कागज की पर्ची मिली, जिस पर भाकपा माओवादी संगठन के शीर्ष कमांडर बुधराम उर्फ अजय महतो द्वारा केन बम, आइइडी बनाने में प्रयुक्त होने वाले सामानों व कुछ अन्य सामानों की सूची थी. उसके पास से भाकपा माओवादी संगठन के स्थापना सप्ताह से संबंधित बैनर, पोस्टर व अन्य सामान भी मिले, जिसे जब्त कर लिया गया है.

उसकी निशानदेही पर बरकला पेटपेटी सायतवा मुख्य मार्ग पर स्थित बाईडिपा मोड़ के पास कालीकृत सड़क के अंदर लगाये गये सिलिंडर आइइडी बम को भी बरामद कर लिया गया. बम निरोधक दस्ता ने वहीं उसे नष्ट कर दिया. देवेंद्र ने स्वीकार किया कि क्षेत्र में हुए कई विस्फोट में उसका हाथ था. 15-16 सितंबर की रात मंगलाहाट में बैनर लगाने वालों में भी वह शामिल थे. मुफस्सिल थाना में केस दर्ज कर उसके खिलाफ जांच शुरू कर दी गयी है.

छापेमारी दल में शामिल पुलिस वाले

छापेमार टीम में मुख्य रूप से एसडीपीओ अमर कुमार पांडेय, मुफस्सिल थाना प्रभारी आशुतोष कुमार, पंकज कुमार, रवींद्र पांडेय, दीपक पासवान, पवन कुमार यादव, नीरज कुमार गुप्ता, आशीष कुमार गौतम व सशस्त्र बल के जवान शामिल थे.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें