1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. sarkari naukri in jharkhand for the first time permanent recruitment to be made in kasturba school niyamawali 2021 srn

झारखंड के कस्तूरबा स्कूल में पहली बार होगी स्थायी नियुक्तियां, नौकरी पाने के लिए इन शर्तों को मानना जरूरी

प्राथमिक विद्यालयों को छोड़ अन्य सभी स्तर पर 22 हजार से ज्यादा शिक्षकों की होनी है नियुक्ति. प्लस टू स्कूलों में शिक्षकों की आरक्षित सीट रिक्त रहने पर अब होगी सीधी नियुक्ति. चार नियमावलियों को मंजूरी मिली. मॉडल स्कूल और कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय के लिए पहली बार बनी नियमावली

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
 कस्तूरबा स्कूल में पहली बार होगी स्थायी नियुक्तियां
कस्तूरबा स्कूल में पहली बार होगी स्थायी नियुक्तियां
प्रतीकात्मक तस्वीर

Govt Job in Jharkhand 2021 रांची : राज्य में हाइस्कूल व प्लस टू विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए नियमावली को विभागीय स्तर पर सहमति मिल गयी है. शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने रविवार को चार शिक्षक नियुक्ति नियमावली को सहमति दे दी है. इसके साथ ही विभाग ने चारों नियमावली वित्त, विधि व कार्मिक विभाग को भेज दी है. विभाग द्वारा प्राथमिक से लेकर प्लस टू उच्च विद्यालय शिक्षक तक की नियुक्ति नियमावली में बदलाव किया जा रहा है.

कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय और मॉडल विद्यालय में नियुक्ति के लिए भी नियमावली बनायी गयी है. राज्य गठन के बाद पहली बार इन दोनों विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए नियमावली बनायी गयी है. नियुक्ति नियमावली बनने से इन विद्यालयों में लगभग 20 हजार शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया शुरू होगी. राज्य में सबसे अधिक पद हाइस्कूल में रिक्त हैं.

50% आरक्षित सीट रिक्त तो सीधी नियुक्ति :

प्लस टू विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए 2012 में नियमावली बनायी गयी थी. प्लस टू शिक्षक नियुक्ति में हाइस्कूल शिक्षकों के लिए 50 फीसदी सीट आरक्षित है. राज्य में अब तक प्लस टू स्कूल में तीन बार शिक्षक नियुक्ति हुई है. शिक्षकों के लिए आरक्षित 50 फीसदी से अधिक सीट रिक्त रह गयी. इसे देखते हुए नियमावली में यह प्रावधान किया गया है कि अगर नियुक्ति में हाइस्कूल शिक्षकों के लिए आरक्षित सीट रिक्त रह जाये, तो उसे सीधी नियुक्ति से भर दिया जायेगा. राज्य में सबसे पहले वर्ष 2012 में प्लस टू विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति की गयी थी. इसके अलावा प्लस टू नियुक्ति में राज्य से मैट्रिक व इंटर की परीक्षा पास होना अनिवार्य गया है.

अब सिर्फ प्राथमिक शिक्षक नियुक्ति नियमावली बची

अब प्राथमिक शिक्षक नियुक्ति नियमावली को छोड़कर सभी शिक्षक नियुक्ति नियामवली को शिक्षा मंत्री की स्वीकृति मिल गयी है. प्राथमिक शिक्षक नियुक्ति नियमावली में संशोधन को फिलहाल शिक्षा मंत्री की स्वीकृति नहीं मिली है. प्राथमिक शिक्षक नियुक्ति नियमावली में किये गये बदलाव के अनुसार अब प्राथमिक व मध्य विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए परीक्षा ली जायेगी. झारखंड शिक्षक पात्रता परीक्षा के सफल अभ्यर्थी नियुक्ति प्रक्रिया में शामिल होंगे.

नियुक्ति परीक्षा झारखंड कर्मचारी चयन आयोग द्वारा ली जायेगी.प्राथमिक शिक्षक नियुक्ति के लिए झारखंड शिक्षक पात्रता परीक्षा नियमावली में भी बदलाव किया जा रहा है. झारखंड शिक्षक पात्रता परीक्षा नियमावली 2019 में संशोधन को भी शिक्षा मंत्री की स्वीकृति मिल गयी है.

बोले शिक्षा मंत्री एक लाख शिक्षकों की नियुक्ति होगी

रांची. शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने कहा है कि राज्य में प्राथमिक से लेकर प्लस टू विद्यालय तक 1.6 लाख शिक्षकों की नियुक्ति की जायेगी. नियुक्ति नियमावली बनाने से लेकर पद सृजन तक की प्रक्रिया चल रही है. वर्तमान में रिक्त पद के साथ नव सृजित पद पर भी नियुक्ति होगी. प्राथमिक से लेकर प्लस टू विद्यालय तक में नियुक्ति होगी. कुछ नियमावली को विभागीय स्तर पर सहमति भी मिल गयी है.

इसके आगे की प्रक्रिया भी जल्द पूरी की जायेगी. प्राथमिक व मध्य विद्यालय में 71 हजार शिक्षकों के पद सृजन की प्रक्रिया शुरू की गयी है. वर्तमान में 26 हजार पद रिक्त हैं. रिक्त पदों पर नियुक्ति शुरू करने का निर्देश दिया गया है. शिक्षा मंत्री ने कहा कि पारा शिक्षकों की नियमावली का ड्राफ्ट भी तैयार हो गया है. 29 दिसंबर तक पारा शिक्षकों की नियमावली को भी फाइनल कर लिया जायेगा. पारा शिक्षकों की नियमावली पर अंतिम निर्णय के पूर्व संघ के प्रतिनिधियों से भी विचार-विमर्श किया जायेगा. 26 हजार प्राथमिक शिक्षक की नियुक्ति में 50 फीसदी पद पारा शिक्षकों के लिए आरक्षित रहेंगे.

89 मॉडल स्कूल के लिए पहली बार नियमावली

राज्य में केंद्रीय विद्यालय की तर्ज पर संचालित मॉडल स्कूल में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए राज्य में पहली बार नियुक्ति नियमावली बनायी गयी है. एक मॉडल विद्यालय में 11 शिक्षकों के पद सृजित हैं. विद्यालय में अब तक घंटी आधारित शिक्षक नियुक्त हैं. शिक्षक को प्रति घंटी 120 रुपये की दर से मानदेय दिया जाता है. विद्यालय में 979 शिक्षकों की नियुक्ति होगी. नियुक्ति के लिए कुल 400 अंकों की परीक्षा ली जायेगी. इसमें संबंधित विषय की परीक्षा 300 अंकों की होगी.

परीक्षा पूर्व के आधार पर

हाइस्कूल व प्लस टू शिक्षक नियुक्ति के लिए परीक्षा की प्रक्रिया में कोई बदलाव नहीं किया गया है. परीक्षा के अंक भी पूर्व की भांति ही रखे गये हैं.

राज्य से मैट्रिक, इंटर पास करने का प्रावधान जोड़ा

हाइस्कूल शिक्षक नियुक्ति नियमावली 2016 में भी राज्य सरकार के निर्णय के अनुरूप बदलाव किया गया है. हाइस्कूल शिक्षक नियुक्ति परीक्षा में शामिल होने के लिए राज्य से मैट्रिक और इंटर पास करना अनिवार्य होगा. परीक्षा 500 अंकों की होगी. जिसमें 300 अंक की परीक्षा संबंधित विषय की होगी.

कस्तूरबा शिक्षकों का संवर्ग होगा राज्यस्तरीय

राज्य के 203 कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय व 57 झारखंड बालिका आवासीय विद्यालय शिक्षक नियुक्ति के लिए नियमावली तैयार की गयी है. प्लस टू शिक्षक नियुक्ति की तर्ज पर 11 शिक्षकों का पद सृजित किया गया है. शिक्षकों का पद राज्य संवर्ग का होगा. शिक्षक कक्षा नौ से 12वीं तक के विद्यार्थियों के पठन-पाठन के लिए नियुक्त होंगे.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें