1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. padman of jharkhand mangesh jha trying his luck in bihar vidhan sabha chunav 2020 nominated from harlakhi assembly seat mtj

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में किस्मत आजमा रहे ‘झारखंड के पैडमैन’ मंगेश झा, हरलाखी से किया नामांकन

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Bihar Election 2020 Latest Updates: बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में किस्मत आजमा रहे ‘झारखंड के पैडमैन’ मंगेश झा, हरलाखी विधानसभा सीट से किया नामांकन.
Bihar Election 2020 Latest Updates: बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में किस्मत आजमा रहे ‘झारखंड के पैडमैन’ मंगेश झा, हरलाखी विधानसभा सीट से किया नामांकन.
Prabhat Khabar

Bihar Election 2020 Latest Updates, Padman of Jharkhand, Mangesh Jha: रांची : बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में अपनी किस्मत आजमाने वालों में ‘झारखंड के पैडमैन’ भी शामिल हैं. वह पुष्पम प्रिया चौधरी की पार्टी प्लुरल्स पार्टी के टिकट पर मधुबनी जिला के हरलाखी विधानसभा सीट से चुनाव के मैदान में उतर चुके हैं. झारखंड की राजधानी रांची के आसपास के गांवों में महिलाओं के बीच सैनिटरी पैड बांटकर ‘पैडमैन’ के नाम से मशहूर हुए मंगेश झा बिहार में बदलाव लाना चाहते हैं. चुनाव जीतकर हरलाखी विधानसभा क्षेत्र के लोगों में नया उत्साह भरना चाहते हैं.

उनके कई मुद्दे हैं, जो बिजली, सड़क और पानी के साथ-साथ स्वास्थ्य एवं बेहतर शिक्षा से भी जुड़ी है. वह अपने क्षेत्र के लोगों को उद्यमी बनाना चाहते हैं. यहां के किसानों को ऑनलाइन ट्रेड के जरिये ज्यादा मुनाफा कमाना सिखाना चाहते हैं. अपनी मातृभाषा, जो आठवीं अनुसूची में भी शामिल है और एक समृद्ध भाषा है, उसके विकास के लिए काम करना चाहते हैं. झारखंड के पैडमैन हरलाखी विधानसभा के हर गांव में पुस्तकालय और हर पंचायत में व्यायामशाला चाहते हैं.

मंगेश कहते हैं कि वह अपने प्रतिद्वंद्वियों को कड़ी टक्कर दे रहे हैं. वह लोगों को बता रहे हैं कि जातीय समीकरण के आधार पर अब तक आपने वोट किया है, इस बार विकास के लिए वोट करें. अपने और क्षेत्र की बेहतरी के लिए वोट करें. बेनीपट्टी प्रखंड के खुटौना गांव के मूल निवासी मंगेश ने कई सालों तक देश के टॉप होटल्स में काम करने के बाद वर्ष 2014 में नौकरी छोड़ दी. गांव की महिलाओं और बच्चों के जीवन स्तर में सुधार के लिए काम करने लगे.

रामकृष्ण परमहंस की शिक्षा और स्वामी विवेकानंद के विचारों से प्रभावित झारखंड के पैडमैन मंगेश विधानसभा चुनाव के मैदान में कूद पड़े हैं. बिना किसी राजनीतिक अनुभव के वह अपने विरोधियों के खिलाफ प्रचार अभियान चला रहे हैं. अपने मुद्दे लोगों को बता रहे हैं. मंगेश कहते हैं कि स्वामी विवेकानंद ने कहा था, ‘उठो, जागो और तब तक मत रुको, जब तक अपनी मंजिल को हासिल न कर लो.’ वह इसी सिद्धांत पर चलते हैं. चुनाव में जीत-हार की चिंता नहीं है. वह लोगों को जगाने निकले हैं और इस काम को वह बखूबी कर रहे हैं.

घर-घर जाकर लोगों को वोट के महत्व के बारे में बता रहे हैं मंगेश झा.
घर-घर जाकर लोगों को वोट के महत्व के बारे में बता रहे हैं मंगेश झा.
Prabhat Khabar

महज 33 साल के मंगेश झा ने जो शपथ पत्र दायर किया है, उसमें उन्होंने बताया है कि उनके पास 2,40,000 रुपये नकद हैं. बैंक ऑफ इंडिया में उनका एक खाता है, जिसमें 46,748 रुपये जमा हैं. उन्होंने अपने पैन कार्ड का विवरण शपथ पत्र में दिया है, लेकिन पिछले पांच साल में उन्होंने आयकर रिटर्न फाइल नहीं किया है. उनके पास न तो सोना-चांदी है, न ही कृषि भूमि. खुटौना गांव में 1,900 वर्गफीट जमीन है, जिसमें से 300 वर्ग फीट में मकान बना हुआ है. यह उनकी पुश्तैनी जमीन है. इसकी कीमत उन्होंने 3,00,000 रुपये बतायी है.

माहवारी के दौरान बच्चियों और महिलाओं को स्वच्छता का पाठ पढ़ाने वाले झारखंड के पैडमैन अब राजनीति के मैदान में कूद चुके हैं.
माहवारी के दौरान बच्चियों और महिलाओं को स्वच्छता का पाठ पढ़ाने वाले झारखंड के पैडमैन अब राजनीति के मैदान में कूद चुके हैं.
Facebook

होटल मैनेजमेंट की डिग्री रखने वाले मंगेश ने अपनी कमाई का जरिया स्वरोजगार को बताया है. उनकी पढ़ाई पश्चिम बंगाल से हुई. मैट्रिक की परीक्षा वर्ष 2004 में पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर स्थित डीएवी मॉडल स्कूल से पास की. वर्ष 2006 में दुर्गापुर के ही सीआरपीएफ कैंप स्थित केंद्रीय विद्यालय से 12वीं की परीक्षा पास की. इसके बाद होटल मैनेजमेंट की डिग्री ली और देश के कई बड़े होटलों में नौकरी की. बाद में नौकरी छोड़कर सामाजिक कार्यकर्ता बन गये.

हरलाखी विधानसभा से प्लुरल्स पार्टी के टिकट पर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे मंगेश बेनीपट्टी थाना अंतर्गत खुटौना गांव के रहने वाले हैं. हरलाखी विधानसभा के ही मतदाता हैं. फेसबुक और ट्विटर पर सक्रिय हैं. इस विधानसभा सीट पर उनका मुकाबला सत्तारूढ़ दल जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के 34 साल के सुधांशु शेखर और विपक्षी महागठबंधन के घटक दल भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के 76 साल के राम नरेश पांडेय से है.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें