झारखंड : सरकार के कैबिनेट का हिस्सा बन रहा है सदन : हेमंत

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रांची : नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने कहा कि सदन आॅर्डर में नहीं है, फिर भी कार्यवाही चल रही है. यह संसदीय प्रणाली का नया चेहरा देखने को मिल रहा है. सदन की गरिमा समाप्त हो रही है.
अपने राजनीतिक जीवन में पहली बार इतना लाचार, निरीह लोकतंत्र देख रहा हूं. सदन सरकार के कैबिनेट का हिस्सा बनता जा रहा है. श्री सोरेन विधानसभा की कार्यवाही समाप्त होने के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे. कहा कि पिछले सत्र में सदन नेता ने अमर्यादित शब्द का प्रयोग किया था. इसे लोगों ने यू-ट्यूब, फेसबुक व ‌वाट्सएप पर देखा. फिर भी कार्रवाई नहीं हुई. इस संबंध में जब विधानसभा सचिवालय से प्रोसिडिंग मंगायी जाती है, तो कहा जाता है कि सदन नेता ने ऐसी बात नहीं कही है. आज दिल्ली से रांची तक न्याय देनेवाले न्याय मांग रहे हैं. आज जालियांवाला बाग की स्थिति उत्पन्न हो गयी है. लोकतंत्र को आघात पहुंच रहा है. हम बड़ी क्रांति की ओर बढ़ रहे हैं.
उन्होंने कहा कि सरकार ने राज्यपाल से झूठ का पुलिंदा पढ़ाया. राज्यपाल का भाषण उन्हीं अफसरों ने तैयार किया है, जिन पर गंभीर आरोप हैं. जो लोग सत्ता में हैं, खुद को भगवान समझ रहे हैंं. पदाधिकारियों ने इन्हें अपने मकड़जाल में फांस लिया है. इससे निजात मिलना मुश्किल है. चुनाव आयोग के आदेश के बाद एडीजी के खिलाफ कार्रवाई नहीं हो रही है. सरकार दलदल में फंस चुकी है.
निर्दलीय विधायकों के निशाने पर रहे हेमंत : राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने निर्दलीय विधायकों पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी. इसके बाद वे सदन से वॉकआउट कर निकल गये.
जिस वक्त श्री सोरेन ने ये बातें कही उस वक्त कुशवाहा शिवपूजन मेहता अपनी बात रख रहे थे. इस पर सदन में मौजूद निर्दलीय विधायक भानुप्रताप शाही भड़क उठे. उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष के कथन को प्रोसीडिंग से हटाया जाये. कहा कि जनता ने हमें चुन कर भेजा है. हम अपना निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र हैं. कोई कैसे तय कर सकता है कि हम क्या करें और क्या नहीं करें. यह हमारा अधिकार है. आज नेता प्रतिपक्ष निर्दलीय पर टिप्पणी कर रहे हैं, जबकि उन्हें स्मरण करना चाहिए कि हमारे ही वोट से उनके कई सदस्य राज्यसभा पहुंचे हैं. शिवपूजन मेहता ने भी हेमंत सोरेन के कथन पर आपत्ति जतायी है. कहा कि हम सरकार से अपनी बात रख रहे हैं. इसमें नेता प्रतिपक्ष को आपत्ति नहीं होनी चाहिए.
भूख से मौत होने पर जवाब दे सरकार
विधायक राजकुमार यादव ने कहा कि सरकार उपलब्धियां गिना रही है. वहीं राज्य में सात लोगों की भूख से मौत हो गयी. इस पर सरकार को जवाब देना चाहिए. आधार के नाम पर लोगों का नाम राशन कार्ड से हटाया जा रहा है. मुख्य सचिव पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं और सरकार चुप है. अगर यही रवैया रहा तो सरकार को रसातल में जाने से कोई नहीं रोक सकता है.
मुद्दा विहीन हो गया है विपक्ष
विधायक विमला प्रधान ने कहा कि विपक्ष मुद्दा विहीन हो गया है. सदन को बाधित करने का काम कर रहा है. पहले स्थानीय नीति व सीएनटी-एसपीटी को लेकर सदन को बाधित किया. सीएनटी-एसपीटी के नाम पर अफवाह फैला कर विपक्ष वोट बैंक की राजनीति कर रहा है.
हुसैनाबाद के 20 गांवाें में नहीं पहुंची बिजली : विधायक शिवपूजन मेहता ने कहा कि सरकार 31 दिसंबर तक राज्य के सभी गांवों में बिजली पहुंचाने का दावा कर रही है. वहीं हुसैनाबाद विधानसभा क्षेत्र के 20 गांव ऐसे हैं, जिनमें बिजली नहीं पहुंची है. अधिकारी गलत जानकारी देकर सरकार को भ्रमित कर रहे हैं.
डोभा से बढ़ा जलस्तर, खेतों में आयी हरियाली : विधायक जानकी यादव ने कहा कि सिंचाई के क्षेत्र में सरकार की ओर से कई कदम उठाये गये. इसमें डोभा निर्माण शामिल है. डोभा के निर्माण से जलस्तर बढ़ा है. खेतों में हरियाली आयी है. उन्होंने कहा कि कई पुरानी सड़कें जर्जर हो गयी हैं, इन्हें ठीक करने की जरूरत है.
रांची : राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान विधायक राधाकृष्ण किशोर ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जब भी इन्हें सत्ता मिली, राज्य को लूटने का काम किया गया. इस पर वेल में बैठे कांग्रेसी विधायक इरफान अंसारी ने चुटकी लेते हुए कहा कि यह मत भूलिए कि आप भी कांग्रेस से ही आये हैं.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें