1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. pakur
  5. husband kidnapped wife and daughter in family dispute police freed from barmasiya village of pakur smj

पारिवारिक विवाद में पति ने पत्नी और बेटी का किया अपहरण, पाकुड़ के बरमसिया गांव से पुलिस ने कराया मुक्त

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पारिवारिक विवाद में पति ने पत्नी और बेटी का किया अपहरण. पुलिस ने कराया मुक्त.
पारिवारिक विवाद में पति ने पत्नी और बेटी का किया अपहरण. पुलिस ने कराया मुक्त.
फाइल फोटो.

Jharkhand Crime News (अमड़ापाड़ा, पाकुड़) : झारखंड के पाकुड़ जिला अंतर्गत अमड़ापाड़ा थाना क्षेत्र के बरमसिया गांव में एक महिला को अपहरण कर घर में रखने का मामला सामने आया है. महिला का अपहरण कर बरमसिया गांव में रखने की जानकारी मिलते ही अमड़ापाड़ा पुलिस ने सोमवार को बरमसिया गांव पहुंची और अपहृत महिला सहित उसकी बेटी को छुड़ाकर थाना लाया गया है.

मिली जानकारी के अनुसार, अमड़ापाड़ा थाना क्षेत्र के बोहड़ा गांव निवासी रुपामुनी सोरेन का अपहरण कर बरमसिया गांव के ग्राम प्रधान के घर रखने की जानकारी अपहृत महिला की मां ने पुलिस को दी. सूचना मिलने के बाद प्रभारी थाना प्रभारी संतोष कुमार पुलिस बल के साथ बरमसिया गांव पहुंचे और अपहृत महिला को छुड़ा कर थाना लाये. पारिवारिक विवाद को लेकर पति ने पत्नी समेत बेटी का अपहरण किया था.

क्या है मामला

इस संबंध में अपहृत महिला रुपामुनी सोरेन ने थाना में लिखित शिकायत की है. जिसमें उसने उल्लेख किया है कि पाकुड़ निवासी पंकज चौधरी के पुष्पम ब्यूटी पार्लर में पीड़ित महिला काम करती है. उसने धनुषपूजा के समीप जमीन खरीदी है. जमीन का कागजात देने के लिए पंकज चौधरी ने उसे 17 जुलाई को सुबह लगभग 10 बजे लड्डू बागान बुलाया.

जैसे ही वह और उसकी बेटी बागान पहुंची, तो देखी कि पति जोगेश मरांडी, ब्यूटी पार्लर के मालिक पंकज चौधरी समेत पांच अन्य लोग वहां पहले से पहुंचे हुए थे. यहां पहुंचने पर मां-बेटी को ये लोग जबरन गाड़ी में चढ़ाने लगे. गाड़ी में नहीं चढ़ने पर जान से मारने की धमकी दी. दोनों को जबरन गाड़ी में बिठा कर पति जोगेश मरांडी पेनम लिंक रोड से होते हुए बरमसिया गांव ले गये. गांव पहुंचने पर ग्राम प्रधान राजेश मरांडी के पास बंधक बनाकर रखा गया. किसी तरह दूसरे के मोबाइल से अपनी मां को अपने अपहरण होने और बरमसिया गांव में होने की जानकारी दी. जिसके बाद पुलिस ने यहां आकर मुक्त कराया.

उसने आवेदन में यह भी उल्लेख किया है कि ब्यूटी पार्लर मालिक पंकज चौधरी बार-बार अमड़ापाड़ा निवासी कार्तिक रजक के साथ पहले से चल रहे मेरे केस को खत्म करने के लिए मजबूर करते रहता था. मेरे अपहरण में उसका भी हाथ है. उसने यह भी उल्लेख किया है कि मेरी स्कूटी तथा मोबाइल भी जोगेश मरांडी के पास छिन कर रखा गया है. इस मामले में एसआई संतोष कुमार ने बताया कि आवेदन प्राप्त हुआ है. आवेदन को नगर थाना फारवर्ड कर दिया गया है और महिला को बरामद कर नगर थाना को सुपुर्द कर दिया गया है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें