1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. latehar
  5. 4 year old vatsalya life is in danger eye cancer family appeals to cm hemant soren for help srn

4 साल के वात्सल्य की जिंदगी पर खतरा, आंखों का है कैंसर, सीएम हेमंत से परिवार ने लगायी मदद की गुहार

लातेहार का रहने वाला 4 साल का वात्सल्य आंखों की कैंसर से जूझ रहा है और ये चौथे स्टेज पर है. इसका पता तब चला जब उनका परिवार कश्यप मेमोरियल आई हॉस्पिटल पहुंचा. अब वो लोग सीएम हेमंत सोरेन से मदद की गुहार लगा रहे हैं

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
चार साल के वात्सल्य को आंख का कैंसर, मुख्यमंत्री से मदद की गुहार
चार साल के वात्सल्य को आंख का कैंसर, मुख्यमंत्री से मदद की गुहार
Prabhat Khabar

लातेहार : लातेहार निवासी चार साल का वात्सल्य जिंदगी और माैत से लड़ रहा है. बच्चे की आंख में कैंसर है. इससे उसकी जिंदगी संकट में पड़ गयी है. बच्चे की बामारी का पता तब चला, जब वह कश्यप मेमोरियल आई हॉस्पिटल पहुंचा. अस्पताल में आने पर विट्रियो रेटीना सह पीडियाट्रिक नेत्र विशेषज्ञ डॉ विभूति कश्यप ने जब उसकी आंख की एमआरआइ जांच की तो कैंसर के चौथे स्टेज की जानकारी मिली. अब बच्चे को रेडियोथैरेपी एवं कीमोथैरेपी के लिए एम्स (दिल्ली) रेफर किया गया है.

परिजनों का आरोप है कि आंख में समस्या होने पर बच्चे को रांची के एक अन्य क्लिनिक में दिखाने के लिए ले गये थे, लेकिन वहां उसे आंखों के अंदर की सूजन बताते हुए इलाज कराने के लिए भुवनेश्वर रेफर कर दिया गया था. अगर आंख में ट्यूमर की जानकारी समय रहते मिल गयी हाेती, तो आयुष्मान भारत योजना से कश्यप मेमोरियल आई अस्पताल में मुफ्त में इलाज करा लेते.

इससे बच्चे की जान बच जाती है, क्योंकि तब ज्यादा देर नहीं हुई थी. परिजनों ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से आग्रह किया है कि उनके बच्चे का इलाज दिल्ली में कराने की व्यवस्था करायें. डॉ विभूति ने बताया कि बच्चे का कैंसर ब्रेन तक पहुंच चुका है. सर्जरी से पहले रेडियोथैरेपी और कीमोथैरेपी की जरूरत है. अगर वह समय पर आया होता तो सिर्फ आंख के इलाज से जान बच जाती.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें