1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. jharkhand news hazaribagh municipal commissioner deadly attack officers are targeted in the matter of preventing corruption smj

हजारीबाग नगर आयुक्त माधवी मिश्रा पर जानलेवा हमला, भ्रष्टाचार रोकने के मामले में निशाने पर हैं अधिकारी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News : हजारीबाग झील स्थित नगर आयुक्त माधवी मिश्रा के सरकारी आवास पर अज्ञात हमलावरों
ने फेंका पत्थर. टूटा शीशा. बाल-बाल बची अधिकारी.
Jharkhand News : हजारीबाग झील स्थित नगर आयुक्त माधवी मिश्रा के सरकारी आवास पर अज्ञात हमलावरों ने फेंका पत्थर. टूटा शीशा. बाल-बाल बची अधिकारी.
प्रभात खबर.

Jharkhand News, Hazaribagh News, हजारीबाग : हजारीबाग नगर निगम (Hazaribagh Municipal Corporation) में भ्रष्टाचार पर अंकुश लगानेवाली आइएएस अधिकारी नगर आयुक्त माधवी मिश्रा (Madhavi Mishra, Municipal Commissioner) पर जानलेवा हमला हुआ है. नगर आयुक्त के झील स्थित सरकारी आवास पर अज्ञात हमलावरों ने पत्थर फेंक कर हमला किया है. जिससे नगर आयुक्त बाल-बाल बच गयी. घटना 6 जनवरी की रात है. उस वक्त वह आवास की बालकोनी में मोबाइल से बात कर रही थी.

2 हमलावर एक मोटरसाइकिल पर सवार होकर आवास के पीछे से सामने आकर पत्थर फेंकने लगे. लगभग 10 बड़े आकार के पत्थर फेंके गये, जिससे बेडरूम के खिड़की का शीशा टूट गया है. शीशा टूटने की आवाज सुन कर जब तक सुरक्षाकर्मी गेट के बाहर निकलते, तब तक मोटरसाइकिल से हमलावर भाग गये. नगर निगम में कई बड़ी योजनाओं से भ्रष्टाचार रोकने और बड़ी कार्रवाई को लेकर आयुक्त को निशाना बनाया गया है.

नगर आयुक्त ने मामला दर्ज कराया

नगर आयुक्त माधवी मिश्रा के आवास पर पत्थर से हमला को लेकर लोहसिंघना थाना में मामला दर्ज किया गया है. नगर आयुक्त ने एफआइआर के लिए एसपी हजारीबाग को दिये आवेदन में कहा है कि अज्ञात व्यक्तियों द्वारा मेरे आवास पर पत्थरबाजी की गयी, जिससे आवास क्षतिग्रस्त हुआ है. हमलावरों की मंशा जानमाल की क्षति पहुंचाने की थी. मामले की खोजबीन कर दोषियों पर कार्रवाई की जाये. आवास पर सुरक्षा की दृष्टि से पर्याप्त सुरक्षाबल तैनात और पेट्रोलिंग बढ़ाई जाये.

नगर आयुक्त के कार्यों से मचा है हडकंप

हजारीबाग नगर निगम बनने के बाद पहली बार एक आइएएस (IAS) को नगर आयुक्त का प्रभार मिला है. आइएएस के रूप में पहली पोस्टिंग हजारीबाग नगर निगम में माधवी मिश्रा की हुई है. नगर निगम में व्याप्त भ्रष्टाचार और कार्य संस्कृति में मात्र 6 माह में ही बदलाव लाने में सफल हुई है. निगम की करोडों लागत की सैकडों लंबित योजनाएं धरातल पर उतरने लगी हैं. निगम बोर्ड की बैठक जो वर्षों से लंबित थी. मेयर, उपमेयर और नगर पार्षदों के बीच गुटबाजी को समाप्त कर बोर्ड की बैठक को नियमित कराने में सफल हो गयी. करोडों का भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाया. कई योजनाओं में हुए भ्रष्टाचार की फाइल की जांच भी शुरू कर दी है. इससे कई लोगों में हडकंप मच गयी है. भ्रष्टाचार पर SIT टीम जांच की अनुशंसा न कर दे. इसलिए नगर आयुक्त को निशाना बनाया जा रहा है.

जल्द गिरफ्त में होंगे दोषी : एसपी

हजारीबाग एसपी कार्तिक एस ने कहा कि नगर आयुक्त के आवास पर हमला का मामला दर्ज कर पुलिस ने छापामारी दल गठित किया है. घटना में दोषियों की पहचान व धरपकड के लिए अभियान चलाया जा रहा है.

भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई रहेगी जारी : नगर आयुक्त

इस संबंध में नगर आयुक्त माधवी मिश्रा ने कहा कि आवास पर हमला प्रायोजित प्रतीत होता है. लेकिन, मैं ईमानदारी से भ्रष्टाचार को रोकने की कार्रवाई करती रहूंगी. सरकार की योजनाओं में भ्रष्टाचार नहीं होने दूंगी.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें